Flipkart और Amazon के Festival सीजन सेल को बैन करने की उठी मांग

Traders के संगठन CAIT ने सरकार से अपील की है वो Flipkart और Amazon पर पाबन्दी लगाये आने वाले Festive Season में भारी discount देने पर क्यूंकि ये FDI नियमों के खिलाप है.

2

Amazon and Flipkart festival sales Ban Hindi

कुछ दिनों पहले ही फ्लिपकार्ट ने अपने बिग Festival सीजन सेल शुरू होने की तारीख कि घोषणा की थी। इस घोषणा के कुछ दिनों बाद ही CAIT (Confederation of All India Traders) ने लगभग सभी ईकॉमर्स वेबसाइट के फेस्टिवल सीजन पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने कि मांग की है। अभी तक एमेजॉन ने अपने फेस्टिवल सीजन सेल कि तारीखों की घोषणा नहीं की है।

फ्लिपकार्ट ने कुछ दिनों पहले ही दिवाली और दशहरा फेसिवल पर होने वाले अपने 6 दिनों की वार्षिक सेल कि घोषणा करते हुए बताया कि इस साल बिग सेल 29 सितम्बर से शुरू होगी। जबकि एमेजॉन के तरफ से घोषणा करना बाकी है। इन त्योहारों के दौरान भारतीय लोग सबसे ज्यादा खरीदारी करते हैं इसलिए इन्ही मौकों पर सभी ईकॉमर्स प्लेटफार्म ग्राहकों को भारी छूट देकर उनको लुभाने कि कोशिश करते हैं।

वाणिज्य और उद्योग मंत्री पियूष गोयल को लिखे एक पत्र में CAIT ने कहा, “अपने ई-कॉमर्स पोर्टल्स पर 10% से लेकर 80% तक की गहरी छूट देकर, ये कंपनियां स्पष्ट रूप से बाज़ारी कीमतों को प्रभावित कर रही हैं और इस क्षेत्र को असमतल स्तर तक ले जा रही है।” CAIT ने कहा कि कीमतों पर भारी छूट स्पष्ट रूप से foreign direct investment नियमों के खिलाफ है।

व्यापारियों के निकाय ने ये तर्क दिया कि, “चूंकि ये ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म खुले तौर पर एफडीआई मानदंडों की धज्जियां उड़ा रहे हैं, ऐसे त्योहारों की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने का आदेश दिया जाना चाहिए और इस बात की जांच की जानी चाहिए कि कैसे ये कंपनियां एफडीआई मानदंडों का पालन कर रही हैं और उसके अनुसार उनके खिलाफ कड़ी करवाई की जानी चाहिए।

CAIT ने ये भी लिखा कि, “एफडीआई नीतियों के विपरीत, ई-कॉमर्स पोर्टल गहराई से बी2सी व्यवसाय में लगे हुए हैं और बी2बी व्यापार की मात्रा लगभग शून्य है। जबकि एफडीआई नीतियों के अनुसार, बाज़ार प्रदान करने वाली ई-कॉमर्स प्लेटफार्म प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष रूप से वस्तुओं की बिक्री को प्रभावित नहीं करेंगी।

इस प्रकार के भरी discount देने के ऊपर आप लोगों का क्या मत है हमें comments पर जरुर बताएं.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here