Access Point

    0

    Access Point एक ऐसा डिवाइस होता है, जैसे की एक वायरलेस राऊटर, जो की वायरलेस डिवाइसेस को किसी नेटवर्क के साथ कनेक्ट होने में मदद करता है. ज्यादातर ऐसेस पॉइंट्स के बिल्ट इन राऊटर होते हैं, वहीँ दूसरों को किसी राऊटर के साथ कनेक्ट होना पड़ेगा नेटवर्क एक्सेस प्रदान करने के लिए. किसी भी केश की बात करें, एक्सेस पॉइंट को त्य्पिकाल्ली हार्ड वायर्ड किया जाता है दुसरे डिवाइसेस के साथ, जैसे की नेटवर्क स्वित्चेस या ब्रॉडबैंड मॉडेम.

    एक्सेस पॉइंट को आप कहीं पर भी देख सकते हैं चाहे वो घर हो, बिज़नस, यहाँ तक की पब्लिक जगहों में भी. ज्यादातर घरों में, ये एक्सेस पॉइंट एक वायरलेस राऊटर ही होता है, जिसे की एक डीएसएल या केबल मॉडेम के साथ कनेक्ट किया गया होता है. लेकिन वहीँ कुछ मॉडेम में वायरलेस की सुविधा भी होती है, जिससे वो मॉडेम को ही एक एक्सेस पॉइंट बना देती है.

    बड़े व्यवसायों में बहुत सारे एक्सेस पॉइंट प्रदान किये गए होते हैं, जिससे कर्मचारी आसानी से विरेलेस्स्ली ही केंद्रीय नेटवर्क से कनेक्ट हो सकें, वो भी किसी भी लोकेशन से (लोकेशन की रेंज बढ़ जाती है ). पब्लिक एक्सेस पॉइंट आपको किसी भी दुकानों, कॉफी की दुकानों, रेस्तरां, पुस्तकालयों और दुसरे लोकेशन में आसानी से मिल सकता है. कुछ स्मार्ट सहरों में तो पब्लिक (सार्वजनिक) एक्सेस पॉइंट्स भी प्रदान किये जाते हैं वायरलेस ट्रांसमीटर के रूप में जिसे की स्ट्रीटलाइट्स, संकेत, और दुसरे सार्वजनिक वस्तुओं के साथ कनेक्ट किया गया होता है.

    जहाँ एक्सेस पॉइंट का इस्तमाल इन्टरनेट को विरेलेस्स्ली एक्सेस करने के लिए किया जाता है वहीँ कुछ को केवल किसी बंद नेटवर्क को एक्सेस देने के लिए भी किया जाता है. उदहारण के लिए, एक बिज़नस अपने कर्मचारियों को सिक्योर एक्सेस पॉइंट प्रदान कर सकते हैं जिससे की बेतर ही फाइल्स को एक्सेस कर सकें एक नेटवर्क सर्वर से. ज्यादातर एक्सेस पॉइंट वाई-फाई एक्सेस प्रदान करते हैं, लेकिन एक एक्सेस पॉइंट के लिए ये मुमकिन है की वो किसी ब्लूटूथ उपकरण या कोई दूसरा प्रकार का वायरलेस कनेक्शन की और refer कर सकता है. लेकिन ज्यादातर एक्सेस पॉइंट का मुख्य उद्देश्य होता है कनेक्टेड यूजर को इन्टरनेट एक्सेस प्रदान करें.

    ये term “एक्सेस पॉइंट” को अक्सर “बेस स्टेशन ” का एक पर्यावाची शब्द के तोर पर इस्तमाल किया जाता है, लेकिन तकनिकी दृष्टी से देखा जाये तब बेस स्टेशन केवल वाई-फाई उपकरणों के लिए ही उपयुक्त है. इसे WAP (या वायरलेस एक्सेस पॉइंट) भी कहा जाता है. लेकिन WAP का इस्तमाल आमतोर पर नहीं किया जाता जैसे की AP (एक्सेस पॉइंट) का किया जाता है.

    « Back to Wiki Index
    Previous articleAccess
    Next articleAccessibility
    नमस्कार दोस्तों, मैं Prabhanjan, HindiMe(हिन्दीमे) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Enginnering Graduate हूँ. मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :) #We HindiMe Team Support DIGITAL INDIA