Hindi Me Jankari YouTube Channel
Home Secondary Memory

Secondary Memory

Secondary memory ऐसे storage devices को refer किया जाता है, जैसे की hard drives और solid state drives. वहीँ ये दुसरे removable storage media को भी refer किया जा सकता है, जैसे की USB flash drives, CDs, और DVDs.

Primary Memory के विपरीत, Secondary memory को directly access नहीं किया जा सकता है CPU के द्वारा. बल्कि data जो भी access किया जाता है secondary memory से उन्हें पहले load किया जाता है RAM में फिर उसे भेजा जाता है processor में. ऐसे में RAM एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है, चूँकि ये बहुत ही faster data access speed प्रदान करती है secondary memory की तुलना में. Primary Memory में directly software programs और files की loading करने से, computers बहुत ही तेजी से data process कर सकती हैं.

जहाँ secondary memory बहुत ही slower होता है primary memory की तुलना में, वहीँ ये typically offer करता है ज्यादा storage capacity.

उदाहरण के लिए, एक computer में one terabyte की hard drive होती है, लेकिन केवल 16 gigabytes की RAM. इसका मतलब ये भी है की computer में आपको करीब करीब 64 times ज्यादा secondary memory देखने को मिलेगी primary memory के मुकाबले.

वहीँ, secondary memory non-volatile होती हैं, इसका मतलब की इसमें data मेह्जुद होता है electrical power के बिना भी. वहीँ दूसरी ओर RAM में मेह्जुद data erase हो जाती है जब एक computer को shut down या restart किया जाता है तब. ऐसे में, secondary memory का इस्तमाल होता है store करने के लिए “permanent data,” जैसे की operating system, applications, और user files.

NOTE: Secondary memory को “secondary storage” भी कहा जाता है. वहीँ ये term थोडा confusing भी है क्यूंकि internal storage devices को भी बहुत बार “primary storage devices” से संबोधित किया जाता है.

« Back to Wiki Index
17,130FansLike
3,934FollowersFollow
668FollowersFollow
37,347SubscribersSubscribe