Hindi Me Jankari YouTube
Home HandShake

HandShake

अभी के real world में, एक handshake एक प्रकार का customary greeting होता है दो लोगों के बीच में. वहीँ उसी के ही समान एक computer handshake serve करता है एक greeting के तोर पर दो computer systems के बीच में. इसे commonly इस्तमाल किया जाता है एक network connection को initialize करने के लिए दो hosts के बीच में.

एक computer handshake को पूर्ण किया जा सकता है किसी दो systems के बीच में जो की एक दुसरे के साथ communicate करते हैं एक समान protocol में.

ये दो systems या तो एक client और server या फिर दो computers हो सकते हैं एक P2P network में. ये handshake confirm करते हैं connecting systems की identities को और वहीँ allow करते हैं additional communication होने के लिए उनके बीच में.

Handshaking एक network पर को commonly कहा जाता है एक 3-Way Handshake या “SYN-SYN-ACK.” वहीँ एक successful handshake में करीब सात steps शामिल होते हैं :

1. Host A send करता है एक synchronize (SYN) packet Host B को.

2. Host B receive करता है Host A के SYN request को.

3. Host B फिर send करता है एक synchronize acknowledgement (SYN-ACK) message Host A को.

4. Host A receive करता है Host B’s SYN-ACK message को.

5. Host A send करता है एक acknowledge (ACK) message को Host B.

6. Host B receive करता है Host A की ACK message को.

7. इससे दोनों systems के बीच में एक connection established हो जाता है.

जब एक system initiate करता है एक handshake, तब ऐसे में तिन possible outcomes हो सकते हैं :

1. No response – अगर system जो receive करता है handshake वो available ही न हो या वो support नहीं करता है हो उस protocol को जिसे की initiating system इस्तमाल करता है, ऐसे में ये request को respond भी नहीं करता है.

2. Connection refused – इसमें system जो की receive करता है handshake को वो available होता है और उस request को समझता भी है, लेकिन वो connection को deny कर देता है.

3. Connection accepted – इसमें system जो की receive करता है handshake वो available होता है, फिर receive करता है request, और फिर connection को accept भी करता है.

इसमें आखिर की या third outcome में ही केवल handshake पूर्ण होता है. वहीँ अगर एक handshake successful होता है, तब दोनों systems के बीच में डाटा की communication और transferring चालू हो जाती है इस established protocol में.

उदाहरण के लिए, protocols जो की handshaking का इस्तमाल करते हैं उनमें शामिल है TCP, TLS, और SSL.

« Back to Wiki Index
16,226FansLike
1,939FollowersFollow
460FollowersFollow
14,100SubscribersSubscribe

नए पोस्ट्स