SSL क्या है, कैसे काम करता है और कहाँ से ख़रीदे?

आज हम जानेंगे के, SSL Kya hai (क्या है)? कैसे काम करता है और हम इसे कहाँ से ख़रीदे? लाखों करोड़ो लोग हर दिन Internet का इस्तेमाल करते हैं. हर दिन कुछ न कुछ जानकारियां हासिल करते हैं, e-commerce site से सामान खरीदते हैं, online payment करते हैं, बहुत सारे site में अपना personal details देकर अपना account बनाते हैं और अलग अलग websites में sign in करते हैं. कभी हमने ये सोचा है, की हम जो अपना सारा details देते हैं चाहे वो अपना नाम हो, मोबाइल number हो, email address हो या फिर payment करते वक़्त हमारे card का details हो ये सभी जो हम details देते हैं internet पर, क्या ये सब दुसरे लोगों से जो hackers होते हैं या फिर जो इन सब चीजों का गलत इस्तेमाल भी कर सकते हैं, क्या उन सभी से सुरक्षित है? बहुत कम लोग ही ऐसा सोचते हैं.

हमारा सभी data या personal detail जो हम share करते हैं किसी भी site के साथ तो हमें एक सुरक्षित जोड़ ( secure connection) की बेहद जरुरत होती है जो हमारे details को third party से सुरक्षित रखेगा. अगर हमारा information सुरक्षित नहीं रहेगा तो वो चोरी हो सकता है. इसी परेशानी से बचने के लिए आज कल सारे website एक protocol का इस्तमाल कर रहे हैं जिसका नाम है SSL protocol. पर ये SSL kya hai (क्या है)? यही आज मै आपको इस लेख के जरिये बताउंगी की SSL kya hai और ये काम कैसे करता है?
SSL Kya Hai

SSL Kya Hai (क्या है) – What is SSL in Hindi

SSL का fullform है Secure Sockets Layer, SSL एक encryption protocol है जो Internet में इस्तेमाल किया जाता है. ये protocol internet browser और websites के बिच एक सुरक्षित संपर्क प्रदान करता है जो Internet users को अनुमति देता है की वो अपने private data को दुसरे website के साथ अदला बदली सुरक्षित रूप से कर सके. आज के वक़्त में लगभग सारे ही website SSL का इस्तेमाल कर रहे हैं. SSL protocol करोड़ो online business करने वाले लोग इसलिए इस्तेमाल कर रहे हैं ताकि वो अपने customers और उनके द्वारा किया जा रहा online transactions को प्रोटेक्ट कर सके और इसके इस्तेमाल से hacker के लिए नामुमकिन होगा की वो उस संपर्क के बिच से customer का data चुरा सके.
SSL Kya hai Hindi Me
जो website SSL का इस्तेमाल करते हैं उनका domain नाम जो होता है (जैसे www.hindime.net) उसके साथ एक बंद ताले का चित्र जुड़ा हुआ होता है जो की हमारे Internet browser के url में दीखता है और http के जगह https लिखा रहता है domain नाम के साथ, इससे पता चलता है की वो website पूरी तरह से सुरक्षित है. अगर कोई user उस ताले वाले चित्र के ऊपर click करे जो की address bar में दिखाई देता है तो वहाँ से जिस website को user देख रहा है उस website का SSL certification, identification और बाकि सारी information user को दिखा देता है. हर website का unique SSL certificate होता है.

With SSL: https://yoursite.com
Without SSL: http://yoursite.com

SSL को TLS (Transport Layer Security) protocol भी कहा जाता है. इसका इस्तेमाल सिर्फ website में ही नहीं बल्कि e-mail में और बाकि सभी जगह में इस्तेमाल किया जा सकता है. अगर कोई व्यक्ति e-commerce site चला रहा है तो उसे SSL का इस्तेमाल करना बहुत जरुरी है क्यूंकि इस site में customer से payment करने के लिए उनका सारा इनफार्मेशन लिया जाता है.

SSL Kaam Kaise Karta Hai (काम कैसे करता है)?

आपने जान लिया होगा के SSL kya hai (क्या है)? तो चलिए जानते है के ये काम कैसे करता है? SSL certificate दो तरह का key का इस्तेमाल करता है; एक है Public key और दूसरा है Private key. ये दोनों key एक साथ मिल कर सुरक्षित संपर्क बनाते हैं जिसके जरिये data सुरक्षित तरीके से share होता है.

जब हमें किसी विषय के बारे में कुछ जानना होता है या कुछ खरीदना होता है तो हम अपने web browser में किसी website का नाम लिखते हैं. उसके बाद web browser उस website के server के साथ जुड़ता है जो की SSL protocol का इस्तेमाल कर रहा होता है. User अपने browser से उस website के server को request करता है की वो अपनी पहचान दे. request देने के बाद web server अपने SSL certificate का कॉपी के साथ एक public key browser में भेज देता है. उसके बाद user उस certificate को check करता है जिससे की user ये तय कर सके की वो उस website के साथ अपने प्राइवेट data को share करने के लिए उस पर भरोसा कर सकता है या नहीं. check कर लेने के बाद जब user उस पर भरोसा करने का फैसला कर लेता है तो फिर से वो उसके server को एक encrypt message भेजता है.

Web server उस encrypt message को decrypt करता है उसके बाद वो browser को acknowledgement भेजता है की user के साथ SSL encryption शुरू किया जाये, उसके बाद user का प्राइवेट data browser और web server के बिच अदला बदली सुरक्षित ढंग से होता है जो पूरी तरह से confidential रहता है.

SSL Kahan Se Kharide (कहाँ से खरीदें)?

SSL का service बहुत सारे बड़े companies प्रदान करते हैं उनमे से कुछ के नाम हैं- GoDaddy, BigRock, HostGator etc. जब हम अपने website के लिए hosting server खरीदते हैं तो हमे वो hosting कंपनी भी SSL service प्रदान करते हैं जहाँ हम hosting खरीदने के साथ साथ अपने website के लिए SSL certificate भी खरीद सकते हैं जो हमारे website को सुरक्षित रखेगा. दिए गए companies से अगर हम SSL certificate खरीदते हैं तो हमें उसके दिए गए रकम को भरना होगा तभी जाकर हम उसका भरपूर लाभ उठा पाएंगे. लेकिन ऐसे भी बहुत से companies हैं जो SSL का services मुफ्त में प्रदान करते हैं. उनमे से एक का नाम हैं Let’s Encrypt, ये Internet Research Group का एक प्रोजेक्ट है जो मुफ्त में SSL certificate आम लोगों को प्रदान करता है. Let’s Encrypt का sponsor बहुत सारे companies कर हैं जैसे Google,Facebook, Mozilla, Cisco, etc.

अपने इसी लेख में जाना के SSL kya hai, kaise kaam karta hai aur SSL kahan se kharide? अगर आपको SSL से संबधित और कुछ जानकारी चाहिए, तो आप निचे comment कर सकते है.

loading...

30 COMMENTS

  1. Madamji mera nam Jecob hai, mai apne phone me cm security apps install kiye hai.us application me jakar hamne Vodafone me 3g networke test kiye na to waha per network connection per √ yani sahi ka Nisan lag gaya aur SSL secure per – minus ka Nisan lag gaya aur waha per dangerous likha ke aage me likhaya SSL highjack, message might be leaked. Aisa likha gaya abhi bhi aisa hi likha raha hai jabki pahle nahi likha raha tha, esliye madamji aap kuchh help kar dogi to aapki bahut meharbani hogi.thankyou… .aap chahogi to enka sujhao aap whatsapp per bhi bhej sakti ho no. 8677000893 madamji please help me.

    • Iska matlab unka SSL certificate valid nahin hai, ya fir apka browser purana hai.
      Agar ye site trusted hai to apka koi information leak nahin hoga.

  2. Sabina ji mera Ashok hai me apni ek music website banana chahata hun jisme audio video dono me apni website ke liye audio video kahan se laau kya me kisi bhi website se download kar ke apne website me uplaod kar sakta hun
    Please bataye.

    • Apne site me audio, video daalna illegal hai. Iske liye government apki site ban bhi kar sakta hai.

      Agar aap offshore hosting lete hai, to aap ye sab content daal sakte hai.

  3. my name is saloni mulathia.I am BCA student.
    Secure Socket layer ke bare m apne .. hindi m bhut acche se explain kiya h .. issue muge bhut help mili.
    Thanks you MDM.

  4. Hello sabina ji mera nam raj tamir hai mai ye janna chahta hu ki mai imo se bat karta hu jo ki ssl/tsl hai phir bhi mai dekhta ki aye din youtube me personal imo video aa rahi hai ye kaise aata hai aur ye certificate check kaise kiya jata hai
    Sukrya

    • SSL ka matlab ye nahin hota ke aap 100% secure hai.
      Mujhe jitna pata hai IMO encryption use karta hai apne chat aur videos ko secure rakhne keliye. Aise me agar private videos leak ho rahe hai, to iska ye matlab hai ke unka encryption itna strong nahin hai, ya fir jo chat karte hai wo video ko leak karte honge.

    • Most welcome Ashok. Keep visiting 🙂
      Agar apko tech related koi bhi jankari chahiye to aap yahan puch sakte hai. Hum pura kausis karenge apko wo samjhane ki.

  5. madam ji mere name Praveen mai 3year polytechnic ka student hu or mughe notes ki jarurat h kya aap mere help kar sakte ho ji

  6. Mam mene placement service k liye sigt banani hai…mene candidates se online forms fillup krwane kisi bhi post k liye…Yeh sab kese hoga

  7. सबिना जी मेरा नाम रन्जीत है मे पंजीकृत ब्यवसायी हु ,मे जब माल कि खरीद करता हु तो मुझे httpswww.biharcommarcialtax.gov.in पर जा कर परमिट बनाना परता है , जो अभी तक मेरा वकिल कर दिया करता था और बदले मे 100रु पर देना परता है, मे उस लिंक को अपने स्मार्टफोन मे किलिक कीया तो , your connection is not privet ये लिखा आता है तो कृप्या आप बिस्तार से बतायें ये लिंक काले खोला जाय

  8. Namsakar madam Mera Ek Qsn swal hai Mene Ek Blogger par website banai hai Us website ka name Me Dusra Rakhna Chahta hu kase badal sakata hu
    Please help

  9. नमस्कार मैडम ! मेरा नाम मनोज है और मेरी एक साईट ४बार turakhack team ने hack कर ली थी ! उसके बाद मैंने दूसरी डोमेन और होस्टिंग ली है , लेकिन अब मन में डर बैठा हुआ है की क्या साईट पर काम करूं या ना करूं ? क्या hackers से कोई भी वेबसाईट सुरक्षित नहीं है ? क्योंकि सुरक्षित करने के लिए हमे बहुत ज्यादा पैसे देने पड़ते हैं ! जो हम जैसे लोगों के लिए possible नहीं हो पाता ! मेरे मन में इस वक्त ५० सवाल उठ रहें हैं ! सबको यहाँ पूछ नहीं सकता ! बस २-4 का उत्तर दें दें की क्या
    २-STEP वैरिफिकेशन के बाद भी साईट हैक हो सकती है ?
    क्या कोई ओपन सोर्से सिक्योरिटी नहीं है
    क्या खुद की होस्टिंग या साईट लेने से अच्छा BLOGER.COM या वर्डप्रेस जैसी साईट के SUBDOMAIN जे जुड़ना सुरखित है ?
    सरकार HACKERS से हमारी सुरक्षा क्यों नहीं करती ?
    SQL इंजेक्शन से कैसे बचा जाए ?

    • Agar aap pirated theme ya plugin use karenge to hack hone ka jyada chances hai.
      Apko apka password strong rakhna hoga.
      Aur aap iTheme Security Plugin install kar lijiye.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here