Titan Submarine का क्या हुआ, समंदर की गहराई में?

Photo of author
Published:

हाल ही में Titan Submarine Ka Kya Hua को लेकर लोगों के मन में काफ़ी जिज्ञासा उत्पन्न हुई। ऐसा इसलिए क्यूँकि US Coast Guard के अनुसार, Titan Submarine जो की Titanic जहाज़ के मलबे को देखने जा रही थी वो एक बड़ी ही दुखद हादसे का शिकार हो चुकी है। यह Submarine को गुजरना पड़ा एक catastrophic implosion से जिससे इसके चितढ़े उड़ गए।

इस घटना के वजह से उस Titan Submarine के अंदर स्तिथ सभी लोगों की घटनास्थल में ही जान चली गयी। वहीं इस प्रकार के घटना से विश्वभर के diving community के बीच में शौक़ की छाया छा चुकी है। अभी भी बहुत से ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब अभी तक भी जानकारों को नहीं मिल पाया है। तो ऐसे में यदि आप भी जानना चाहते हैं Titan पनडुब्बी का क्या हुआ तब आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा। तो बिना देरी के चलिए शुरू करते हैं टाइटन सबमर्सिबल का क्या हुआ।

क्या हुआ Titan पनडुब्बी का?

June 16 को Titan पनडुब्बी ने अपने support ship के साथ यात्रा शुरू की St. John’s, Newfoundland, Canada से। वहीं दो दिन बाद इस पनडुब्बी ने North Atlantic Ocean में डुबकी लगायी वो भी Titanic की खोज में। लेकिन जैसे ही इस Submarine ने कुछ १०० फ़ीट नीचे गया इसका सम्पर्क ऊपर के support ship के साथ टूट गयी।

Titan Submarine Ka Kya Hua

जितने भी लोग सवार थे इस Titan पनडुब्बी में उन सभी का connection टूट गया बाहर की दुनिया के साथ। वहीं लगभग १०० घंटों के बाद उनका एक बड़ा हादसा (catastrophic implosion) हो गया जिससे की उन सभी को मृत घोषित कर दिया गया। बाद में उनकी पंडूबी का मलबा Titanic के मलबे के पास पाया गया।

Catastrophic Implosion क्या होता है?

Catastrophic Implosion का अर्थ होता है एक विनाशकारी विस्फोट। पानी के भीतर विनाशकारी विस्फोट का मतलब किसी जहाज के अचानक अंदर की ओर ढहने को संदर्भित करता है।

Titan के अंदरूनी पतन पर अत्यधिक दबाव रहा होगा क्योंकि Titanic का मलबा उत्तरी अटलांटिक महासागर की सतह से लगभग 13,000 फीट (लगभग 4,000 मीटर) नीचे है। जहिर तौर पर, गहरे समुद्र के पानी के भारी दबाव ने पनडुब्बी के कार्बन-फाइबर पतवार को कुचल दिया होगा।

Titan Submarine में विस्फोट क्यूँ हुआ?

ये तो आप सभी समझ टाइटन पनडुब्बी में कैटास्ट्रॉफिक इम्प्लोजन की वजह से हुआ था विस्फोट है। ये बात दुनिया भर के सभी एक्सपर्ट्स भी मानते हैं। वैसे तो इसका कारण अभी तक भी पता नहीं चला है लेकिन टाइटन पनडुब्बी के अंदर कुछ ऐसा हुआ कि उसने काम करना बंद कर दिया और वह इतने बुरी तरह से डैमेज हुई की वहीं टाइटैनिक के पास ही डूब गई।

जानकारों के अनुसार दो scenarios हो सकते हैं जिसके कारण की इस vessel का सम्पर्क टूट गया था। चलिए इसी के बारे में जानते हैं।

1. Titan में किसी प्रकार की ‘catastrophic implosion’ हुआ होगा

ऐसा हो सकता है की इस पनडुब्बी में किसी प्रकार का “catastrophic failure” हुआ होगा जिससे की इसमें किसी प्रकार का leak या power failure हुआ होगा। इसमें ऐसी भी संभावना है कि बिजली के शॉर्ट सर्किट से लगी छोटी सी आग ने वाहन के इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम को नुकसान पहुंचाया हो, जिसका उपयोग जहाज के नेविगेशन और नियंत्रण के लिए किया जाता है।

2. यह पनडुब्बी Titanic के मलबे से उलझी होगी

ये भी सम्भावना है की Titan पनडुब्बी जहाज़ समुद्र के तल के पास फंस गया हो। उदाहरण के लिए, यह टाइटैनिक के मलबे में उलझ गया होगा , जो लगभग 12,500 फीट पानी के नीचे है। आपको ये मालूम ही होगा की Titanic का मलबा समुद्र तल पर एक सदी से भी अधिक समय पहले ही महजूद है। तो हो सकता है की ये जहाज़ उससे उलझ गया होगा।

Titanic Submarine के Features क्या क्या थे?

अब चलिए जानते हैं Titanic Submarine के बारे में। Titanic Submarine का संचालन OceanGate Expeditions द्वारा किया गया था। इसका वजन 23,000 पाउंड था और यह कार्बन फाइबर और titanium से बना था। कंपनी के अनुसार, जहाज के पतवार की संरचनात्मक अखंडता की निगरानी के लिए सुरक्षा सुविधाएँ थीं।

Titan में ये सुविधा थी की यह प्रत्येक यात्रा में 96 घंटे के जीवन समर्थन करने में सक्षम था वो भी पांच वयस्कों का। minivan के आकार के सब में एक शौचालय था और यात्रियों को फर्श पर क्रॉस लेग करके बैठना पड़ता था। दिलचस्प बात यह है कि जहाज को एक गेमिंग कंट्रोलर द्वारा चलाया जा रहा था।

वैसे देखा जाए तो यह अपने आप में बहुत ही latest tech का इस्तमाल करता था। वहीं इसमें इस प्रकार के किसी भी हादसे को झेलने की क़ाबिलियत थी। फिर भी कुछ चीजें हम इंसान के हाथ में नहीं होती है, और इसलिए इस प्रकार के हादसे होने के सम्भावना बनी रहती है।

Titan Submarine में कौन कौन सवार थे?

Titan Submarine में कुल पाँच लोग सवार थे। इन लोगों में शामिल थे OceanGate CEO और founder Stockton Rush, French diver Paul-Henri Nargeolet, British businessman Hamish Harding, Pakistani billionaire Shahzada Dawood और उनका बेटा Suleman Dawood।

जीवित बचे लोगों की एक सप्ताह तक चली खोज के बाद US Coast Guard ने उनकी मौत की पुष्टि की, जिसने दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रभावित किया।

Titan Submarine को किस कम्पनी द्वारा तैयार किया गया था?

हाल ही में ही हादसे का शिकार हुए Titan Submarine को “OceanGate Expeditions” नामक एक कम्पनी द्वारा तैयार किया गया था। इस Submarine (पनडुब्बी) का वजन लगभग 23,000-pound था।

Titan Submarine में कुल कितने लोग सवार थे?

Titan Submarine में कुल 5 लोग सवार थे। जिसमें शामिल थे OceanGate expeditions के CEO, एक British billionaire adventurer, एक French diver और explorer, साथ में पाकिस्तान के एक बाप और बेटे की जोड़ी।

आज आपने क्या सीखा

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख Titan Submarine Ka Kya Hua जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को Titan Submersible Ka Kya Hua के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है।

इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं।

यदि आपको यह लेख Titan Submarine Story in Hindi पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये।

Leave a Comment