Computer Basic Knowledge in Hindi

जब भी किसी व्यक्ति से यह सवाल किया जाता है कि क्या आपको कंप्यूटर आता है? तो लोग इस सवाल का जवाब अक्सर यही देते कि हां मुझे कंप्यूटर आता है। लेकिन जब उनसे Basic Knowledge of Computer in Hindi के बारे में पूछा जाता है, तो वे अक्सर चुप हो जाते हैं।

हां यह बात बिल्कुल सही है कि आज कंप्यूटर बहुत सारे लोगों को आता है लेकिन Computer Fundamental in Hindi को बहुत ही कम लोग अपने ध्यान में रखते हैं। यह जानकारी ऐसी है कि इसे जाने बिना कोई भी व्यक्ति कंप्यूटर में एक्सपोर्ट नहीं बन सकता है।

इसीलिए अगर आप कंप्यूटर के विषय में गहन अध्ययन करना चाहते हैं या कंप्यूटर पर अपनी अच्छी पकड़ बनाना चाहते हैं तो आपको कंप्यूटर की basic knowledge होनी ही चाहिए तभी आप एक एक्सपोर्ट बन सकते हैं। कंप्यूटर के बारे में जनरल नॉलेज को हमने इस आर्टिकल में बहुत ही आसान शब्दों में बताया है, तो इसे पूरा जरूर पढ़ें।

कंप्यूटर क्या है और किस काम आती हैं” इस सवाल का जवाब बहुत अच्छी तरह से जानते होंगे। इसीलिए आगे बढ़ते हैं और ऐसी चीजों के बारे में जानते हैं जो शायद आपको ना पता हो।

Basic Knowledge of Computer in Hindi

कम्प्यूटर की बेसिक नॉलेज या की कम्प्यूटर के बारे में आम जानकारी होती है। आज के इस आधुनिक युग में जहां अधिकतर काम मशीन के द्वारा किया जाता है, वैसे में कम्प्यूटर का भी बहुत से जगहों में इस्तमाल किया जाता है।

computer basic knowledge hindi

इसलिए यहाँ पर हम ऐसे ही कुछ बहुत ही ज़रूरी कम्प्यूटर बेसिक नॉलेज इन हिंदी के बारे में आप लोगों को रूबरू कराएँगे।

कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है?

कंप्यूटर शब्द 8 Alphabets से मिलकर बना है। कंप्यूटर की फुल फॉर्म की बात करें तो कंप्यूटर का फुल फॉर्म Common Oriented Machine
Particularly United and used under Technical and Educational Research हैं।

कंप्यूटर कैसे काम करता है?

कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों डिवाइस के मदद से काम करता है। हार्डवेयर कंप्यूटर के उन पार्ट्स को कहते हैं जिन्हें हम physically touch कर सकते हैं और जिसके मदद से इंफॉर्मेशन व डाटा को कंप्यूटर को दे सकते हैं। CPU यानि central processing unit किसी भी हार्डवेयर का सबसे इंपॉर्टेंट पार्ट होता है। Hardware में

सॉफ्टवेयर कंप्यूटर का कोई physical part नहीं है, लेकिन सॉफ्टवेयर को दूसरे physical medium जैसे hard disk, CD, pen drive, ROM में आसानी से स्टोर किया जा सकता है। Software कंप्यूटर के उन programmes और instructions को कहते हैं, जिसकी मदद से कंप्यूटर का हार्डवेयर काम करता हैं।

Software कितने तरह का होता हैं?

कंप्यूटर में जिस सॉफ्टवेयर के समान हम सब करते हैं वह दो तरह का होता है।

1. System software
2. Applications software

System Software – System Software वे सॉफ्टवेयर होते हैं। जिसकी मदद से कंप्यूटर के ओवरऑल परफॉरमेंस और ऑपरेशन‌ को कंट्रोल किया जाता है। System software भी 4 तरह के होते हैं। इनके नाम है,

i. Operating System
ii. Device Drivers
iii. Language Processor
iv. Utility Software

Application Software – Application Software वो सॉफ्टवेयर होते हैं। जिसकी मदद से खास कामों को परफॉर्म किया जाता है। Application Software में MS word, MS Excel, MS power point आदि शामिल हैं।

Operating System क्या है?

Operating System ऐसा system हैं जो hardware और software के बीच समन्वय स्थापित करता है। Operating System के कारण ही हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सही तरह से काम करते हैं। Operating System दो तरह का होता है –

GUI – GUI का पूरा नाम Graphical User Interface है। ये कंप्यूटर के graphic system को दर्शाता हैं।

CUI – CUI का पूरा नाम character user interface हैं। इस ऑपरेटिंग सिस्टम में किसी भी काम को परफॉर्म करने के लिए कमांड देने होते हैं।

Computer के कितने Parts होते हैं?

Computer के अलग-अलग Parts के कारण ही कंप्यूटर किसी भी काम को सही तरह से पूरा करता हैं। कंप्यूटर से चार important Parts होते हैं –

Input device – Input device ऐसे डिवाइस होते हैं जिसकी मदद से डाटा और इंफॉर्मेशन को कंप्यूटर में डाला जाता है। Input device में Monitor, keyboard, mouse, camera आदि शामिल है।

Processing device – Processing device यह डिवाइस होते हैं जिसके मदद से किसी भी इंफॉर्मेशन या डाटा को एक्सिस या प्रोसेस किया जाता है। Processing device में CPU, memory और motherboard शामिल है।

Output device – ऐसे डिवाइस जो कंप्यूटर से प्रोसेस किए गए डाटा को रिसीव करके उसे दूसरे फॉर्म में बदल देता है, उसे Output device कहते हैं। Printer इस तरह के डिवाइस का सबसे बड़ा उदाहरण है।

Storage device – यह ऐसे डिवाइस होते हैं, जिसमें कंप्यूटर में प्रोसेस किए गए डाटा और इंफॉर्मेशन को स्टोर किया जाता हैं। इस तरह के device को Storage device कहा जाता हैं। इस डिवाइस में USB, Pen Drive, Memory Card, External Drives आदि शामिल होते हैं।

Computer Basic Keyboard Shortcuts in Hindi

अगर आप कंप्यूटर चलाते हैं! और आपको कंप्यूटर के keyboard के shortcut keys के बारे में जानकारी नहीं हैं। तो आप को कंप्यूटर आने का कोई मतलब नही हैं। इसीलिए नीचे हम आप को कुछ बहुत ही काम के keyboard short cut keys के बारे में बताने वाले हैं।

Alt + Tabइस shortcut key के मदद से किसी भी प्रोग्राम फाइल को minimize किया जा सकता है।
Alt + F4इस shortcut key का उपयोग कंप्यूटर बंद करने के लिए किया जाता है‌।
Window + Dइस shortcut key के मदद से सारे Tab को minimize किया जा सकता है।
F12इस shortcut key मदद से File को save किया जा सकता हैं।
Ctrl + Sइस shortcut key के मदद से file आसानी से save किया जा सकता है।
Ctrl + Nइस shortcut key के मदद से नया डॉक्यूमेंट ओपन किया जाता हैं।
Ctrl + DBookmark लगाने के लिए इस shortcut key का उपयोग किया जाता हैं।
Ctrl + Xइस shortcut key के मदद से किसी भी text को cut किया जा सकता हैं।
Ctrl + Aइस shortcut key के मदद से पूरे के पूरे text को सेलेक्ट किया जाता हैं।

कंप्यूटर के बारे में बेसिक जानकारी क्या है?

कंप्यूटर के सम्बंधित ऐसी जानकारी जो की बहुत ही आम हो, यानी की इसके विषय में सभी को पता होना चाहिए। ऐसी ही बेसिक जानकारी को कंप्यूटर बेसिक नॉलेज कहा जाता है।

कम्प्यूटर की खोज कब हुई?

1822 में Charles Babbage नें “डिफरेंशिअल इंजन” नाम के मैकेनिकल कंप्यूटर का आविष्कार किया था.

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों मैं उम्मीद करती हूं कि इस पोस्ट में बताई गई जानकारी कंप्यूटर Basic knowledge in hindi आप के काम आई होगी। अगर आपको हमारा यह काम पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना बिल्कुल ना भूलें।

हमारी हमेशा यही कोशिश रहती है कि पाठकों को अच्छी से अच्छी जानकारी एक ही पोस्ट में मिले जिससे रिसर्च करने में उनका ज्यादा समय वेस्ट ना हो। अगर आप कंप्यूटर के बारे में और जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो दूसरे आर्टिकल को भी जरूर पढ़ें मुझे पूरा यकीन है कि आपको उन पोस्ट से बहुत मदद मिलेगी। यह जानकारी आपको कैसी लगी, नीचे कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद।

Previous articleMetaverse क्या है जो बदल देगा इंटरनेट का वर्चुअल दुनिया
Next articleJio Phone Next कब लॉन्च होगा?
चन्दन इस हिंदी ब्लॉग के Founder हैं. वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है. अगर आपको ब्लॉगिंग या Internet जुड़ी कुछ जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है. हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अछे से अछे जानकारी मिले.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here