फेसबुक का आविष्कार किसने किया?

फेसबुक की खोज किसने किया? दोस्तों फेसबुक एक सोशल मीडिया app है. ये तो आप सब जानते हैं, इसके साथ में ये इंटरनेट के ऊपर चलने वाली मुफ्त सोशल मीडिया नेटवर्किंग सर्विस भी है. इसके माध्यम से हम एक दूसरे से बातचीत कर सकते हैं. फिर चाहे आप दुनिया के किसी भी कोने में क्यूँ ना हों.

इसमें आप अपने रिलेटिव, दोस्त, परिचित, से संपर्क कर सकते हैं यह हमें मुफ्त में साइनअप की सुविधा देता है. साथ में हम नए दोस्त बना सके उनके साथ sms, वीडियो इमेज, कॉलिंग के द्वारा सम्पर्क में रह सकते हैं.

फ़ेस्बुक की लोकप्रियता इतनी है कि क़रीब 2 बिलियन लोग हर महीने इसमें एक्टिव रहते है. क्या आप जानते हो कि इतनी सुविधा फ्री में देने वाले व्यक्ति कौन हैं. यदि आपको जानना है की Facebook का आविष्कार किसने किया और कब की थी तब आज का ये आर्टिकल आपको पूरा पढ़ना होगा.

फेसबुक क्या है?

facebook ka avishkar kisne kiya

फेसबुक एक अमेरिकी ऑनलाइन सोशल मीडिया और सोशल नेटवर्किंग साइट है. इसका मुख्यालय मैलोनो पार्क कैलिफोर्निया में स्थित है. इसका उपयोग इंटरनेट से कनेक्ट करके सभी डिवाइस, मोबाइल, टैबलेट, computer या डेस्कटॉप में कर सकते हो.

इसमें आप अपनी फ्री में प्रोफाइल (मतलब अपने बारे में जानकारी) बना कर कनेक्ट कर सकते हो दूसरे लोगों के साथ. आप इसमें अपने पोस्ट share कर सकते हो दूसरों के साथ. Facebook में बिजनेस पेज औए ग्रुप हैं जिसमें जुड़ कर आप अपना सामान ऑनलाइन बेच और खरीदने की शुविधा फेसबुक हमे free में देता है. फेसबुक के जरिये आप अपने फेसबुक दोस्तों की activity की नोटिफिकेशन भी चेक कर सकते हैं.

फेसबुक क्यूँ लोकप्रिय है?

डिज़िटल दौर में हर व्यक्ति किसी न किसी तरह ऑनलाइन में महजूद है. Facebook एक ऐसी जगह है जहाँ दुनियाभर में किसी से भी संपर्क आसानी से कर सकते हैं अपने विचार लेख, व इमेज के जरिये कॉलिंग वीडियो हो या audio सब सरल माध्यम से कनेक्ट कर सकते हैं.

यहाँ हर वक़्त मिलियन्स लोग एक्टिव रहते हैं यह दुनिया का एक मात्र जगह है जहाँ एक साथ मिलियन्स में लोग रहते हैं क्योंकि यह सदस्यता free में देता है किसी भी बिजनेस के लिए बड़ी मार्केटप्लेस जहाँ बिजनेस करने के लिए काफी संख्या में ऑडियास से जुड़ना बहुत आसान है घर बैठे बड़े स्तर पर बिजनेस बढ़ाने के लिए एक बहुत ही बड़ा डिजिटल मार्किट है.

फेसबुक का आविष्कार किसने किया?

फेसबुक के खोजकर्ता

फेसबुक का आविष्कार Mark Zuckerberg ने किया था. इस सोशल नेटवर्किंग सर्विस को उन्होंने सन 2004 में आविष्कार किया था. Mark Zuckerberg ने अपने कॉलेज हावर्ड यूनिवर्सिटी के roommate क्लासमेट दोस्तो Eduardo saverin,andrew McCullum, Dustin Moskowitz, Chris Hughes के साथ मिल कर बनाई थी.

शुरुआत में यह वेबसाइट केवल हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स के लिए ही शीमित थी. लेकिन बाद में इसको यूनाइटेड स्टेट और कनाडा अन्य बोस्टन एरिया के यूनिवर्सिटियो के लिए भी शुरू कर दी गयी.

2006 September में फेसबुक को पब्लिक के लिए कुछ नियमों के साथ अवेलेबल कर दिया गया. शर्त ये थी की एक वैलिड ईमेल और 13 वर्ष के ऊपर के लोग ही इसमें फ्री में साइनअप कर सकते हैं.

फेसबुक कब आविष्कार हुआ?

फेसबुक का आविष्कार फरवरी 2004 को मार्क जुकरबर्ग ने अपने चार दोस्तो के साथ अमेरिका में किया था.

फेसबुक का आविष्कार किस देश में हुआ?

फेसबुक का आविष्कार अमेरिका में हुआ था .

फेसबुक का इतिहास

जनवरी 2004 फेसबुक लांच हुआ यह तो हम जान गए हैं. किंतु यह कैसे शुरू हुआ अब यह भी जान लेते हैं. साल था फेसबुक की मुख्य निर्माता मार्क जुकरबर्ग ने 2003 में हावर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने के दौरान एक वेबसाइट बनाई facemash जो कि एक गेम की तरह थी जो ऑनलाइन खेली जाती थी जिसमे दो पहलू बताए जाते थे hot or not खेलने का नियम था.

इसको खेलने पर यह कंपेयर करके दो में से एक ऑप्शन बताती थी स्क्रीन पर दो फोटो होती थी जिसमे हॉट व्यक्ति को चुनने को कहा जाता था या बताने के का ऑप्शन रहता था फेसमास ने अपने शुरुआती 4 घंटे में लगभग 450 visiter को 2200 फोटो के परिणाम कंपेयर करके बता दिए जिसने उम्मीदों को और बढ़ा दिया.

वेबसाइट को अन्य जगह campus में भी भेजा गया किन्तु हार्वर्ड यूनिवर्सिटी ने ज़ुकेरबर्ग के ऊपर सुरक्षा नियमो का उलंघन, copyright violation, और व्यक्तिगत गोपनीयता का उल्लंघन करने के लिए वेबसाइट को बैन कर दिया.

हालांकि अंत मे सारे आरोपों से बरी कर दिए गए और फिर ज़ुकेरबर्ग ने अपना प्रोजेक्ट बना कर एक सोशल मीडिया टूल बना लिया और वेबसाइट में सारी images अपलोड कर दी और शेयर लाइक कॉमेंट का फीचर embed करके अपने दोस्त के साथ शेयर कर दिया पहली बार.

फिर आख़िर में तारीख आयी 2004 का जनवरी के महीना, मार्क Zuckerberg एक नई वेबसाइट के लिए कोड लिख रहे थे वेबसाइट थी “thefacebook” जो कि एक क्रिमसन की संपादकीय में facemash के बारे मे आने वाली add से ली गयी थी.

जिसके पीछे वजह थी कि विश्व भर को एक जगह एक साथ जोड़ने की जिसके लिए सारी तकनीकी ज़ुकेरबर्ग के पास थी और वो confident थे उन्होंने हार्वर्ड क्रिमसन से कहा कि कैंपस में universal फेसबुक नाम की बात चल रही है.

कॉलेज के स्टाफ़ कह रहे हैं उसको बनाने के लिए कुछ वर्षों का समय लगेगा किन्तु मुझे यह मूर्खतापूर्ण लग रहा है क्योंकि जिस काम को ये लोग वर्षो में करने के लिए कह रहे हैं उसको मैं हफ्ते भर में कर सकता हूँ.

इसके लिए इन्वेस्टमेंट की जरूरत थी जिसके लिए ज़ुकेरबर्ग ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के अपने दोस्त Eduardo saverin के साथ $1000 का इन्वेस्टमेन्ट वेबसाइट में करवाया और विवादों से शुरुआत फाइनली 4 फरवरी 2004 को thefacebook नाम से thefacebook.com लांच कर दी.

लेकिन 6 दिन के बाद ही हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के सीनियर छात्रों Cameron winkelewoss, tylor winklevoss, और divvy narendra के ज़ुकेरबर्ग पर मिसलीड करने का आरोप लगा दिया आरोप था कि जुगनबर्ग ने उन्हें कहा है कि वह एक सोशल नेटवर्क harvardconnection.com को बनाने में हेल्प करेंगे किन्तु मदद करने के बजाय हमारा आईडिया चुरा कर खुद के लिए use कर लिया.

जिसकी जांच शुरू की गई मुकदमा दर्ज करवा दिया 2008 में अंततः मामला कोर्ट से निपटा लिया गया ज़ुकेरबर्ग के फेसबुक में 1.3 मिलियन शेयर मिल गए जिसकी worth $300 मिलियन थी जो फेसबुक की मजबूती को दर्शा रहा था.

शुरुआत में फेसबुक में मेम्बरशिप restrict थी हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स के लिए फिर भी एक महीने के अंदर आधे से ज्यादा अंडरग्रेजुएट स्टूडेंट्स ने रजिस्टर लिया था .

 फेसबुक का नाम कैसे मिला?

2004 के मध्य में ज़ुकेरबर्ग के सह सलाहकार और napter के cofounder entrepreneur Sean parker फेसबुक के प्रेसिडेंड बने जून 2004 में कंपनी polo alto California शिफ्ट हुई.

यहाँ कंपनी को पहला इन्वेस्ट paypal कंपनी के cofounder peter theil ने किया और thefacebook ने अपना domain name us$ 200000 में खरीद कर the को हटा कर केवल facebook.com कर लिया facebook.com को खरीदा क्योकि यह domain नाम एक दूसरी कंपनी से aboutface corporation से सम्बंधित था.

फेसबुकk के कुछ रोचक तथ्य

अब चलिए Facebook के कुछ इंट्रेस्टिंग Facts के बारे में जानते हैं.

1. फेसबुक ने दावा किया है कि 2018 की रिसर्च के अनुसार उसके manthly 2.3बिलियन एक्टिव यूज़र्स है.

2. और वह पूरे विश्व मे सबसे ज्यादा डाऊनलोड होने वाला मोबाइल app था.

3. 2010 से November 18 2020 तक Alexa rank के आधार पर फेसबुक दुनियाभर में सबसे ज्यादा use करने में #6 वें नंबर
पर है.

4. Facebook के नीले रंग के होने का कारण फेसबुक के मुख्य निर्माता ज़ुकेरबर्ग की colorblind बीमारी है इस बीमारी की वजह से उन्हें हरे और लाल रंग का पता नही लगता .

5. Facebook 70 से ज्यादा भाषाओं में उप्लब्ध है .

6. Facebook के मालिक के अलावा आप किसी भी आदमी को permanently ब्लॉक कर सकते हैं .

आज हमने क्या सीखा

दोस्तो आज हमने सबसे बड़ी सोशल मीडिया सर्विस फेसबुक का आविष्कार किसने किया और कब कहाँ कैसे हर पहलू को विस्तार से जाना.

आशा करता हु की आपको हमारे आर्टिकल से फेसबुक के बारे में जानकारी मिली है.

इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में शेयर करे और ऐसे ही जानकारी भरी पोस्ट को पढ़ने के लिए बने रहे हमारे साथ धन्यवाद.

सदा मुस्कुराते रहिये .

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here