Keyword Cannibalization क्या है और इसकी जानकारी होनी क्यों जरुरी है?

क्या आप ब्लॉग्गिंग करते हैं? अगर हाँ तो क्या आपको Keyword Cannibalization क्या है? अगर नहीं मालूम तो आज की इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा इसी बिसय से जुड़े कुछ ऐसी जानकारी जो हर एक ब्लॉगर को जानना जरुरी है. अगर आपके पोस्ट्स Google में rank नहीं कर रहे, तो इसका वजय ये भी हो सकता है.

अगर आप ब्लॉग्गिंग करते होंगे तो आपको Keyword क्या है जरूर पता होगा, पर हर ब्लॉगर को Keyword Cannibalization की जानकारी होनी बहुत जरुरी है. इसकी जानकारी के बिना एक अच्छे ब्लॉगर होने के बावजूद आप अपने ही पोस्ट को SERP में नीचे के रैंक पर ला सकते हैं. अपने हर पोस्ट को कैसे हमेशा SERP में 1st रैंक पर रख सकते हैं इसके लिए आपको Keyword Cannibalization क्या होता है समझना होगा.

Keyword Cannibalization क्या है?

Keyword Cannibalization Kya Hai Hindi

जब आप अपने ब्लॉग के बहुत सारे पोस्ट और आर्टिकल्स को एक ही keyword से optimize कर के उसे गूगल में रैंक कराने के लिए इस्तेमाल करते हैं तो इस को Keyword Cannibalization कहा जाता है. एक keyword का एक से ज्यादा पोस्ट और आर्टिकल में उपयोग करने से ये एक दूसरे की सर्च रैंकिंग को खा जाते हैं और इससे ब्लॉग के SEO पर बहुत बुरा असर पड़ता है.

उदाहरण के लिए मान लेते हैं की जब किसी ख़ास एरिया (Particular Keyword) का सबसे मज़बूत उम्मीदवार (Post or articles) चुनाव में खड़ा होता है तो उसे हराना काफी मुश्किल होता है. मज़बूत उम्मीदवार को हारने का सबसे आसान तरीका एक ही है की उसी के एरिया (Particular Keyword) में उसे हराना होगा. और ये तब होगा जब उसी के एरिया से 2-3 उम्मीदवार (Post or articles) चुनाव में उसके खिलाफ खड़े कर दिए जाएँ . इस तरह उस का वोट आपस में इन सभी उम्मीदवारों में बंट जाएगा. जो सबसे मज़बूत उम्मीदवार होगा उसके पास कम वोट होने से वो भी कमज़ोर हो कर चुनाव में उसे 1st रैंक नहीं मिलेगा.

बिलकुल इसी तरह का काम तब होता है जब आप एक Keyword को अपने बहुत सारे पोस्ट में इस्तेमाल करते हैं. जो पोस्ट सबसे मज़बूत होता है और जो आसानी से SERP में रैंक कर सकता है उसको आप अपने दूसरे पोस्ट के जरिये रैंकिंग गिरा देते हैं.

इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की Keyword Cannibalization किस तरह SEO के लिए बुरा है ? साथ ही ये भी बताऊंगा की Keyword Cannibalization को कैसे आप अपने ब्लॉग में Identify कर के ये प्रॉब्लम Solve कर सकते हैं. लेकिन इसके पहले जानते हैं की ये कैसे आपके पोस्ट की रैंक को गिरता है और ऐसा क्यों होता है?

Keyword Cannibalization पोस्ट की रैंकिंग को कैसे और क्यों SERP में गिराता है?

जब आप अपने कई सारे पोस्ट में बार बार एक ही Keyword का प्रयोग करते हैं हुए गूगल सर्च इंजन में रैंक करने के लिए तो इसका मतलब है की आपके ब्लॉग में 100% Keyword cannibalization की प्रॉब्लम हो चुकी है. आप खुद ही गूगल में रैंक करने वाले पोस्ट को रैंक होने से रोक रहे हैं.

आखिर ऐसा क्यों होता है?

गूगल और दूसरे सर्च इंजन किसी भी एक डोमेन से एक keyword के लिए 1-2 पोस्ट को सर्च रिजल्ट में शो करता है. फिर भी अगर आपकी डोमेन अथॉरिटी बहुत ज्यादा high है तो गूगल आपके ब्लॉग के maximum 3 पोस्ट को सेरच रिजल्ट में दिखा सकता है.

इस तरह आप अपने पोस्ट के ही सर्च रिजल्ट में आने के chances होते हैं उसे ख़तम कर देते हैं.

Keyword Cannibalization SEO पर बुरा असर कैसे डालता है?

जब आप खुद ही Keyword cannibalized करते हैं तो आप दुसरे ब्लॉग से compete करने के बजाय खुद के अच्छे और रैंक करने वाले पोस्ट से compete करने लगते हैं. आप अपने पोस्ट के बीच ही struggle करते रहते हैं. इस तरह आप अपना नुकसान खुद ही करते हैं. SERP में रैंकिंग पाने के लिए आप कड़ी मेहनत कर के एक high quality पोस्ट तैयार करते हैं. फिर उसे रैंक करा भी लेते हैं लेकिन जब उसी Keyword पर दूसरी तीसरी पोस्ट लिखते हैं तो फिर आप के द्वारा लिखी गई पोस्ट जो रैंक करती है उसको खुद ही रैंक में नीचे गिराने के लिए लग जाते हैं.

उदाहरण के लिए हम 2 पोस्ट लेते हैं जो एक ही टॉपिक पर लिखा हुआ है. अब गूगल को ये confusion हो जाता है की किस पोस्ट को वो High रैंक पर शो करे. और फिर गूगल इसी confusion में दोनों ही पोस्ट को low रैंक पर दिखाने लगता है सर्च रिजल्ट पेज में.

भले ही आपने अपने 2 पोस्ट में Focus Keyword अलग इस्तेमाल किया है लेकिन अगर उनके टॉपिक एक से हैं और उनका मतलब भी एक ही आ रहा है तो आपके ब्लॉग में Keyword cannibalization की समस्या इस condition में भी हो सकती है.

उदाहरण के लिए हम 2 पोस्ट ले लेते हैं जिसमे हमने टॉपिक ऑनलाइन पैसे कमाने के ऊपर रखा है. मान लीजिए की पहले पोस्ट की Keyword है “online paise kaise kamaye” और दूसरे पोस्ट की Keyword हमने “Mobile se paise kamane ka tarika” है. इन दोनों में देखने में Keyword अलग अलग हैं लेकिन फिर भी ये दोनों एक ही है.

ऐसे में गूगल ये समझ नहीं पाता की इस ख़ास Keyword के लिए कौन सा पोस्ट ज्यादा important है. और इस तरह गूगल समझ ही नहीं सकेगा और निर्णय नहीं ले सकेगा की कौन से पोस्ट को high रैंक में रखे. और फिर दोनों ही पोस्ट को गूगल सर्च रिजल्ट में नीचे शो करेगा.

ब्लॉग में Keyword Cannibalization को कैसे पहचाने?

आपके ब्लॉग में keyword Cannibalization का problem है या नहीं ये जानना बहुत ही आसान है. आपको उस keyword को सर्च करना है जिस पर आपको शक है की इसकी वजह से आपके ब्लॉग पोस्ट में ये प्रॉब्लम हो चुकी है. अगर आप उस keyword को गूगल में सर्च करेंगे तो आपको एक से ज्यादा रिजल्ट शो होगा।

अब मैं यहाँ ये सर्च करूँगा जो की मेरा Keyword है.
site:hindime.net seo kya hai

Keyword Cannibalization Search Result

ये सर्च करने मुझे मुझे 2 रिजल्ट मिले जो cannibalized है.

आप भी किसी ख़ास Keyword पर अपनी ब्लॉग के Cannibalization प्रॉब्लम को चेक कर सकते हैं. इसके लिए ये Formula है इससे आप आसानी से चेक कर सकते हैं.
site:domain.com "Keyword"

ये आपको बता देगा की क्या आपके एक keyword से एक से ज्यादा पोस्ट cannibalized है या नहीं. और आसानी से पता चल जाएगा की आपका ब्लॉग रैंकिंग की प्रॉब्लम से suffer कर रहा है या फिर बिलकुल safe है.

Keyword Cannibalization को अपने ब्लॉग में कैसे ठीक करे?

क्या आपको इसका पूरा संकेत मिल चूका है की आपके ब्लॉग में Keyword Cannibalization की प्रॉब्लम आ चुकी है तो ऊपर दिए फार्मूला का इस्तेमाल करे. इससे आप कन्फर्म हो जाएंगे की Keyword Cannibalization सच में है या नहीं.

1. क्या आपने चेक कर लिया है?
2. क्या आपका ब्लॉग भी Keyword Cannibalized है?

अगर हाँ तो आपको टेंशन लेने की जरुरत बिलकुल भी नहीं है. क्यों की इस पोस्ट में मैं इसका solution भी आपको बताऊंगा. तो चलिए जानते हैं की Keyword Cannibalization का problem ब्लॉग में हो जाए तो क्या उपाय अपनाये जिससे ये प्रॉब्लम ख़तम होकर हमारी SEO में किसी तरह की भी प्रॉब्लम न हो.

1 . Internal Linking

जी हाँ इस प्रॉब्लम का पहला solution है Internal linking लेकिन आपको ये जानना होगा की Internal Linking करने का सही तरीका है. मैं आपको यहाँ इसका तरीका बताऊंगा की Proper internal linking कैसे करें.

मान लेते हैं की आपके 2 पोस्ट है जिनका Keyword एक ही हैं. उनमे से एक पोस्ट का नाम A रख लेते हैं और दूसरे का B.

इनमे से A कम important है और B ज्यादा important है तो हम यहाँ ज्यादा इम्पोर्टेन्ट (B) वाले पोस्ट के लिंक को कम इम्पोर्टेन्ट वाले पोस्ट (A) में जोड़ देंगे.

इस तरह गूगल उस लिंक को follow करेगा और वो पता लगा की आप किस पोस्ट को SERP में higher रैंक कराना चाहते हैं.

Internal linking Keyword Cannibalization से होने वाले प्रॉब्लम को solve करती है. यहाँ पर आपको फैसला करना है की आपके लिए कौन सा पोस्ट ज्यादा महत्वपूर्ण है. और कौन से पोस्ट को गूगल SERP में रैंक कराना चाहते हैं. इस तरह आप चुनाव कर के किसी एक पोस्ट को Higher रैंक पर ला सकते हैं.

2 . Combining Posts

ये दुसरा तरीका है जिससे आप अपने ब्लॉग में हुई Keyword Cannibalization की प्रॉब्लम का हल कर सकते हैं. इसमें आपको करना ये है की आपके जितने आर्टिकल्स या पोस्ट एक Keyword से ऑप्टिमाइज़ किये गए हैं उनको combine कर के एक single पोस्ट बना लें.

ज्यादातर cases में ये सबसे अच्छा हल है. अब अगर आपके भी 2 आर्टिकल्स एक टॉपिक पर लिखे गए हैं तो आप उसे combine कर के एक आर्टिकल में बदल दें.

ये आपके पोस्ट को बिलकुल हाई रैंक पर ले जाएगा. वैसे भी गूगल को Long content बहुत पसंद है.

नोट: सबसे महत्वपूर्ण बात यहाँ ये है की आप Combine करने के बाद सभी लिंक्स को redirect जरूर कर लें.

Create History Sheet Of Post

Keyword Cannibalization पर growing वेबसाइट पर काफी बुरा असर डालता है. अगर आपका साइट बड़ा होता जा रहा है तो ऐसे में इसकी chances बहुत हैं. आप लगातार अपने पसंदीदा टॉपिक पर लिखते रहते हैं और आपको पता भी नहीं चल पाता की आपके ब्लॉग में ये समस्या हो चुकी है. जिसका पसंदीदा कोई टॉपिक होता है तो ऐसे में कई पोस्ट एक जैसे हो ही जाते हैं.

तो आपको यहाँ बस थोड़ी ध्यान रखने की जरुरत है. इसके लिए आप एक शीट तैयार करें और उसमे अपने हर टॉपिक का title और keyword लिखते जाएँ. इस तरह आपके work की एक history बनती जाएगी और आपको हर नया पोस्ट लिखने से पहले एक बार उस history sheet में बस चेक करना है की क्या आपने नए टॉपिक के बारे में कुछ लिखा है या नहीं.

अगर लिखा है तो किस चीज़ का उसमे explaination किया है. क्या नए पोस्ट उसी पुराने पोस्ट में merge कर सकते हैं या फिर नया पोस्ट लिखकर internal linking करे. इस तरीके से आप अच्छे से इस प्रॉब्लम का हल निकाल सकते हैं.

उम्मीद है के आपको Keyword Cannibalization क्या है समझ आ गया होगा. दोस्तों अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक,ट्विटर,इंस्टाग्राम में अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करे.

7 COMMENTS

  1. बहुत अच्छी और नई जानकारी थे मेरे लिए धन्यबाद आपका
    ऐंसे ही पोस्ट देते रहें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.