Keyword क्या है और ये SEO के लिए क्यों जरुरी है

यहाँ हम Keyword क्या है और ये SEO के लिए जरुरी है की नहीं उसी के बारे में बात करेंगे. keywords कितने प्रकार के होते हैं. क्या आप इसी सवाल को ढूंडते हुए यहाँ इस लेख में पोहंचे हो, तो आप सही जगह पे आए हैं. क्या आपको पता है आपके सवाल में ही जवाब छुपा है. और आप बोहत बार ये सब्द सुने होंगे “keyword”. आपको बोहत सारे bloggers इस के बारे में बोहत कुछ बताए होंगे.

अगर आप Beginner हैं तो आपके मन और बोहत से सवाल होंगे, घबराने की कोई बात नहीं है. इस लेख के ख़तम होते होते आप सब कुछ सिख जाओगे. लेकिन अगर आप पहले से blogging करते हैं तो आप keyword के बारे में कहीं पढ़े होंगे . आपके blog/website की traffic बढ़ाने के लिए और page को rank करने के लिए कीवर्ड बोहत महत्वपूर्ण हैं.

ये तो आपको पता होगा की आपके blog में 90 से 95 % traffic आपके लिखे हुए 5% post से अति है. ये संभव हुआ उन गिने चुने keywords के इस्तेमाल से, सायद मैंने सही कहा है. तो चलिए जानते  इसके Importance के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में .

Keyword क्या है (What is Keyword in Hindi)

Keyword Kya Hai

इस सवाल का जवाब यहाँ से सुरु होता है. Keyword एक Phrase या एक sentence है. जिसको आप अपने Article को Describe करने के लिए title में इस्तेमाल करते हो. जैसे “Keyword क्या है” ये एक phrase है, जिसको Blogging या SEO की भाषा में कीवर्ड कहते है. अगर आप Blogging में Beginner हैं तो आपको ये उदहारण अच्छे से समझ में आजाएगा. आपको महात्मा गाँधी के उपर एक Essay लिखना है वो भी हिंदी में. तो सायद आप Google में कुछ इस तरह Search करोगे “Essay On महात्मा गाँधी in Hindi” या फिर “महत्मा गाँधी पर निबंद” और ये दोनों ही आपके Keyword हैं.

ये एक phrase है या post की Title नही बोल सकते हो. जिसके जरिये आप अपने site की Traffic को बढ़ाते हो. जिस Topic उपर आप लिखते हो वो भी एक Keyword है. आपको अगर Seo Friendly Article लिखना है तो आपको एक phrase को Target करना होगा. इसी Target Phrase को ही हम Target Keyword कहेंगे.

आप ये बोल सकते आप कुछ भी Google में Search करते हो और आपको बोहत सारे Queries के Result मिलते है आप इन्हें भी एक एक Keyword बोल सकते हो. अब आपके मन में एक सवाल आता होगा की Article या post में Keyword की क्या जरुरत है. अब आगे हम इस सवाल का जवाब देंगे.

SEO के लिए Keywords का क्या महत्व हैं

On Page SEO बढ़ाने के लिए Keywords का बोहत ज्यादा महत्व है. SEO(Search Engine Optimization), Search Engine Results Page(SERP) में Article का google में Position Set करता है. SEO में हम एक phrase को Target करते हैं , जिसको “Target Keyword” बोला ज्याता है. आप अगर SEO और Keyword में Confuse हो रहे हैं तो SEO को समझ लो Search Engine Optimization.

आप नया post लिखे हैं, लेकिन अब Google को कैसे पता चलेगा की आपका Article किस topic पे है? और ये संभव है SEO की मदद से आप ये कर सकते हो और content को search engine के लिए optimize कर रहे हो. जिसके बोहत सारे फायदे हैं जैसे आपके Site का traffic बढेगा. आपका article search करने पे google के पहले पेज पे आएगा. इस्से ज्यादा से ज्यादा Visitors होंगे. site का ranking बढेगा. SEO Friendly Article लिखने के लिए आपको Keyword का इस्तेमाल करना होगा.

अब थोड़ी अंदर की बात करते हैं. अपने Blog post या page को SEO Friendly बनाने के लिए, हमारे पास option है की इन Keywords को कहीं एक जगह Define किया जाये और वही जगह है Meta Description. लेकिन मुझे जितना पता है Algoritm में बदलाव के बाद Google, Keywords को Auto Detect कर रहा है.

Meta Keywords कुछ इस तरह हो सकते अगर हम इस लेख गए लेख की बात करें तो “Keywords in Hindi”,” SEO Tips”. अब agar कोई SEO tips को Search करेगा वो इस पेज पे पोहोंचे गा. जो की गलत है, क्यूंकि यहाँ SEO tips के बारे में इस पेज में है ही नहीं. user इस पेज से वापस चला जायेगा और इस्से साईट का Bounce Rate बढ़ जाये गा. अब आपके मन में और एक सवाल होगा की ये Keywords पुरे post में कितनी बार Repeat या इन Keywords की Density कितनी होनी चाहिए. इसके बारे में आप अंत में जान जाओगे.

आपके मन में और एक सवाल आता होगा की ये Page Ranking क्या होता है और ये Ranking करता कोन है. तो सबसे पहले तो Ranking ना ही कोई इंसान करता है और नाही कोई Google का Employee करता है. ये सब एक Machine करती है जिसको आप Algorithm भी बोल सकते हो. algorithm एक Step BY Step Process है. जिसमे Decision लेने की ability रहती है.

Ranking का मतलब आपका post Search Engine Results Page (SERP) में कहाँ दिखाई दे रहा है वही page rank है. आप चाहो तो SEMrush site में अपना website का नाम डाल के check कर सकते हैं की आप किन किन keywords को अपने site में rank किये हो. अब जानते है Keyword कितने प्रकार के हैं.

Types Of Keyword Used in SEO

आम तोर पे दो प्रकार के Keyword होते हैं.

1. Short Tail Keyword

Short Tail Keyword में 1 से 3 words होते हैं. इसलिए इसे Short Tail बोला ज्याता है. इसके कुछ उदाहरण देख लो EX- Online पैसे कमायें, Free Ebooks, Free jio phone. आप उपर के तिन उदाहरण में देखे होंगे इन Phrase (Keyword) की Length 3 Words या 3 के अंदर है.

2. Long Tail Keywords

Long Tail Keywords की Length 3 से अधिक होगी. इसलिए इसे Long Tail बोला ज्याता है. इसके कुछ उदाहरण देख लो EX- How to Earn Money Online in Facebook, Whats app से पैसे कमाने के तरीका, 10 दिन में Blogging कैसे सीखें. आप देख होंगे की इन की Length ज्यादा है.

हमेसा कोशीश करें की Long tail Keyword का ज्यादा इस्तेमाल हो. ये आम तोर पर हर Blogger करता है. जब आप Long Tail Keyword का इस्तेमाल करोगे तब Short Tail Keyword भी बड़ी आसानी से rank होने की संभावना है. “10 Best way to Earn Money Online” इस Keyword में आप देख लीजिये “Earn Money Online” जो Short keyword है, वो भी इसमें अगया है. अब फायदा ये है जब आप बड़े वाले keyword Rank करोगे तो short keyword अपने आप rank होगा.

LSI Keywords

LSI का पूरा नाम है Latent Sementic Indexing ये एक Method है. इसके जरिये आप ये पता लगा सकते हैं की post में इस्तेमाल किये गए Keyword और Content के बिच में क्या Relationship है. आपके page के Content को जब Search Engine bots Crawl करते हैं, जितने भी common सब्द या pharse हैं, उनको Keyword के जैसे Identify करता है. Phrase stuffing को पता लगाने के लिए भी LSI काम करता है.

LSI आपके पेज title के साथ मिलते जुलते प्रतिसब्द को Content के अंदर ढूडता है. जिस्से LSI को ये पता चलता की क्या आप words बार बार कितनी बार किये हो. अपने पेज में Random जगह पे Phrase या title का उपयोग करके आप Search Engine को बेवकुफ़ नहीं बना सकते. इसलिए ये गलती कभी मत करें.

आपके post का Title है “Budget Laptops” है तो जब LSI इस Title के साथ “Related सब्द को content के अंदर Search करता है. जैसे “Less Price Laptop”, “Inexpensive laptop”, “cost effective” जैसे सब्द को search करेगा.

Keyword Density क्या होता है

Keywords का घनत्व भी बोल सकते हो. ये बताता है एक Keyword (Phrase) एक article में कितनी बार मोजूद है. पुरे Text में जितने words हैं, उन words की तुलना में कितनी बार Keyword का इस्तेमाल किया गया है. एक उदहारण लेलो 100 words हैं उनमे आपका Phrase 3 बार है तो अब Keyword Density हुआ 3%. Searching के मुताबिक High Keyword Density SEO के लिए अच्छा संकेत है. याद रखें अगर आप एक ही Keyword को बार बार इस्तेमाल कर रहें है तो भी गलत है, इसको Keyword Stuffing कहते हैं. अगर आप एसा करते हो तो आपका page Google Search में दिखाई ही नहीं देगा.

जब भी bots आपके page को crawl करते है तब वो Keywords का crawl करते हैं. इनसे उनको ये पता चल जाता है की आपका पेज कोन से Keyword पे rank किया गया है. अपने पुर लेख का 2% से ज्यादा keyword Density होना चाहिए और हो सके तो 1 से 2 % रखने की कोशीश करें. Keyword Stuffing से बचके रहना है आपको. Main Keyword पे जितना ज्यदा Focus करेंगे उतना जल्दी आपका page Rank होगा. एक ही Long tail Keyword पे ज्यादा ध्यान दें.

Keyword Placement कहाँ होना चाहिए

post के सही स्थान पे keyword place करना अपने आप में बोहत बड़ी कला है. और ये कला आपको Blogging करते करते अपने आप मिल जाएगी. तो यहाँ पे कुछ इसके बारे में बात करेंगे

  • Keyword को Title में रखें.
  • अपने पहले Paragraph में Keyword का इस्तेमाल करें.
  • Image Alt Tag में Keyword का प्रोयोग करें .
  • Heading और Subheading (H2 और H3 Tag) का प्रयोग करें.

उपर दिए गए 4 points के बारे में अधिक जानने के लिए हमरे इस लेख को पढ़े Seo Friendly Article. इस लेख को पढने के बाद और video देखने के बाद आपको ये लेख और अच्छे से समझ आ जायेगा.

मेरी अंतिम राय इस लेख पे

तो दोस्तों आज की जानकारी काफी महत्व पूर्ण है हर नए और पुराने Blogger के लिए. अब आपको पता चल ही गया होगा की Keyword क्या है और SEO के लिए Keyword क्यूँ जरुरी है. इसके साथ साथ कीवर्ड कितने प्रकार के होते हैं (long tail keyword और Short tail keyword) ये भी आप जान ही गए. अब आपको करना क्या है, 4 से 5 अच्छे Keyword Search करलें और उसको Rank करने की कोशीश करें. Google Keyword planner, Uber suggest और SEMrush जैसे Tools का इस्तेमाल करें.

उमीद है ये लेख पसंद आया होगा, कैसा लगा “आप जरुर निचे comment कर के बताइए”. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे. कोई सुझाव देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जिस्से हम आपके लिए कुछ नया कर सके. हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें. कोशीश करें, कुछ नया सीखें और दूसरों को सिखाएं. चलो बनायें Digital India जय हिंद, जय भारत, धन्यबाद.

Hindi Me Jankari

SHARE
Previous articleReliance Jio Free 4G Feature Phone की पूरी जानकारी
Next articleIRCTC Account, Ticket Booking, तत्काल संभंधि जरुरी जानकारी
CM SHARMA नाम से मैं पहचाना जाता हूँ, Hindime का Co-Founder हूँ Chandan जी के साथ |पढाई की बात की जाये तो मैं M.Sc. Computer Science कर चूका हूँ और College में Computer Science Subject का Lecturer भी हूँ | बचपन से ही Technology से लगाव था ,अभी बी है और जब तक है जान तब तक रहेगा, इस लिए Tech की जानकारी हिंदी में देता हूँ | मेरा मकसद यही है की सब की जिंदिगी technology के जरिये आसान बनाई जाए और भारत digital बनें , जय हिंद, धन्यवाद

23 COMMENTS

  1. bro apne Keywords ke bare me bahut detail me samajaya hai .isse har kisi ko keyword ke bare me jo sawaal hai dur ho jane chahia thanks for sharing

    • सुक्रिया दोस्त हमारे Hindime.net का मकसद ही यही है की Blogging और SEO की पूरी जानकारी आपको मिले और अगर आप और कोई सवाल पूछना चाहते हो पूछे.

  2. hi sir नमस्कार मेरे google map submission में kuchh problem जो की एक error fault है, वो वेबसाइट एक php program पर बनाई गयी है, उसमे error fix problem है, submission pending दिखा रहा है .

  3. Sir, aapne ne achhi jankari di. So thanks but ek question hai ki ek post pr kitna keyword density hona thik rahega?

    • sarik भाई क्या आप पूरा keyword क्या है और keyword density कितनी होनी चाहिए अंदर पढ़े नहीं क्या, ये भी पोस्ट में बताया गया है. फिर भी बता दूँ 1% से 2% होना चाहिए.
      ये देखें

        • सुक्रिया सारिक, उमीद है आपको आपके blog संभंदी सारे सवालों के जवाब मिल रहे है, आप facebook पेज पे भी contact कर सकते है.

    • धन्यबाद राज, आप हमरे blog को Regular पढ़ते हैं और आपको अपने ब्लॉग के लिए keyword पर जरुर ध्यान दे.

    • सुक्रिया, सुशिल जी, उमीद है आपको Blogging संभंदी और SEO संभंदी सारे जवाब आपको मिल रहे हैं. आप ब्लॉग्गिंग SECTION में जाके और भी बोहत कुछ सिख सकते हैं.

  4. Bhai Mujhe AMP Ka Funda samjh me nahi aata hai, jaise Use karo Traffic Down hota hai. Maine iske bar me internet par bahut search kiya Koi article nahi Mila, Agar apke pass Koii Idea ho to batao AMP Use Indexing ko kaise Fast kare

    • अगर आपको लग रहा है की आपके content Unique है और आप ने बिना copy के लिखे हैं तो कोई बात नहीं, जैसे हैं वैसे रहने दे. और वैसे आप copy right कहाँ से check कर रहे हैं.

  5. Hello sir
    Aapne keyword dencity, kyeword kya hai. ke bare me bahut badiya information di hai.
    Mera apse ek sawal hai.Sir mene aaj ek article publish kiya free stock iamges sites ke liye jiska target keyword tha “Free High Quality Stock Images” is keywrod ko mene article me 800 word me 9 bar repeat kiya hai. fast pragrap, aur jagah bhi, aur related keyword bhi use kareh hai sath me. Likin yeah search result me first rank per nhi aha rha hai.

    So me chata hu. Aap ek bar me is artilcle me ko dekhe mene kha kha mistake kari hai.

    i hope aap meri help karenge. Aur mene article comment website me add kara hai.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here