Firewall क्या है और ये क्यूँ जरुरी है?

आज हम बात करने वाले है के, Firewall क्या है – What is Firewall in Hindi? हम सभी मनुष्य अपने जिंदगी में कोई भी छोटा बड़ा काम करने के लिए एक चीज का ध्यान अपने मन में जरुर रखते हैं और वो है “सुरक्षा” यानीं की security. जैसे की अपने भविष्य के लिए लोग पहले से ही पैसे को बचा कर रखते हैं ताकि आगे चल कर जब उन्हें पैसे की जरुरत होगी तब किसी के सामने भी हाथ फ़ैलाने की जरुरत नहीं पड़ेगी. अपने बच्चो की सुरक्षा के लिए माँ बाप हर कदम पर उनके साथ रहते हैं. जो बड़े बड़े celebrities और मंत्री होते हैं उनकी सुरक्षा के लिए bodyguards रखे जाते हैं. हर देश में रह रहे लोगों की सुरक्षा के लिए “कानून” बनाया गया है. सरहद पर हर रोज़ हमारे देश के वीर जवान हम सबकी सुरक्षा के लिए अपनी जान दे देते हैं.

हम सभी मनुष्य का जीवन किसी ना किसी तरह से एक सुरक्षा के घेरे में है, जिसके वजह से हम चैन की सांस ले रहे हैं. ठीक उसी तरह Computer को भी एक सुरक्षा की जरुरत होती है ताकि उसे virus और malware से बचा कर रखा जा सके और Computer में रखे गए सभी data किसी दुसरे अनजान व्यक्ति के हाथ ना लग सके. उस सुरक्षा का नाम है “Firewall”. जो लोग Computer और Internet का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं उन्होंने firewall का नाम जरुर सुना होगा. Firewall क्या है? ये क्यूँ जरुरी है? इसके बारे में आज मै आपको बताने वाली हूँ.

Firewall क्या होता है – What is Firewall in Hindi

firewll kya hai- What is Firewall in Hindi
Firewall Computer को सुरक्षित रखने के लिए एक व्यवस्था है जो सभी तरह के Computers और उसके networks को घुसपेठियों, hackers और malware से बचा कर रखता है. Firewall हमारे Computer को आक्रामक software से बचाती है जो चुपके से हमारे Computers के अन्दर आ जाती है और सभी personal details उस software को भेजने वाले hackers के पास पहुंचा देती है जो इसका बहुत गलत फायेदा उठाता है.

Firewall एक तरह का सुरक्षा योजना है जो या तो एक software programs के रूप में रहता है या फिर एक hardware device के रूप में तो जब भी हमारा Computer internet से जुड़ता है तब यही firewall हमारे Computer की तरफ आ रही traffic को अन्दर आने से रोकता है. उदहारण के तौर पर मै आपको बताऊँ तो ये है की जब कभी भी हम Computer में internet का इस्तेमाल कर किसी website में जाते हैं, या कुछ videos देखते हैं और साथ ही साथ उन्हें download भी करते हैं या फिर इन सबके अलावा Internet पर कुछ भी काम कर रहे होते हैं तो ऐसे में जो भी traffic हमारे Computer की तरफ आ रहा होता है उसको firewall रोकता है, वो हमारे Computer के network में चारो तरह एक दिवार खड़ा कर देता है ताकि Computer में कोई unwanted software अन्दर आ कर अपने आप install ना हो जाये या कोई unwanted files Computer में ना आ जाये जिसके वजह से Computer पर virus का attack हो जाये और वो सारा data delete कर दे.

Firewall सिर्फ उन्ही चीजों को अनदर आन के लिए जगह देता है जिसको हम यानि users आने के लिए इजाजत देते हैं इसके अलावा कोई भी malware या virus को अन्दर आने की इजाजत नहीं होती. ठीक उसी तरह अगर हमारे Computer में पेहले से virus मौजूद है और एक कमरे में बहुत सारे Computers एक साथ एक network में जुड़े हुए हैं तब भी firewall एक Computer के virus को दुसरे Computers तक जाने में रोकता है. इसका मतलब है की Firewall दोनों तरफ से सुरक्षा का काम करता है.

Firewall कितने प्रकार के होते हैं – Types of Firewall in Hindi?

Firewall दो प्रकार के होते हैं एक है Software Firewall और दूसरा है Hardware Firewall.

1# Hardware Firewall

Hardware Firewall आज कल सभी Routers में पहले से ही मौजूद रहते हैं जिसका काम होता है एक computer से दुसरे Computer में virus को जाने से रोकना. जैसे मान लीजिये एक कमरे में 10 Computers एक ही network से जुड़े हैं और वहां पर जिस router या modem का इस्तेमाल किया जा रहा है उसमे Firewall को enable कर दिया गया है, तो जितने भी Computers उस router के साथ जुड़े हुए हैं उन सभी में अपने आप firewall काम करना शुरू कर देता है. जब भी computers के जरिये internet पर कुछ भी काम किया जाता है तो वहां पर firewall Computers को virus और malware से सुरक्षित रखता है. Computer से निकला हुआ हर एक request एक data packet के form में निकलता है और उसके साथ network का ID भी जुड़ा हुआ रहता है तो जब भी server से उस request का reply आता है तो वोही network ID उस packet के साथ जुड़ कर आता है जिससे की firewall को ये पता चल जाता है की वो data सही है. इसके अलावा कोई भी दूसरा packet अगर उस packet के साथ अन्दर घुसने की कोशिश करता है तो firewall उसे बाहार ही रोक देता है.

दूसरा काम firewall का ये है की अगर एक Computer में कहीं से भी virus आ जाता है तो वो virus उस Computer से निकल कर दुसरे Computer तक ना पहुँच सके इसका भी ख्याल firewall अच्छे से रखता है.

2# Software Firewall

नए generations के Windows Operating System में जैसे Windows 7, 8, 10, Vista, XP इत्यादि में Firewall पहले से ही inbuilt हो कर रहता हैं और वो by default “on” रहता है ताकि Computer पूरी तरह से सुरक्षित रह सके. आप चाहे तो Computers में इसकी settings को देख कर अपने जरुरत के हिसाब से बदल भी सकते हैं. इसके अलावा बहुत सारे antivirus भी internet में मौजूद हैं जैसे Avast, McAfee, Norton, QuickHeal इस्त्यादी इन सभी में भी firewall का काम एक ही है. जब भी हम अपने computers में नए software या games को install करते हैं तो एक popup box हमारे computer में दीखता है जिसमे firewall user से permission मांगता है की क्या आपको इस program को अपने computer में install करना है क्यूंकि Windows firewall ने इस program को block कर दिया है, तो हम चाहे तो उस option को tick कर program को install कर सकते हैं. Software firewall इसी तरह से computer में काम करते हैं और हमारे personal data को hackers से और virus से बचा कर रखते हैं.

चाहे hardware हो या software हो Computers में firewall का इस्तेमाल करना बहुत जरुरी है क्यूंकि internet में बहुत सारे malicious site मौजूद है जो हमारे Computer में घुश कर data को चुरा सकते हैं. आशा करती हूँ की आपको Firewall क्या है What is Firewall in Hindi और ये क्यूँ जरुरी है? समझ में आ गया होगा. अगर आप ने अब तक अपने Computer में इसका इस्तेमाल नहीं किया है तो जरुर करिए और अपने Computer को सुरक्षित रखिये.

106 COMMENTS

  1. Sabina ji bilkul sahi kaha aapne firewall bahut jruri hai hackers, spamming se bachne ke liye. pahle me sochta tha windows firewall ki vajah se background data process hote rhte hai aur intenet jyada istemal hota hai. par ab lgta hai ki agr aap online activity karte ho to firewall enable hona bahut jruri hai. nhi to pta nhi kahan se koi infected file apne computer me aake beth jayegi aur sare private information leak ho jayenge. Thank you for your detailed article.

  2. urgently i need the exploit kit article …….
    than upload fast please

    nice article mam/sir
    thank you so much for …..
    again thanks

  3. जब हम किसी ने वेबसाइट पर firewall ऑन करते हैं हैं तो वेबसाइट 5 सेकंड बाद रीडायरेक्ट हो जाती है क्यों

  4. thanks sir..
    firewall’s ki helpfull jankari bahut badiya hai.
    sir plese ek keywords or mata tags pr bhi artical batao…
    basic keywords and meta tags

  5. Mujhe apka firewall ka answers bahut accha laga thank,s for giving good knowledge
    Mujhe appse o level ke note,s lend hai kiya milenge apke pass mujhe reply me jaroor btana

  6. apne boht ache sa btaya firewall kya hota hai or kyo jruri hota hai…
    I love your explanation method…
    thanks for information about firewall

  7. थैंक यू वेरी मच मैडम जी आपने फायरवाल प्रणाली को बहुत ही अच्छे और बहुत ही बेसिक फंडामेंटल्स के साथ डिस्क्राइब किया है वास्तव में पढ़ कर मजा आ गया

    I LIKS IT VEREY VERY MUCH
    ☺☺☺

  8. Your logic is best plz provide notes at internet connection types dedicated and non dedicated servers Windows server topology and upper lower layer protocols

  9. वाह: sabana ji आप बहुध अच्छा लिख़ते है Computer knowledge को हिंदी में आप वाक ही में Computer और IT knowledge को Hindi में Share करके बहुध अच्छा काम कर रही है आप के उज्वल भविष्य के लिए शुभ कामनाये

  10. one question :-
    a firewall is installed at the point where the secure internal network and untrusted external network meet which point is called-

    please answer me and explainn it

  11. Good Morning maim ,I m Rituraaj Upadhyay from UP student of BCA
    i m very satishfy to know about firewall
    so thanks

  12. Maine to firewall ka naam hi suna hi tha actualy bahut baar suna tha lekin pta nhi tha lekin aapke is ppdt se mujhe bahut achhi tarh se samjh aa gya ki firewall kya h aur ye kitna jaruri h

    ———–Thanks for this post—-

  13. aapne blog bahut he aacha aur jakariyo se bharpur ha. Muje firewall ke baare me thoda he pata tha par aapke is post se aur bhi aache tarah se firewall ke baare me jaan gaya. Thank you Sabina

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here