Web Browser क्या है और ये कैसे काम करता है?

Web browser definition in Hindi (Web Browser क्या है): Internet browser का इस्तेमाल सभी internet users करते हैं, इसके जरिये ही हम कुछ भी search करके ज्ञान हासील करते हैं. Web browser का इस्तेमाल हम अपने smartphones, laptop, computer पर कहीं भी और कभी भी कर सकते हैं. ये एक software application है जिसका आविष्कार internet के साथ ही हुआ था. Web browser के शब्द से ही हम इसके बारे में जान सकते हैं, web का मतलब होता है Internet और browser का मतलब होता है ढूँढना, तो इस शब्द का पूरा मतलब है की internet की दुनिया में जाकर किसी भी विषय के बारे में ढूँढना. दुनिया के किसी भी कोने में रह रहे लोगों को हर चीज का ज्ञान मिले इसलिए web browser को बनाया गया है.

Web browser क्या है ये तो सभी को पता है लेकिन ये काम कैसे करता है? क्या इसका जवाब सबको पता है? हम browser में जाकर कुछ भी search करते हैं तो ये पलक झपकते ही हमारे सवालों का जवाब हमारे सामने ला कर रख देता है. इतने कम समय में इतना बड़ा काम आखिर web browser कैसे करता है, इसके बारे में आज हम जानेगे.

वेब ब्राउज़र क्या है? Web Browser Definition in Hindi

Web Browser Kya Hai Definition in HindiWeb browser एक application software है जो एक device में installed होकर रहता है और जब वो device Internet से जुड़ता है तब ये web browser काम करना शुरू करता है. Internet और web browser एक दुसरे से जुड़े हुए हैं, बिना internet के ना हम web browser का इस्तेमाल कर सकते हैं और ना ही बिना web browser के internet हमारे किसी काम आ सकता है. Internet की दुनिया में ये web browser users के लिए एक दरवाजे की तरह काम करता है जो हमें उस दुनिया तक लेकर जाता है. Web browser की मदद से हम internet पर मौजूद बहुत सारे web pages को देख सकते हैं और ये उनके फाइलों और दुसरे contents जैसे video, images और text का अनुवाद करता है और हमारे device के screen पर उसे दिखाता है. हमें सिर्फ browser के address bar पर उस webpage का url डालना है जहाँ से हमें जानकारी प्राप्त करनी है उसके बाद browser उस web page को हमारे screen पर दिखा देता है.

Web browser हमें World Wide Web की दुनिया में पहुंचाता है जहाँ सभी contents computer की भाषा में होती है जिसे हम HTML कहते हैं. Web browser computer की इस भाषा को translate करता है ताकि Internet users आसानी से contents को पढ़ सकें. कुछ कुछ web browsers सिर्फ text को translate कर पाते हैं और कुछ browsers graphics और animation भी support करते हैं और उन्हें translate कर पाते हैं.

वेब ब्राउज़र का इतिहास – History of Web Browser in Hindi

Browsers computers में तबसे मौजूद हैं जबसे internet का आविष्कार हुआ है. सबसे पहला browser का नाम ‘worldwideweb’ रखा गया जिसको Tim Berners-Lee ने सन 1990 में बनाया था. उसके बाद धीरे धीरे बहुत सारे बड़े बड़े browsers बनाये गए जिसमे bookmarking, history, audio-video support इत्यादि जैसे features डाले गए थे. आज के दिन में बहुत सारे browsers के बिच एक competition सी शुरू हो गयी है की कौन सा browser सबसे बेहतर है जो पूरी दुनिया में अपनी उपस्थिथि को बढ़ाना चाहता है. 1990 की दशक में internet explorer सबसे मसहुर web browser हुआ करता था जिसने अपने विरोधी ‘Netscape’ web browser को पूरी तरह से पीछे कर दिया था.

नयी सदी में कुछ नए नए browsers जैसे Mozilla Firefox, Chrome, Safari, Opera etc. ने लोगों के devices में अपनी जगह बनाना शुरू किया. इन सभी browsers में छोटे-छोटे अंतर हैं लेकिन इन सभी का काम internet surfing करना ही है. आप चाहें तो अपने computer और मोबाइल पर एक से ज्यादा browsers का भी इस्तमाल कर सकते हैं.

Web Browser काम कैसे करता है?

World Wide Web internet servers का एक प्रणाली है जो formatted documents का support करता है. web browser के इस्तेमाल से हम World Wide Web को आसानी से access कर पाते हैं. web browser की मदद से हम बहुत सारे web pages को देख पाते हैं जो web protocol से बने हुए होते हैं. protocol का मतलब rules होता है जैसे English के विषय में बहुत सारे rules होते हैं जिनका हमें English बोलने और लिखने के वक़्त पालन करना होता है वरना लोग ये नहीं समझ पायेंगे की हम उनसे क्या कहना चाहते हैं. ठीक उसी तरह web browser को भी हमारी बात समझने के लिए एक भाषा की जरुरत होती है उस भाषा के भी कुछ rules होते हैं जिसको हम HTTP(Hyper Text Transfer Protocol) केहते है. http web servers को बताता है की कैसे web page के contents को format और transmit करना है और users के द्वारा दिए गए commands की प्रतिक्रिया करने के लिए web servers और web browsers दोनों को क्या करना है.

Http की मदद से web clients और web servers को एक दुसरे से जुड़ने की अनुमति मिलती है. जब user browser के address bar पर एक web address डालता है तब browser उसकी request को http command के रूप में web server को भेजता है उसके बाद browser उस web server के साथ जुड़ जाता है और वहां से requested web page को निकाल कर user के browser में सारी जानकारी दिखा देता है. internet पर मौजूद जितने भी web servers हैं जो web sites और web pages को रखते हैं वो सभी servers http protocol को support करते हैं तभी जाकर browsers उनसे जुड़ कर सारी जानकारी users को आसानी से दे पाते हैं.

ये थी web browser क्या है और ये कैसे काम करता है उससे जुडी कुछ जानकारी, आशा है की आपको समझ में आ गयी होंगी, अगर आपके मन में इस विषय से जुडी कोई भी सवाल हैं तो हमसे निचे comment में बेझिझक पूछ सकते हैं.

Hindi Me Jankari

12 COMMENTS

  1. Mam, why not India have its own browser, search engine like Google, and social sites like Facebook even we are having top IT companies like wipro ,Infosys, HCl etc.
    Please mam explain .

  2. hello mam,
    my question is : what is sever. how is it work.if ,i want to browse any site,but that is not supporting by web browser ( google chrome) then what is the reason for this.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here