Landline क्या है और इसके प्रकार

आखिर लैंडलाइन क्या है (What is Landline in Hindi)? एक समय था जब telephones का नाम सुनते ही लोगों के दिमाग में Landlines का चित्र आता था. लेकिन अब वो चित्र cell phones या smartphones में बदल चूका है. अब ज्यादा लोग Landlines के जगह में cell phones का इस्तमाल करते हैं. लेकिन वहीँ अगर आपको Telephones के बारे में जानना है तब आपको पहले Landlines के विषय में जानना पड़ेगा. ये जानना होगा की ये लैंडलाइन नंबर क्या है? Landlines के प्रकार क्या हैं? और ऐसे बहुत से सवाल जिन्हें जानने के बाद आपके मन में उठ रहे सभी सवालों के जवाब आपको article के अंत तक मिल ही जायेंगे.

इस digital age में, cell phones का इस्तमाल इतना ज्यादा बाद गया है की जिसके फलस्वरूप landline की usage में काफी गिरावट देखी गयी है. जहाँ एक समय था जब एक landline के घर में होने से ये आपके हैसियत को बयां करता था. लेकिन वहीँ बात अब बहुत बदल चुकी है. कुछ घरों में और offices में अभी तक भी लोगों के पास Landlines हैं, वहीँ कुछ लोगों के पास यह इसलिए हैं क्यूंकि उनकी vision या hearing disabilities होती है, और ऐसे में landline phones कुछ ऐसे features offer करता है जो की शायद cell phones offer नहीं करते हैं. इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को Landline क्या है और इसके प्रकार क्या है के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे आप लोगों को इन पुराने phones के विषय में सम्पूर्ण जानकारी हो. तो यदि आपको इन बेहतरीन devices के विषय में जानना है तब यह article लैंडलाइन क्या होता है हिंदी में जरुर पढ़ें. तो बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं.

लैंडलाइन क्या है (What is Landline in Hindi)

Landline Kya Hai Hindi

Landline एक प्रकार का telephone होता है जो की signals को transmit करता है, जिन्हें वो audio data से convert किया होता है physical media के इस्तमाल से, जैसे की wire या fibre optic cable. वहीँ mobile phones में data को transmit radio waves के जरिये किया जाता है. Landline को कई बार dedicated line भी कहा जाता है क्यूंकि यह एक permanent connection होता है दो locations के बीच. वहीँ अभी के समय में ये term का इस्तमाल fixed-line home phones को mobiles से differentiate करने के लिए किया जाता है.

लैंडलाइन के प्रकार

चलिए अब जानते हैं की Landline के अलग अलग प्रकार क्या हैं. वैसे इसके मुख्य रूप से दो प्रकार होते हैं.

Corded Phones

Corded telephones दोनों models desktop और wall-mounted models में उपलब्ध थी. Corded telephones ज्यादा affordable option होती थी landline phones में, लेकिन ये cordless phones की flexibility को offer नहीं करती है. बहुत से corded landline phones में एक speakerphone की option हुआ करती है जो की users को ज्यादा mobility प्रदान करता है. वहीँ लम्बी phone cords एक दूसरा ही option होते हैं mobility gain करने के लिए. Corded Phone की जो मुख्य advantage है वो ये की उनकी reliability power outage के दौरान. मतलब की जब power available भी न हो तब भी corded phone काम करती रहेंगी लेकिन Cordless नहीं.

एक corded landline में मुख्य device wall jack के साथ cable के माध्यम से जुदा हुआ होता है. इसमें phone base और receiver (या handset) एक दुसरे के साथ एक cord के माध्यम से connected होते हैं.

Cordless Phones

Cordless phones users को वो option प्रदान करता है जिसमें की वो एक वो bridged कर देता है दोनों landline की affordability और cell phone की flexibility को. Cordless phones users को freedom और mobility प्रदान करती है, क्यूंकि users उन्हें 20 से 30 meters की दुरी तक ले सकते हैं और इसमें ongoing call पर कोई फरक नहीं पड़ेगा. इन cordless phones की जो downside वो ये की power outage के दौरान इन्हें इस्तमाल नहीं किया जा सकता है.

इन cordless landline में, phone का base connected रहता है wall के jack के साथ cable के द्वारा लेकिन इसमें handset wirelessly connected रहता है. इन cordless phone की range बहुत ही कम होती है, basically एक घर के premises तक ही. वहीँ Cordless landlines को building के electrical system के साथ plugged in रहना पड़ता है, जिसका मतलब की corded landlines के विपरीत ये power outages (electricity के न होने पर) काम नहीं कर सकती हैं.

Special Needs वाले phones

बहुत से corded और cordless landline telephones अनेकों variety के options के साथ आते हैं उन individuals के लिए जिन्हें कुछ special need चाहिए उन्हें operate करने के लिए. उदाहरण के लिए जो users hearing loss से पीड़ित हैं, उन्हें ऐसे phones चाहिए जिसमें की amplified sound की सुविधा उपलब्ध हो. Phones जिसमें lights flash कर रहे हों जब फ़ोन में ring आता है, ऐसा होने में ये उन hearing loss वाले लोगों की मदद करेगा call आने पर phone उठाने में. वहीँ जिन individuals की vision problems होती हैं, उनके लिए phones जिसमें बड़े dial pads हों उचित रहेगा.

Braille telephones को भी designed किया गया है पूरी तरह से अंधे लोगों के लिए जिसमें phones के ऊपर large buttons होते हैं जहाँ keypads में Braille होती है.

Bsnl landline का Plan कैसे Change करे

BSNL landline users को plan change करने में बड़ी परेशानी होती है लेकिन अब और नहीं क्यूंकि हम आज ये जानेंगे की कैसे simple और hassle-free manner से BSNL Landline का Plan change कैसे करें.
BSNL के द्वारा बहुत से BSNL landline plans प्रदान किये जाते हैं customers को जहाँ उन्हें plans के अनुसार unlimited outgoing और incoming calls मिलते हैं.

यहाँ पर यदि आप अपने current plans से satisfied नहीं हैं तब आप जब चाहे उसे बदल सकते हैं और सही BSNL landline plans चुन सकते हैं. वहीँ अगर आप कोई plans को upgrade करना चाहते हैं आपको suitable plan को चुनना होगा.

कैसे अपने BSNL Landline Tariff Plan को बदले?

S.NOBSNL Landline Plan Change करने के तरीके
1.आप online visit करें selfcare.bsnl.co.in
2.या Offline में आप Exchange office visit कर सकते हैं.

कैसे अपना BSNL Landline plans को बदलें Online selfcare .bsnl.co.in के मदद से?

यदि आप BSNL Landline के plans बदलना चाहते हैं तब आपको नीचे बताये गए steps का पालन करना होगा.

Step 1:  अपने Browser में Visit करें www.selfcare.bsnl.co.in

Step 2:  फिर अपने account को Register करें.

Step 3:  इसके बाद आप account में Log in करें.

Step 4:  इसके बाद अपने Landline plan को चुनकर, उसमें Submit your landline plan change request करें.

कब हमें अपना BSNL Landline Plan बदलना चाहिए?

आप अपना BSNL landline plan बदल सकते हैं अपने landline services के हिसाब से और अपने जरुरत के हिसाब से.

कैसे हम अपना existing BSNL Landline Plan के विषय में जानें?

आप अपना BSNL landline plan online या customer care को call करके जान सकते हैं, ऐसा करने से आपको आपका current BSNL landline plan जरुर मिल जायेगा.

क्या में अपना BSNL landline plan via SMS बदल सकता हूँ?

फिलहाल के लिए आप अपना BSNL landline plan SMS के द्वारा बदल नहीं सकते हैं.

लैंडलाइन नंबर क्या होता है

एक landline number का मतलब वही समान होता है जैसे की एक phone number का. इस Number को यदि आप किसी mobile phone या landline number से dial करते हैं तब केवल वहीँ landline number ring होगी जिसका नंबर आपने dial किया है. जैसे हमारे इलाके में House number होता है लोगों के घरों को पहचानने के लिए, ठीक वैसे ही लोगों के landlines को पहचानने के लिए Landline number का इस्तमाल किया जाता है.

LandLine और Cell Phone में क्या अन्तर है?

एक landline और एक cell phone में काफी अंतर होता है. जहाँ landlines एक metal wire या cable का इस्तमाल करता है एक voice call को transfer करने के लिए वहीँ एक Cell Phone radio waves का इस्तमाल करता है voice call transfer करने के लिए.

एक landline phone को “hard wired” phone line भी कहा जाता है क्यूंकि Phone Equipment और device के बीच एक physical connection होता है. वहीँ Mobile Phone में या एक Cell Phone में कोई भी physical connection नहीं होता है device और equipment के भीतर. इसलिए इसे Cordless Phone भी कहा जाता है.

Landline connection में एक phone jack होता है जो की visible होता है wall में और इसी से ही phone line connected होता है. इसलिए कुछ लोग एक landline को “POTS” line भी कहते हैं जिसमें POTS का fill form होता है “plain old telephone service.” वहीँ Cell Phone में ऐसी कोई भी jack नहीं होती है, बल्कि network के लिए Mobile Towers की सुविधा होती है, जिसे की connections और coverage area के हिसाब से लगाया जाता है.

Landline की Usage क्यूँ कम हो गयी?

विगत कुछ वर्षों से Landline की usage में भारी गिरावट देखने को मिली है. ऐसा इसलिए की लोगों को अब cell phones को इस्तमाल करने में ज्यादा सहूलियत होने लगी है. इन Cell Phones को users कहीं पर भी ले जा सकते हैं और ये ज्यादा costly भी नहीं होती है Landline की तुलना में. जहाँ Landlines के लिए monthly rental देना होता है वहीँ Cell Phones या Mobile Phones में Prepaid की सुविधा होती है, जिसमें आपको उतनी की पैसों का भुक्तान करना होता है जितनी की आपने services ली हैं. इसलिए इसे हर कोई afford कर सकता है. इतने सार benifits के होने के वजह से लोगों को अब Landlines की ज्यादा जरुरत मह्सुश नहीं होने लगी इसलिए वो Cell Phones को ज्यादा इस्तमाल करने लगे.

Conclusion

मुझे आशा है की मैंने आप लोगों को लैंडलाइन क्या है (What is Landline in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को लैंडलाइन नंबर क्या होता है के बारे में समझ आ गया होगा. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. आपके इन्ही विचारों से हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिलेगा. यदि आपको मेरी यह post लैंडलाइन क्या होता है हिंदी में से आपको कुछ सिखने को मिला हो तब अपनी प्रसन्नता और उत्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

7 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.