Consumer Forum क्या है और कैसे काम करता है?

आज के इसी लेख में आप जेनेंगे के Consumer Forum क्या है? इस दुनिया के सभी लोग हर दिन कुछ ना कुछ अपनी जरुरत या अपने पसंदीदा सामान खरीदते हैं. फिर चाहे वो सामान बाज़ार से खरीदते हैं या फिर internet के जरिये online e-commerce site से खरीदते हैं. तो जैसे की हम एक दुकान से सामान खरीदते हैं तो हम उस दुकान के मालिक के ग्राहक(consumer) हुए. ये जान कर आपको हैरानी होगी की जो हमे समान बेचते हैं वो ग्राहक को किसी ना किसी तरह से लूटते हैं या धोखा देते हैं जिस बात से हम अनजान रहते हैं. और इस बात का हमे तभी पता चलता है जब उस ख़रीदे हुए सामान से हमे कोई हानी पहुचती है या फिर हमें पैसे का नुक्सान होता है. हमारे भारत में ऐसे बहुत से कम लोग हैं जो अपने साथ हो रही समस्या को लेकर उस दुकान वाले के पास जाकर complain करते हैं. और जो लोग complain करने जाते हैं तो भी उन्हें कोई परिणाम नहीं मिलता, इसलिए हम सभी को इस चीज की एक आदत सी हो गयी है क्यूंकि हमे पता है की अगर हम आवाज़ उठाएंगे तो भी हमे कुछ लाभ नहीं मिलने वाला.

हम हर दिन देखते हैं की हमारे सामने गलत हो रहा है या कुछ ऐसा हो रहा है जो नहीं होना चाहिये फिर भी हम उसके खिलाफ आवाज़ नहीं उठाते. और यही सबसे बड़ा कारण है की वो लोग जो consumer के साथ धोका करते हैं उन्हें ऐसा करने का साहस और हिम्मत मिलता है. हम सबको इंसाफ चाहिये लेकिन इंसाफ पाने के लिए कदम आगे बढ़ाने की जरुरत है. इसलिए ग्राहक के साथ हो रहे असुविधा और नुक्सान से निजात पाने एक अच्छा और सरल रास्ता भी है, वो है consumer forum, जहाँ आपके परेशानियों को सुना भी जाता है और न्याय भी मिलता है. आज इस लेख में मै आपको इसके बारे में ही बताने वाली हूँ की consumer forum क्या है?

Consumer Forum क्या है – What is Consumer Forum in Hindi

Consumer Forum Kya hai
Consumer forum एक सरकारी न्यायालय जैसा है जो consumers के विवादों और शिकायतों के मामले को देखता है परखता है और फिर consumers को न्याय दिलाता है. Consumer forum सरकार द्वारा ही बनाया गया है जिसका मुख्य उदेश्य है consumer के अधीकार यानि की Consumer Rights की रक्षा करना. इसका विशेष कार्य है की seller यानि की दुकानदार द्वारा consumer के साथ सामानों और वस्तुओं का व्यवसाय ईमानदारी से हो इस चीज का ध्यान रखना.

ये तो बात हो गयी consumer forum के बारे में, चलिए आगे जानते हैं की आपके साथ हो रहे नाइंसाफी और धोखे के खिलाफ आवाज़ कैसे उठाएं.

शिकायत कैसे करें और कहाँ करें?

seller अगर consumer को किसी भी तरह से परेशान करता है या उसका शोषण करता है तो consumer उस seller के खिलाफ consumer forum में case दर्ज कर सकता है. और case दर्ज करने के लिए किसी वकील की जरुरत नहीं पड़ती consumer खुद ही अपना मुददा सर्कार के सामने रख सकता है और इसके लिए आपको किसीको भी पैसे देने की जरुरत भी नहीं पड़ेगी. Consumer के पास अगर उसके साथ हो रहे शोषण या परेशानियों का कोई सुबूत है जैसे की सामान का bill या कोई दूसरा दस्तावेज, तो उसे उन सभी दस्तावेजों की photo copy करके सर्कार के सामने पेश करनी होगी. सर्कार उन सभी चीजों को देख कर ही consumer के पक्ष में निर्णय लेंगे. लेकिन अगर consumer के पास ऐसा कोई भी सबूत मौजूद नहीं होगा तो seller के खिलाफ case दर्ज करने में बहुत मुश्किल होगी और बिना किसी सबूत के सर्कार आपको न्याय नहीं दिला पायेगी.

हम दो तरह से शिकायत दर्ज कर सकते हैं एक है court में जाकर और दूसरा है online website के जरिये. internet पर आपको बहुत सरे website मिल जायेंगे जिसमे आप अपने साथ हो रहे परेशानियों की शिकायत कर सकते हैं. Indian Consumer Complaint forum, India Consumer forum, Consumer complaints forum इत्यादि जैसे और भी कई forum है जो आप Internet पर search कर पा सकते हैं और शिकायत दर्ज कर सकते हैं.

Consumer मामलों की शीकायत के लिए देश में तिन तरह के consumer court बनी है, जहाँ 1 करोड़ रूपए तक की सुनवाई होती है. consumer के ख़रीदे हुए सामान में यदि कोई खराबी है या फिर उस चीज का इस्तेमाल करने से उसे हानी हो रही है तो consumer उस seller के पास जाकर सामान वापस कर अपने पैसे वापस पाने की मांग कर सकता है. अगर seller उसकी मांग को पूरा करने से इंकार कर देता है तो consumer अपने मांग को पूरा करने के लिए consumer court से मदद ले सकता है.

शिकायत कहाँ की जाये यह बात ख़रीदे गए सामान के मूल्य यानि की मुआवजे पर निर्भर करता है. अगर यह राशी 20 लाख रूपए से कम है तो District consumer forum में इसकी शिकायत कर सकते हैं जो की district level court है. यदि यह राशी 20 लाख रूपए से अधिक है और एक करोड़ रूपए से कम है तो State Commission में शिकायत कर सकते हैं, ये state level court है. और अगर धन राशी एक करोड़ रूपए की है तो National Commission में शिकायत कर सकते हैं, ये National level court है. इन सभी court का काम consumer को उसका अधिकार दिलाना है.

अगर consumer के पास online या court में case दर्ज करने का समय नहीं है तो वो फ़ोन करके के भी शिकायत दर्ज कर सकते हैं. हर राज्य का अलग अलग consumer help line नंबर होता है, जिसका पता आप internet से search करके लगा सकते हैं. और National consumer help line में call करने का नंबर है 1800-11-4000, इस नंबर पर किसी भी राज्य का व्यक्ति संपर्क कर शिकायत दर्ज कर सकता है.

किसी ना किसी तरह से हम सभी मनुष्य एक उपभोक्ता हैं और हमारे साथ हो रहे अन्याय को रोकने कोई दूसरा न्याय दिलाने वाला नहीं आएगा इसके लिए हमे खुद ही अपने हक़ की लड़ाई लड़नी होगी और अपना अधिकार पाना होगा. आशा करती हूँ की आपको इस लेख से लाभ मिला हो और आप जन गए होंगे के Consumer Forum क्या है – What is consumer forum in Hindi; जो भविष्य में आपके काम आ सके.

5 COMMENTS

  1. Mam . Meri bike chori hogi h. or mai insurance claim v kr diya hu bt 5 month hogi mujhe meri claim amount nh milli puchne pe bolte h d.l . Ki wjh se mam mere pass learning licence h bt mera claim amount nh de rhe h ….jb meri bike k investigstion k liye insurance wale aaye thye tb wo bole thye ki bike parking se chori hui h isme licence ki jrurat nh h bt aaj bolte h ye log ki licence chahiye .plz help me mam

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here