क्या 500 और 2000 के नए नोट में किसी Technology का इस्तेमाल किया गया है?

आप सभी इस खबर से वाकिफ हो चुके होंगे की भारत में अब 500 और 1000 के पुराने नोट नहीं चलेंगे अब वो नोट रद्दी के समान हो गए हैं. इन पुराने नोटों की जगह RBI ने 500 और 2000 के नए नोट जारी किया है. और 11 नवम्बर से ये नए नोट आप सभी के पास मौजूद हो जायेंगे लेकिन उसके लिए आपको अपने पुराने नोट पहले bank या post office में जाकर deposit या exchange करवाने होंगे.

Social Networking media का इस्तेमाल भारत के सभी लोग करते हैं उनमे से Facebook और WhatsApp का इस्तेमाल ज्यादातर लोग करते हैं. जब से 500 और 1000 के नोट बंद होने की घोषणा की गयी है उसके बाद से आप सब को Facebook या WhatsApp में ये message जरुर मिला होगा की 500 और 2000 के नए नोट में नए और बेहतरीन technology का इस्तेमाल किया गया है जिससे की देश में अब भ्रस्टाचार ख़तम हो जायेगा और किसी के पास भी काला धन नहीं रहेगा. ये message देख कर हम सबको खुसी मिलती है की आखिर कार हमारा देश बदलेगा और तरक्की करेगा.

लेकिन दोस्तों इन नए नोटों के बारे में हमें जो भी सुचना इन social networking media से मिल रही है क्या वो सच है? तो चलिए इसके बारे में आज हम जानेगे की क्या 500 और 2000 के नोट में किसी technology का इस्तेमाल किया गया है? अगर हाँ तो वो कौनसी technology है?

2000 के नोट में कौन सी Technology का इस्तेमाल किया गया है?

Rs.2000 ke note ki technology
कल से हम सबको न्यूज़ में, Facebook में, WhatsApp में और बहुत सारे website पर भी एक नयी खबर सुनने को मिल रही है की 2000 रूपए के नोट में Nano GPS technology का इस्तेमाल किया गया है और इस नोट में इसकी चिप लगायी गयी है जिससे की भारत की सरकार ये पता लगा पायेगी की 2000 के नोट कहाँ कहाँ रखे हुए हैं. इसके साथ साथ हमे और भी features सुनने को मिले हैं मै आपको बताती हूँ वो क्या हैं

  1. 2000 के नोट में nano technology का इस्तेमाल किया गया है ताकि भारत को काले धन से मुक्ति मिले.
  2. 2000 के हर नोट में Nano GPS की चिप(NGC) लगी है जो की बिना किसी power source के अपने आप ही काम करेगी.
  3. ये जो NGC है वो एक tracker की तरह काम करेगा जो satellite से connect होकर रहेगा जिसकी मदद से सरकार इन पैसों को कहाँ रखा गया है उसके सही जगह का आसानी से पता लगा पायेगी.
  4. इस technology का इस्तेमाल इस प्रकार किया गया है की अगर कोई भी व्यक्ति 2000 के नोट को जमीन के निचे 120 feet अंदर भी छुपा कर रखेगा तब भी वो सरकार की नजर से नहीं बच पायेगा और उन पैसों का पता आसानी से लग जायेगा.
  5. अगर कोई भी व्यक्ति घुश देते वक़्त या लेते वक़्त 2000 की नोट का इस्तेमाल करेगा तो वो नोट अपने आप ही ख़राब हो जायेगा और फिर वो किसी के काम नहीं आ सकेगा.

दोस्तों ये कुछ features हैं 2000 के नए नोट के बारे में जिसके बारे में आपने सुना या देखा होगा. लेकिन मै आपको ये चीज बता दूँ की ऐसी कोई भी technology का इस्तेमाल एक नोट में बिलकुल भी नहीं किया जा सकता क्यूंकि ऐसा हो पाना मुमकिन ही नहीं है और इसके बारे में आपने जो कुछ भी सुना है या पढ़ा है वो सब झूठ है गलत है.

जिस technology के बारे में अफवाएं फैलाई जा रही है अगर वैसा कर पाना मुमकिन होता तो क्या हमारी सरकार बेवकूफ है जो इसका इस्तेमाल हमारे देश में अब तक नहीं किया गया था. यहाँ पर जिस चीज की बात की गयी है की जमीन के अन्दर 120 feet निचे पैसे छुपाये जाने पर भी उसका पता लगाया जा सकता है तो क्या वो व्यक्ति जिसके पास इतना पैसा है वो उस पैसे को बचाने के लिए 125 feet निचे छुपा कर नहीं रख सकता? जिससे सरकार भी इस बात का पता नहीं लगा पायेगी, तब तो वो व्यक्ति सरकार की नज़र से बच जायेगा, फिर इस technology का क्या फायेदा हुआ?

मै सिर्फ यही केहना चाहती हूँ की इन झूठी अफ्वाओं पर बिलकुल भी भरोसा मत करिए, ये नोट बाकि नोटों के तरह ही हैं. यक़ीनन 500 और 2000 के नए नोट में कुछ बदलाव किये गए हैं जैसे 500 के नोट के पीछे लाल किले का चित्र बना हुआ है जहाँ पहले पुराने नोट में Dandi यात्रा का चित्र हुआ करता था और 2000 के नोट का रंग बैगनी है और उसके पीछे मंगल यान का चित्र बना हुआ है. इन दोनों नोटों के पीछे 15 अलग अलग भाषाओं में 500 और 2000 लिखा गया है.

और भी बहुत सारी नयी और अलग चीजें इन नोटों में जोड़ी गयी हैं अगर आपको 500 और 2000 के नए नोट के बारे में पूरी जानकारी चाहिये तो आप rbi.org.in की website में जा कर इसके बारे में सही जानकारी हासील कर सकते हैं.

मुझे उम्मीद है की आपको ये लेख पसंद आएगी, इससे जुड़े कोई भी सवाल आप पूछना चाहते हैं तो बेझिझक पूछ सकते हैं. अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ ये जानकारी जरुर share करें ताकि उन्हें भी सच जानने का मौका मिले.

Hindi Me Jankari

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here