पहलवान सुशील कुमार – ओलंपिक पदक विजेता बने हत्यारा

सुशील कुमार या जिनका पूरा नाम सुशील कुमार सोलंकी है वो भारत के एक प्रसिद्ध फ़्री स्टाइल रेस्लर हैं. उन्होंने भारत को अलिम्पिक खेलों में लगातार दो बार मेडल दिलाया हुआ है. सन 2012 London Olympics में सिल्वर मेडल और सन 2008 Beijing Olympics में bronze मेडल. इतनी सारी उपलब्धि के बाद शायद ही कोई ऐसा भारतीय होगा जिसे की सुशील कुमार के बारे में न पता हो. 

सुशील कुमार ने जब से अपना career कुश्ती में शुरू किया है तब से वो भारत को हमेशा गर्व महसूश कराते रहे हैं. इतना ही नहीं वो दूसरे नए wrestlers को भी प्रेरित करते रहे हैं. इससे उन्हें भारत का अनमोल रत्न कहना ग़लत नहीं होगा. 

आज के इस आर्टिकल में हम लोग सुशील कुमार के जीवन से जुड़ी कुछ अनसुनी और अनकही बातों के बारे में जानेंगे. उम्मीद है की आपको हमारी ये कोशिश ज़रूर ही पसंद आने वाली है. तो फिर चलिए शुरू करते हैं पहलवान सुशील कुमार का जीवन परिचय

पहलवान सुशील कुमार मर्डर केस

आज के समय में सुशील कुमार बहुत ही ज़्यादा सुर्ख़ियों में हैं. इसका मूल कारण ये है की वो एक मर्डर केस के साथ जुड़े हुए हैं ऐसा पुलिस का मानना है. ये बात बहुत ही दिल दहलाने वाली थी जब मई २३, रविवार को एक ऐसी खबर सामने आयी जो की पूरी भारतीय स्पोर्ट्स बिरादरी को हिला कर रख दी थी. सुशील कुमार जी को दिल्ली पुलिस ने arrest कर दिया था एक दूसरे पहलवान सागर राणा के मर्डर के सिलसिले में. ये घटना Chhatrasal Stadium में हुई थी.  

बात तब थोड़ी अजीब लगी जब सुशील कुमार और उनके एक साथी अजय कुमार एकदम से ग़ायब हो गए थे इस घटना के तुरंत बाद ही. एक रिपोर्ट से ये बात भी सामने आयी की सुशील ने एक बंदे हो कुछ पैसे भी दिए हुए थे इस पूरी वारदात का विडीओ शूट करने के लिए, जो की आगे चलकर उन्ही के लिए ही मूल परेशानी खड़ा किया. सुशील का मानना था इस इस विडीओ के ज़रिए वो अपनी बिरादरी में दूसरे पहलवानों को ये बता देना चाहते थे की कोई एक दो बार ओलम्पिक विजेता के साथ ऐसी हरकत नहीं कर सकता है. 

ये वो एक चेतावनी के रूप में करना चाहते हैं, लेकिन इस हरकत के दौरान सुशील कुमार के हाथों पहलवान सागर राणा की मौत हो जाती है. 

सागर राणा कौन है?

सुशील कुमार के हाथों मर्डर हुआ व्यक्ति ही सागर राणा है. सागर राणा की आयु 23 साल की थी जो की एक जूनियर रेसलर भी था. वो असल में दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल का बेटा था.  

सागर मर्डर केस क्या है?

एक रिपोर्ट के मुताबिक बताया जा रहा है कि सागर और उसके दोस्त एक घर में किराये से रहते थे. यह घर असल में सुशील की पत्नी (सवी कुमार) के नाम पर था. 

इस घर को खाली करवाने के लिए सुशील दबाव डाल रहे थे. लेकिन सागर बिलकुल भी नहीं सुन रहा था सुशील की बातों को. इतना ही नहीं वो और उसके साथी पैसे देने से भी मना कर दिया था. 

उसके बाद सुशील कुमार अपने साथियों के साथ मॉडर्न टाउन इलाके में गए जहाँ पर फ्लैट नंबर D 10/6 से सागर और उसके सत्यों को किडनैप किया गया. किडनैप करने के बाद उन्हें छत्रसाल स्टेडियम ले जाया गया. इस पूरी वारदात के दौरान सुशील कुमार गाडी में गन लिए हुए बैठे हुए थे.  

इसके बाद उस स्टेडीयम में सुशील और उसके साथियों ने सागर और उसके साथियों के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी थी. इसके साथ उन्हें डराने के लिए गोलियां भी चलाई, जिसका उनपर ज़्यादा कुछ असर नहीं हुआ था. यह मारपीट इतनी ज़्यादा हो गयी थी की सागर राणा कुछ समय के लिए बहोस भी हो गए थे. 

इस बीच सागर के दोस्तों ने पुलिस को खबर भी कर दी थी, और मौक़ा देखकर सुशील और उसके साथ उस जगह से फ़रार भी हो गए. बाद में पुलिस ने सागर और उनके साथियों को हॉस्पिटल में एडमिट कराया. किन्तु सागर की हॉस्पिटल में ईलाज के दौरान ही मौत हो गई.

ये थी सरकार हत्याकांड से जुड़ी कुछ ऐसी बातें जो की शायद आपको मालूम न हो. अभी फ़िलहाल सुशील कुमार को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है और उनके ऊपर सागर हत्याकांड का केश चल रहा है. वहीं उन्हें उनकी नौकरी से भी बहिष्कार कर दिया गया है.

सुशील कुमार का जीवन परिचय

सुशील कुमार जी की व्यक्तिगत जानकारी यहाँ पर उपलब्ध करवायी गयी है. आप इस टेबल के ज़रिए सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

Name (नाम)Sushil Kumar Solanki
Father’s name (पिता का नाम)Diwan Singh
Mother’s name (माता का नाम)Kamla Devi
Wife (पत्नी का नाम)Wife (पत्नी Savi Kumar
Height5’ 5″
Weight66kg
Eye ColourBlack
Hair ColourBlack
Date OF Birth (जन्म की तारिक)26th May, 1983
Age (आयु)36
Birth Place (जन्म स्थान)Baprola
Zodiac Sign (राशि)Gemini
Nationality Indian (भारतीय)
HometownBaprola, Delhi
CollegeNoida College of Physical Education, Noida

सुशील कुमार प्रारंभिक जीवन

भारतीय पहलवान सुशील का जन्म दक्षिण पश्चिम दिल्ली में नजफगढ़ के पास बपरोला गांव के एक जाट परिवार में हुआ था. उनके पिता दीवान सिंह एमटीएनएल दिल्ली में ड्राइवर थे, जबकि उनकी मां कमला देवी एक गृहिणी हैं.

उन्होंने नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन, दादरी से शारीरिक शिक्षा में स्नातक और उसी विषय में परास्नातक पूरा किया.

सुशील कुमार एक सख्त शाकाहारी पहलवान हैं. वो दूध, घी और ताजी सब्जियों जैसे आहार खाना पसंद करते हैं . सुशील वर्तमान में भारतीय रेलवे में सहायक वाणिज्यिक प्रबंधक के रूप में कार्यरत हैं.

सुशील कुमार की प्रफ़ेशनल लाइफ़

जब से सुशील जी ने कुश्ती को अपना सबकूछ माना है तब से उन्होंने और पीछे मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने अपना पहला मेडल Asian Junior Wrestling Championship में सन 2000 को जीता था. वहाँ उन्होंने एक गोल्ड मेडल जीता था. 

जूनियर प्रतियोगिताओं से बाहर निकलने के बाद, सुशील ने 2003 में एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता. इसके बाद राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता.

एथेंस में 2004 के ओलंपिक खेलों में सुशील कुमार का खराब प्रदर्शन रहा, उन्होंने 60 किग्रा भार वर्ग में 14 वां स्थान हासिल किया. लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी. बल्कि उन्होंने 2005 और 2007 में कॉमनवेल्थ कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर जोरदार वापसी की.

सुशील ने बेजिंग में आयोजित 2008 ओलंपिक खेलों में कांस्य पदक जीतकर ओलंपिक में अपना पहला पदक जीता. 20 अगस्त 2008 को, उन्होंने लियोनिद स्पिरिडोनोव के खिलाफ कांस्य पदक मैच खेला, उन्हें 3:1 से हराया.

उन्होंने सन 2012 के ओलंपिक में इतिहास रचा, इस आयोजन में रजत पदक जीता और इस तरह इस आयोजन के इतिहास में दो ओलंपिक पदक जीतने वाले पहले भारतीय पहलवान बन गए. वह 2012 के लंदन ओलंपिक फाइनल में तत्सुहिरो योनेमित्सु से हार गए थे, जिससे वो स्वर्ण पदक से हाथ धोना पड़ा था. 

सुशील कुमार ने स्कॉटलैंड के ग्लासगो में 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के लिए 74 किग्रा फाइनल में कमर अब्बास को हराकर स्वर्ण पदक जीता.

सुशील ने 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स, गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया में अपनी आखिरी बड़ी टूर्नामेंट जीत हासिल की. उन्होंने फाइनल में जोहान्स बोथा को हराकर 74 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता.

सुशील कुमार का परिवार 

सुशील कुमार के परिवार की बात की जाए तब उनके पिता का नाम था Diwan Singh और माता का नाम Kamla Devi. वो एक माध्यमवर्ग के परिवार में जन्मग्रहण किया था. वो बपरोला गाँव में पैदा हुए थे. उनके पिता एक बस ड्राइवर थे वहीं माता ग्रहणी. 

उन्हें कुश्ती की प्रेरणा अपने पिता और चचेरा भाई संदीप से मिली थी. उनके चचेरे भाई ने कुश्ती करना छोड़ दिया क्यूँकि उनका परिवार केवल एक ही को सपोर्ट कर सकता था. इतने कम पैसे और सुविधा होने के वाबजुद भी उन्होंने अपने सपने को पूरा किया. इसमें उनके परिवार वालों का पूरा साथ रहा.  

सुशील कुमार की पत्नी 

सुशील कुमार जी की पत्नी का नाम सवी कुमार है. वो असल में सुशील के गुरु सतपाल सिंह की ही बेटी है. वो भी एक समय में बढ़िया टेनिस प्लयेर थी और उन्होंने नैशनल भी खेला हुआ है. इस जोड़े ने 2011 में दोस्तों और परिवार के साथ एक निजी समारोह में शादी के बंधन में बंध गए. उनके 2 बेटे हैं.

सुशील कुमार का Diet

वह अपने प्रशिक्षण के लिए सख्त कार्यक्रम के साथ संतुलित आहार लेते हैं. उनका दैनिक दिनचर्या सुबह 5 बजे शुरू होता है, जिसमें दौड़ना, नाश्ता करना, नाश्ते के बाद, दोपहर का भोजन और रात का खाना शामिल है. वह अपने पूरे दिन के बीच में उचित प्रशिक्षण के बाद रात 10 बजे तक बिस्तर पर सोते हैं.

उनके आहार में ताजा जूस, अंडे, दूध, ब्रेड, केला, पनीर, रोटी, हरी सब्जियां, बादाम, चपाती और अन्य उच्च प्रोटीन शाकाहारी भोजन शामिल हैं.

सुशील कुमार का Career

सुशील कुमार ने अपनी wrestling career की शुरूवात बहुत ही कम आयु १४ में की थी. उनके पास उतनी ज़्यादा धनराशि न होने के कारण उन्हें उच्च मान के प्रसिक्षण से वंचित रहना पड़ा. उस समय वो प्रसिद्ध wrestling coach Satpal जी से सीखते थे. कुछ महीने के प्रशिक्षण के बाद उन्होंने अपने सर्किट में दाव खेलना शुरू कर दिया आयर साथ में उन्होंने वहाँ भी जितना शुरू कर दिया था. 

उन्होंने अपना पहला gold medal जीता था World Cadet Games में सन 1998 को. उसके बाद से उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. I2000 में, उन्होंने एशियाई जूनियर कुश्ती चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता और भारत के शीर्ष नवोदित पहलवानों में से एक के रूप में उभरे. अपने समर्पण और कड़ी मेहनत के साथ, वह जल्द ही समर्थक पहलवान बन गए और वर्ष 2003 में अपना पहला कांस्य पदक हासिल किया.

इसके बाद उन्होंने लंदन में कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता. वह सबसे बड़े खेल आइकन में से एक है और कई अन्य विज्ञापनों में आयशर मोटर्स, पतंजलि, माउंटेन ड्यू जैसे कई विज्ञापनों में देखा गया है.

सुशील कुमार के Awards और Achievements

  • Arjuna Award से सम्मानित किया गया सन 2005 में.
  • Rajiv Gandhi Khel Ratna Ward मिला सन 2008 को.
  • Padma Shri Award मिला सन 2011 को.

सुशील कुमार के Records

यहाँ पर उनके कुछ रेकर्ड के बारे में जानकारी दी गयी है :

  • Gold medal मिला था London Commonwealth Championship में सन 2003 में. 
  • Bronze medal मिला New Delhi Asian Championships में सन 2003 में.
  • Gold medal मिला Cape Town Commonwealth Championship 2005 में.
  • Gold medal मिला London Commonwealth Championship 2007 में. 
  • Silver medal मिला Kyrgyzstan Asian Championships in 2007.
  • Bronze Medal मिला Beijing Olympics,2008 में.
  • Bronze medal मिला Jeju Island Asian Championships, 2008 में. 
  • Gold medal मिला Jalandhar Commonwealth Championship,2009 में. 
  • Gold medal मिला New Delhi Asian Championship, 2010 में. 
  • सन २०२१० में Gold medal मिला Moscow World Championships में.
  • Gold medal मिला Delhi Commonwealth Games, 2010 में.
  • Silver Medal मिला London Olympics,2012 में.
  • Gold medal मिला Gold Coast Commonwealth Games, 2018 में.

सुशील कुमार का Net Worth

सुशील कुमार की कुल संपत्ति $100k और $1M (लगभग) के बीच अनुमानित है.

सुशील कुमार के Social Media Profiles

Facebookhttps://www.facebook.com/Sushil-Kumar-214438055336512
Instagramhttps://www.instagram.com/wrestlersushill
Twitterhttps://twitter.com/WrestlerSushil
Sushil Kumar Net Worth

सुशील कुमार के पहले गुरु का नाम किया है?

सुशील कुमार के पहले गुरु का नाम सतपाल सिंह है.

सुशील कुमार की जन्म की तारिक कितनी है?

सुशील कुमार की जन्म की तारिक 26/5/1983 है.

सुशील कुमार के गुरु का क्या नाम था ?

सुशील कुमार जी ने सातपाल, यशवीर, राजकुमार बैसला गुर्जर एव ज्ञान सिंह से शिक्षा प्राप्त की है.

सुशील कुमार के प्रिय फ़िल्म ऐक्टर कौन कौन हैं?

सलमान खान और Amitabh Bachchan उनके प्रिय ऐक्टर हैं.

क्या सुशील कुमार जी शाकाहारी हैं?

जी हाँ सुशील कुमार जी शाकाहारी हैं.

सुशील कुमार जी के बेटों के नाम क्या क्या हैं?

सुशील कुमार जी के बेटों के नाम सुवीर कुमार और सुवर्ण कुमार है.

आज आपने क्या सीखा?

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख सुशील कुमार का जीवन परिचय जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को सुशील कुमार के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है.

इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं.

यदि आपको यह लेख Sushil Kumar की व्यक्तिगत जानकारी से कुछ सीखने और जानने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

Previous articleSandeep aur Pinky Faraar Full Movie Download Available on Tamilrockers and Other
Next articleBattlegrounds Mobile India जल्द होगी रिलीज़
नमस्कार दोस्तों, मैं Prabhanjan, HindiMe(हिन्दीमे) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Enginnering Graduate हूँ. मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :) #We HindiMe Team Support DIGITAL INDIA

2 COMMENTS

    • Olympic medals to nahi chhina ja sakta hai kyunki wo kisi steroid case mein nahin phase hain. Baki indian medals ko jab tak guilty prove nahin ho jate tab tak nahi le ja sakte hain.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here