Digital Camera क्या है और कैसे काम करता है?

डिजिटल कैमरा क्या है (What is Digital Camera in Hindi)? अपनी यादों को कहीं पर कैद कर रखना सच में अपने आप में एक अजूबा सा लगता है. जी हाँ दोस्तों यदि आपने Camera सोचा है तब आप बिलकुल ही सही है क्यूंकि ये ऐसा electonic device होता है जिसका इस्तमाल हम कोई द्रश्य को कैद कर अपने पास रखने के लिए इस्तमाल करते हैं. जहाँ पहले Camera की technology बहुत ही पुरानी थी और कीमती भी इसलिए इसका इस्तमाल केवल धनी लोग ही कर पाते थे. लेकिन समय के साथ साथ 1990 से Digital Camera का बहुत प्रचलन होने लगा. क्या आप जानते हैं की ये डिजिटल कैमरा में क्या होता है. यदि नहीं तब आपको आज इस article में बहुत से नयी चीज़ों को सीखने का अवसर प्राप्त होगा.

अभी के समय की बात करूँ तो प्राय हम सभी के SmartPhones में एक digital camera लगा हुआ होता है. इसलिए इसका इस्तमाल बहुत ही आसान और सस्ते हो गए हैं. आपको ज्यादा बड़े और महंगे cameras खरीदने की जरुरत ही नहीं है अगर आप camera के working को समझते हैं और इसके components को समझते हैं. ऐसा इसलिए क्यूंकि ये आपके skills के ऊपर निर्भर करता है की आप अपने skills का कैसे इस्तमाल करते हैं. हम तो कह सकते हैं की इस century का सबसे exciting innovation है Digital Camera. इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को डिजिटल कैमरा के प्रकार के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे आपको इसे बेहतर रूप से समझने में आसानी होगी. तो बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की ये डिजिटल कैमरा क्या है इन हिंदी.

डिजिटल कैमरा क्या है (What is Digital Camera in Hindi)

Digital Camera Kya Hai Hindi

सबसे पहले आपको ये समझना होगा की ये शब्द camera एक Latin word “camera obscura” से लिया गया है जिसका मतलब होता है “dark chamber”. यदि हम पुराने समय की बात करें तब technology के इतने development के न होने से film cameras को ज्यादातर इस्तमाल pictures खींचने के लिए किया जाता था. वैसे अगर हम Digital Camera की बात करें तब यह एक ऐसा कैमरा होता है जो इमेज और विडियो को डिजिटल फोर्मेट में कैप्चर करता है. आजकल बाजार में सबसे ज्यादा इसी तरह के कैमरे बेचे जा रहे है. इसमें इमेज सेंसर का प्रयोग किया जाता है जिससे फोटो अच्छी क्वालिटी की और परफेक्ट आये. Digital Camera में फोटोज और विडियो को स्टोर करने के लिए मेमोरी कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है.

ज्यादातर कैमरे ऐसे होते है जिनमे USB केबल का प्रयोग भी किया जा सकता है जिससे कैमरे से सीधा Images को Computer में ले सके. आज भले ही बाजार में बहुत से अच्छे से अच्छे सेल्फी कैमरा आये है लेकिन डिजिटल कैमरे जैसी अच्छी और बेहतरीन पिक्चर क्वालिटी किसी में नहीं है.

आजकल तो इन कैमरों का प्रयोग वाहनों, मोबाइल फ़ोन आदि में किया जाने लगा है. इस तरह के कैमरे में एक पारम्परिक कैमरे की तुलना में अधिक फोटोज और वीडियोस स्टोर किये जा सकते है. एक डिजिटल कैमरा वो सब काम कर सकता है जो की एक फ़िल्मी कैमरा नहीं कर पाता.

पहला Digital Camera किसने Invent किया था?

क्या आप जानते है कैमरे का आविष्कार किसने किया था? सबसे पहला Digital camera को invent किया था Steven Sasson ने सन 1975 में.

डिजिटल कैमरा कैसे काम करता है

Digital Camera Kaise Kaam Karta Hai Hindi

Digital cameras तो दिखने में एक ordinary film cameras जैसे ही होते हैं लेकिन ये पूरी तरह से अलग रूप में काम करते हैं. जब आप अपने digital camera से picture खींचने के लिए कोई button press करते हैं तब एक aperture open हो जाता है camera के front में और light उस lens के माध्यम से अन्दर घुसने लगती है. अब तक तो ये पहले के film camera के जैसे ही है. लेकिन अब इसकी working में बहुत अंतर दिखाई पड़ेगी. इस Digital Camera में कोई film नहीं होती है. बल्कि इसके जगह में एक electronic equipment की piece होती है जो की incoming light rays को capture करती है और उन्हें electrical signals में बदल देती है. इसमें ये light detector दो प्रकार के होते हैं. एक है charge-coupled device (CCD) और दूसरा है एक CMOS image sensor.

अगर आपने कभी भी एक television screen को close up से देखा हो तब, आपने जरुर ही ये notice किया होगा की उसमें स्तिथ picture करोड़ों छोटे छोटे colored dots या squares से बने हुए होते हैं जिन्हें की pixels कहा जाता है. वहीँ Laptop LCD computer screens में भी इन्ही pixels का इस्तमाल होता है, लेकिन ये pixels दिखने में बहुत ही छोटे होते हैं. वैसे इन television या computer screen में, electronic equipment switch करता है सभी colored pixels को on और off बहुत ही quickly. Screen से जो Light आपके आखों तक आता है उसमें कुछ समय लगता है जिसके चलते हमारा brain मुर्ख बन जाता है और बार बार on off हो रहे pixels को moving picture समझने लगता है. ऐसा इसलिए क्यूंकि इनकी on off की sequence बहुत ही synchronize ढंग से होती है.

वहीँ एक digital camera में, ठीक इसका उल्टा होता है. इसमें उस वस्तु से Light आपके camera lens को आती है. इसमें incoming “picture” hit करती है image sensor chip को, जो की break हो जाती है करोड़ों छोटे छोटे pixels में. ये sensor measure करता है प्रत्येक pixel की color और brightness को और उन्हें एक number के हिसाब से store करता है. आपकी digital photograph सही माईने में एक enormously long string होती है numbers की जो की describe करती है exact details प्रत्येक pixel की जो की ये contain करती है.

ये थी एक छोटी सी description Digital Camera के working को लेकर.

डिजिटल कैमरा का इतिहास

इसका आविष्कार सन 1975 में स्टीवन सैसन इस्टमैन ने किया था. डिजिटल कैमरा 1990 के दशक में लोगों के बीच में आया था. सन 2000 में तो इस तरह के कैमरों ने फ़िल्मी जगत में भी अपनी पहचान बना ली. सन 2010 के बाद तो यह कैमरे स्मार्टफोन में भी आने लग गए.

डिजिटल कैमरा के फायदे

डिजिटल कैमरे से रिकॉर्ड की गई इमेज को तुंरत बाद स्क्रीन पर प्रदर्शित किया जा सकता है.

  • एक छोटे से मेमोरी कार्ड में हजारों फोटोज का भंडारण किया जा सकता है.
  • इसमें आवाज के साथ-साथ विडियो को भी रिकॉर्ड किया जा सकता है.
  • इसमें जगह खाली करने के लिए इमेज या विडियो को डिलीट भी किया जा सकता है.
  • कुछ डिजिटल कैमरों में तो तस्वीरों में भी कांट-छांट संभव है.

डिजिटल कैमरा की मुख्य अंश

चलिए Digital Camera के main parts के विषय में जानते हैं.

1. Battery compartment: इस camera में दो 1.5-volt batteries रहने का स्थान होता है, इसलिए ये प्रायतोर से 3 volts (3 V) की voltage में operate करता है.

2. Flash capacitor: ये capacitor charges up होता है कुछ seconds के लिए जिससे ये store करता है enough energy जिससे की Flash को fire किया जा सके.

3. Flash lamp: इसे एक Capacitor के मदद से Operate किया जाता है. ये कुछ मात्रा में energy consume करता है जिससे की ये एक xenon flash को उर्जा प्रदान करता है. इसलिए indoor flash photography में आपकी बहुत सी batteries की खपत हो जाती है.

4. LED: ये एक छोटी red LED (light-emitting diode) होती है जो की ये indicate करती है की कब self-timer operate हो रही होती है, जिससे आपको ये पता चल जाता है की आप अभी photos ले सकते हैं आसानी से.

5. Lens: ये lens catch करती है light उस object से जिसे की आप photographing कर रहे हैं और उसे focus करती है CCD में.

6. Focusing mechanism: Camera में एक simple switch-operated focus होती है जो की lens को toggle करती है दो positions के बीच, जिससे या तो आप close-ups ले सकते हैं या distant shots.

7. Image sensor: ये एक light-detecting microchip होती है एक digital camera में और ये इस्तमाल करती है या तो CCD की या CMOS technology की. आप इस chip को देख नहीं सकते हैं क्यूंकि ये lens के निचे स्तिथ होती है.

8. USB connector: इन USB cable का इस्तमाल camera से data को दुसरे device जैसे की computer को transfer करने के लिए use होता है. आपके Computer को आपका camera एक memory device जैसे ही लगता है.

9. SD (secure digital) card slot: आप चाहें तो एक flash memory card slide कर सकते हैं जिससे आप इसमें बहुत से photos store कर सकते हैं. ऐसा इसलिए क्यूंकि by default camera की बहुत ही कम internal memory होती है photos को store करने के लिए.

10. Processor chip: ये camera का main digital “brain” होता है. ये control करता है camera की सभी functions को. इसे आप एक Integrated circuit भी कह सकते हैं.

11. Wrist connector: ये strap का इस्तमाल camera को securely अपने wrist में बांधने के लिए होता है.

डिजिटल कैमरा के प्रकार

चलिए इन camers के अलग अलग प्रकार के विषय में जानने की कोशिश करते हैं.

1. Compact Digital Camera 

इन कैमरों को इस तरह से डिजाईन किया जाता है की यह आकार में छोटे हो जिससे इन्हें कहीं भी ले जाना आसान हो. 20mm से भी कम मोटाई वाले सबसे छोटे कैमरों को Subcompact या Altra-Compact के रूप भी डिफाइन किया जाता है. Compact कैमरों को इस तरह डिजाईन किया जाता है की उनका यूज़ करना सरल और सुविधाजनक हो तथा उनकी तस्वीरों की गुणवता भी बेहतरीन हो.

इनमे इमेज केवल JPEG फोर्मेट में ही सेव होते है. ज्यादतर Compact कैमरों में इंटरनल Flash होते है जिनकी शक्ति कम होती है लेकिन पास की वस्तुओं के लिए पर्याप्त होती है. लागत को कम करने और आकार को छोटा करने के लिए इनमे 6mm विकर्ण वाले इमेज सेंसर का प्रयोग किया जाता है.

2. Bridge Digital Camera 

यह High Level के डिजिटल कैमरे होते है जिनकी बनावट DSLR कैमरे जैसी होती है. इस तरह के कैमरों में बहुत सी सुविधाएँ होती है लेकिन Compact कैमरों की तरह इनमे भी फिक्स लेंस और छोटे इमेज सेंसर का प्रयोग किया जाता है.

इनका आकार बड़ा होता है लेकिन इनमे इमेज सेंसर छोटा होता है. कई Bridge कैमरों में अधिक क्षमता वाले विशेष लेंस होते है और साथ में इनमे ज़ूम करने की क्षमता भी अधिक होती है. Bridge कैमरों में DSLR की तरह दूसरी तरफ देखने की व्यवस्था का अभाव होता है.

3. डिजिटल सिंगल लेंस रिफ्लेक्स कैमरा (DSLR Camera)

DSLR कैमरा एक तरह का High Leval कैमरा होता है जो फोटोज और वीडियोस को डिजिटल फोर्मेट में कैप्चर करता है और उसे इलेक्ट्रॉनिक इमेज सेंसर की मदद से रिकॉर्ड करता है. इन कैमरों में सेंसर का आकार बड़ा होता है जिनका विकर्ण आमतौर पर 18mm से 36mm तक होता है.

इस तरह के कैमरों में अन्य लेंस को भी जोड़ा जा सकता है. इनमे प्रयोग किये जाने वाले लेंस भी बहुत Advance होते है. इसके लेंस और Advance फीचर आपकी इमेज को परफेक्ट बनाते है. आज के दौर में सबसे ज्यादा DSLR कैमरे प्रयोग में लिए जाते है. इन कैमरों में दूसरी तरफ देखने की सुविधा भी होती है.

4. Intercambiable Camera या अंतरपरिवर्तनीय कैमरा

इस तरह के कैमरे 2008 में अस्तित्व में आये. दर्पण बॉक्स को हटा दिए जाने के कारण यह DSLR कैमरों की तुलना में अधिक सरल और अधिक Compact होते है. इन कैमरों में LED जैसा गिलास होता था जिसमे जो इमेज आप कैप्चर करने जा रहे है उसे पहले देख सकते थे और उसके हिसाब से फोकस एडजेस्ट कर सकते थे.

5. Digital Rangefinder Camera डिजिटल रेंजफाइंडर कैमरा

इस तरह के कैमरों का प्रयोग वस्तुओं की दुरी मापने के लिए किया जाता है जो कभी फ़िल्मी कैमरों में यूज़ होता था.

6. Line Scan Camera

इस तरह के कैमरों में एक लाइन स्कैन इमेज सेंसर चिप और Focusing प्रणाली होती है. इन कैमरों में मैट्रिक्स की बजाय Pixel Sensor का प्रयोग होता है. लाइन स्कैन कैमरा किसी भी लाइन को स्कैन करने, इन्तजार करने और दोहराने का कार्य करता है. इस तरह के कैमरे के डाटा को एक Computer द्वारा एक्सेस किया जाता है.

Conclusion

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख डिजिटल कैमरा क्या है (What is Digital Camera in Hindi) जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को डिजिटल कैमरा कैसे काम करता है के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. यदि आपको यह लेख Digital Camera क्या होता है हिंदी में सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

7 COMMENTS

  1. Hello Sir.

    Apke Sare Article Bahut Hi Useful Hai Maine Apke Jyadatar Article Read Kiye Hai Meko Padh Ke Motivation Bhi mila Or Ye Bhi Sikhne Ko Mila Ki Article Kaise Likhe Jate Hai.

    Mera 1 Question Hai Sir.

    New Blog Banane Ke Baad Uske Keywords KO Minimum Rank hone Me Kitna Time Lagta Hai.

  2. Sir App ke article ko padhte rhne ka mann hota …thx you achhi achhi article k liye..
    main v blog pe chote mote post karta hu ar app svi se sikhta hu.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here