वेब सर्वर के प्रकार

आप लोगों को तो अब तब सर्वर के विषय में मालूम पड़ ही गया होगा, अब बारी है ये जानने की आख़िर Server के प्रकार क्या क्या हैं? तो यदि आप भी इसी सवाल का जवाब जानने में इछूक हैं तब चलिए इस विषय में जानते हैं.

उससे पहले यदि आपको सर्वर या वेब सर्वर के बारे में फिर से जानना है तब नीचे मैंने वो भी एक बार फिर बतायी हुई है जिससे की आपके मन में वो ज्ञान क्लीर हो जाएगी.

तो बिना देरी किए चलिए वेब सर्वर के प्रकार के बारे में जानते हैं.

सर्वर क्या है?

server kitne prakar ke hote hain

Server एक ऐसा Computer System होता है जो की नेट्वर्क में दूसरे सिस्टम को (Client) resources, data, services, या programs प्रदान करता है.

इसे हम theory में समझें तब, जब भी computers किसी प्रकार का कोई resources share करते हैं client machines के साथ तब उन्हें हम servers मान सकते हैं. वैसे तो बहुत से प्रकार के servers होते हैं, जिनमें आते हैं web servers, mail servers, और virtual servers. ये सभी सबसे ज़्यादा प्रमुख हैं.

सर्वर कितने प्रकार के होते हैं?

वैसे नए era की जरूरतों के हिसाब से बहुत से प्रकार के servers मेह्जुद हैं.

एक server ऐसा device या computer होता है किसी एक network में जो की network resources को supervise करने का कार्य करता है.

उदाहरण के लिए एक file server ऐसा एक storage device होता है जो की केवल files को store करने का ही कार्य करता है.

ये server network में user को file save करने में मदद प्रदान करते हैं. एक server उसके basic server task को छोड़कर कोई दूसरा कार्य नहीं कर सकता है. वहीँ अगर आप एक multiprocessing operating system का इस्तमाल कर रहे हों तब एक single system ही एक समय में बहुत सारे program को run कर सकता है.

एक server platform को operating system के जैसे ही इस्तमाल किया जाता है.

Server अलग अलग प्रकार का होता है और अलग अलग सेवाएं भी प्रदान करता है.

1. Web Server

Web servers में internet पर मौजूद जितने भी websites हैं उनके data store हो कर रहते हैं और ये server web browser से जुड़ा हुआ रहता है तो जब भी कोई user web browser से किसी website को देखने के लिए request करता है तब ये browser web server से connect कर website का data user के device पर भेज देता है.

2. Email Server

Email Server message भेजने और receive करने में मदद करता है और users के account की सारी details और messages को server पर store कर के रखता है.

जैसे की मान लीजिये आप अपने दोस्त को एक mail भेज रहे हैं तो message लिखने के बाद आप send button पर click करते हैं उसके बाद वो message को mail server SMTP protocol का इस्तेमाल कर आपके दोस्त के account में भेज देता है.

3. File Server

File server network के जरिये files transfer करने में मदद करता है. File server एक computer में सभी files को store और manage करता है और users के request करने पर उसके computer में file की copy को भेज देता है. File server का इस्तेमाल local network पर होता है.

4. Application Server

Application Servers बहुत ज्यादा मात्रा की computing territory को database servers और end user, के बीच रखती है और जिन्हें regularly एकसाथ bond किया जाता है.

दो dissimilar applications को एक साथ connect किया जा सकता है एक Middleware software के इस्तमाल से. इससे user data request कर सकता है database से जिसके लिए उन्हें web browser का form इस्तमाल करना होता है जो की displayed होते हैं.

इससे web server आसानी से dynamic Web pages तक जा सकती है userके requirements और profile के अनुसार.

Middleware में split products की ability होती है जो की दो applications के बीच super glue का कार्य करता है.

Middleware एक plumbing agent का कार्य करता है चूँकि ये एक application के दो sides को attach करता है और उसके भीतर से data को pass कराता है.

Generally इसमें TP monitors, DCE environments, RPC systems, Object Request Brokers (ORBs), Database access systems, Message Passing इत्यादि मुख्य होते हैं.

5. Audio/Video Server

Audio/Video Servers के मदद से ही multimedia applications में वो ability आती है जिससे की वो websites में broadcast कर सकें streaming multimedia contents को.

Multimedia streaming एक technique होती है data transporting करने के लिए. Internet के growth से इस technology में भी काफी बढ़ोतरी हुई है. जो users के पास बड़े multimedia files को download करने की सुविधा नहीं होती है उनके लिए streaming एक बहुत ही अच्छा solution है.

जब client-side data receive करती है और उसे आगे forward करती है steady stream के form में तब ये उस data को process करता है और फिर उसे immediately ही sound और pictures में convert करता है उनके desired format में. धीरे धीरे बहुत सी competing streaming technologies अब आ रहे हैं.

6. Chat Server

इन Chat Servers के मदद से बहुत से user अब conversation कर पा रहे हैं और एक दुसरे के साथ data और information का exchange कर पा रहे हैं उसी similar environment में और ये possible हो पा रहा है real-time discussion capabilities के साथ क्यूंकि real-time का मतलब ही होता है instantly होना.

ये real-time बहुत से दुसरे features भी offer कर रहा है जैसे की navigation, moving objects को display उसी समय में जब text appear हो रहा हो. Real-time केवल एक minute या कुछ seconds लेता है react करने के लिए.

7. Fax Server

ये Fax Server को commonly उन बड़े organization में इस्तमाल किया जाता है जहाँ की समय ही पैसा होता है. Fax Servers समय की बचत करता है और incoming और outgoing telephone resources को कम करता है.

8. FTP Server

FTP का Full form होता है File transfer protocol. यह एक बहुत ही पुराना internet service है जो की users की मदद करता है files को move करने के लिए एक स्थान से दुसरे स्थान पर वो भी बहुत ही securely.
FTP Servers साथ में file safety, transfer control और files की organization भी प्रदान करता है.

9. Groupware Server

Groupware Server को बनाने के पीछे का जो मुख्य objective था वो ये की इससे users आसानी से jointly काम कर सकते हैं, फिर चाहें जो किसी भी जगह में हों, इसके लिए internet या एक mutual intranet का इस्तमाल किया जाता है और इसतरह से एक near environment में एक साथ काम किया जा सकता है.

10. IRC Servers

IRC Servers का इस्तमाल real time abilities को पाने के लिए होता है. IRC का full form होता है internet relay chat जिसमें बहुत से split networks of servers स्थित होते हैं जो की users को permit करते हैं एक दुसरे के साथ attach होने के लिए वो भी एक IRC network के माध्यम से.

11. List Server

List servers एक बहुत ही fantastic method जिससे की mailing list को handle किया जा सकता है जो की statement, newsletters, या publicity लाते हैं. ये List Servers interactive discussions होते हैं जो की open होते हैं community के लिए.

12. Mail Server

Mail Servers का कार्य होता है email को store करना mutual networks में वो भी LANs और WANs की मदद से, Internet में.

13. News Servers

News Servers का इस्तमाल news को share और deliver करने के लिए होता है, इसके लिए USENET news network का इस्तमाल करते हैं क्यूंकि इसका इस्तमाल दुनिया का बहुत से लोग करते हैं.

14. Proxy Server

Proxy Servers का इस्तमाल requirements को filter करने के लिए, बेहतर appearance प्राप्त करने के लिए और connections को share out करने के लिए. Proxy Servers अक्सर एक client programs में exist करती है usually एक Web browser और एक external server में.

15. Telnet Server

इन Telnet Servers के माध्यम से एक user computer में log on कर अपना काम कर सकते हैं.

Servers Operating Systems

चलिए अब जानते हैं की कुछ ऐसे उदाहरण Servers operating systems के जो की बहुत ही ज़्यादा महत्वपूर्ण होते हैं.

1. Microsoft Windows servers

ये सर्वर Microsoft Windows के हैं. Microsoft की पहली real server operating system थी Windows NT. अभी के समय में current Windows Server version है Windows Server 2016. ये version support करती है बहुत से applications और databases को.

2. Linux / Unix servers

ये Linux / Unix servers एक बहुत ही बड़ा major player है server operating systems में. इसके multiple versions महजूद हैं जिसमें शामिल है Red Hat Enterprise Linux, Debian, और CentOS. Linux / Unix servers को open-source operating system भी माना जाता है.

3. NetWare

जैसे जैसे client-server era बढ़ रहा है. ऐसे में NetWare एक major player बन सकता है server software space में. अब तो NetWare ने अपनी server operating system को एक Linux-based kernel में मूव कर दिया है और साथ में इसका नाम Novell Open Enterprise Server (OES) रखा हुआ है.

4. Cloud Servers

Virtual servers जिन्हें की host किया जाता है एक third-party infrastructure में वो भी एक on open network, जैसे की Internet पर, उन्हें cloud servers कहा जाता है.

वैसे तो आज के समय में बहुत से cloud server providers महजूद हैं, जिनमें मुख्य हैं Google’s Cloud Platform, Microsoft Azure, और IBM Cloud.

आज आपने क्या सीखा

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख वेब सर्वर के प्रकार जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को Server Types in Hindi के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं.

यदि आपको यह लेख Servers operating systems के कुछ उदाहरण पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here