Internet क्या है और इसका मालिक कौन है?

क्या अपने कभि सोचा है के इंटरनेट क्या है (What is Internet in Hindi), इंटरनेट का मालिक कौन है  या फिर इसके फायदे और नुकसान क्या क्या है. सच बोलूं तो आज की दुनिए इसके वैगर एक पल भी नही चलेगा. घर से ले कर बाहर तक, हर जगह आपको ये किसी ना किसी रूप में मिल जाएगा. जो चीज़ को हम इतना इस्तेमाल करते है, उसके बारे में knowledge होना बहुत जरूरी है.

मैं आपको Internet का meaning क्या है इसकी जानकारी हिंदी में दूँ, उससे पहले मैं आपको कुछ बातें बताना चाहता हूँ आजकल की दुनिया में इंसान बिना बिजली, बिना सोये, बिना खाए रहा सकता है लेकिन बिना Internet के तो बिलकुल नहीं रहा सकता.वैसे आप सोच रहे होंगी ये कहने की बात है लेकिन ये आजकल की नोजवान पीढ़ी के लिए यही सचाई है,जिसको देखो वही mobile में लगे रहता है, और उसको आप पूछो गे क्या कर रहे हो तो वो यही बिलेगा “Internet” तो इसी सवाल का जवाब ही मैं आपको दूंगा इंटरनेट क्या होता है और इसके साथ साथ  कुछ और जानकारी दूंगा. मेरे इस लेख को पढ़ते रहिये. लेख के ख़तम होते होते आप ज्ञान का भंडार बढ़ चूका होगा.

इंटरनेट क्या है (Internet in Hindi)

internet kya haiआपका सवाल Internet है क्या? इसका जवाब एक ही लाइन में दूँ तो ये दुनिया का बोहत ही बड़ा Network का जाल है, इस्सी जाल को Internet की भाषा में media या फिर Transmission media बोला जाता है| वैसे थोड़ी जानकारी और दे देता हूँ ये जाल एक तरह का Wire है, जिसमे Information और data दुनिया भर में घूमता रहता है| और ये डाटा इन सब में से “text, image, mp3, video” कुछ भी हो सकता है ज्यदा तोर text, image, MP3, video Internet पे सब ढूंडते रहते है.

net में Data और Information, Router और Server के जरिए जाना आना करते हैं, Router और Server ही दुनिया के सारे Computer को जोडके रखते हैं, जब Message एक Computer से दुसरे Computer तक जाता है तो तब एक protocol काम करता है जिसका नाम है IP (Internet Protocol), Protocol का मतलब “Internet को चलने के नियम है जिनको प्रोग्रामिंग में लिखा ज्याता है”.

इंटरनेट के कुछ और मतलब (Define Internet in Hindi)

तो अगर आपको Internet का मतलब समझना है तो इन जानकारी को अछे से आप पढ़ें और समझें

  • ये बोहत सारे छोटे बड़े network का मिलन है, ये एक Network का network है
  • यही  “Information भेजने का बड़ा रास्ता है, जिसमे Information को एक दुसरे के साथ share किया जाता है.
  • ये दुनिया के सारे Computer का बोहत बड़ा Network है, जो की सारे Computer को जोड़ के रखता है.
  • इसको  को world wide web या फिर World Wide Network बोला जाता है, अगर कोई आप से पूछे दुनिया का सबसे बड़ा network कोनसा है तो उसका जवाब होगा Internet
  • ये  Router और Server के जरिये दुनिया के सारे Computer को आपस में जोड़ता है जिससे data और information हर Computer तक पोहंच सके.
  • इसमें  में तो बोहत सारे Computer रहते है, लेकिन उनका पता जानने के लिए IP Address का इस्तमाल होता है, जो की हर Computer का एक हि रहता है.

इंटरनेट का इतिहास हिंदी में (Internet History in Hindi)

Net की  History की बात की जाये तो 1969 में ये दुनिया में अपना पहला कदम रख चुकता था, और वक्त और technology क बदलाव से ये आगे बढ़ता गया और अभी बी रुकने का नाम नहीं ले रहा है. थोडा और जानते है.

  • Internet का उद्गम ARPANET (ADVANCE RESEARCH PROJECT AGENCY network) से हुआ था.
    ARPANET Ameriaca का रक्षा बिभाग का हिस्सा था 1969 में.
  • सुरुवात में गुपनिया ख़त Computer के जरिये भेजने क लिए ये Network बनाया गया था इसी का नाम था ARPANET.
  • सुरुवात में इस बिचार को पांच US University के Computer को Connect करने के लिए ये इस्तेमाल हुआ था.
    1972 के दसक तक ये दुनिया के 23 Node और दुनिया के अलग अलग देशों से जुड़ चूका था जिसका नाम बाद में दिया गया Internet
  • सुरुवात इससे इस Network को Private Network के तोर पर इस्तमाल किया जाता था बाद में ये सब तक पोहंचा गया और साल भर साल इसमें बदलवा आता गया और अभी आप इसी Internet के जरिया मेरी जानकारी Internet क्या है और Internet का इतिहास आप पढ़ रहे थे.

भारत में इंटरनेट का इतिहास (History of Internet in India in Hindi)

भारत में Internet पहली बार 15 August 1995 को इस्तेमाल हुआ था. उस वक्त की सबसे बड़ी Telecom कंपनी VSNL(Videsh Sanchar Nigam Limited) ने ये सेवा दी गई थी.इसके बाद ये भारत में कुछ इस तरह से बदलाव लाया था.

  • बड़े बड़े सहरों में net को पोहंचाया गया.
  • 1996 Redifmail नाम की ईमेल साईट की सुरुवात हुई भारत में.
  • भरता पहला साइबर कैफ़े 1996 में मुंबई में खुला.
  • 1997 Noukri.com जैसी साईट भारत में बनी, आज हर कोई इसे जनता है.
  • 1999 Hindiportal “webdunia” की सुरुवात हुई.
  • 2000 के दशक तक technology act 2000 भारत में लागु हुआ.
  • Yahoo इंडिया और msn इंडिया की भी सुरुवात 2000 के दसक में हुई थी.
  • 2001 Online Train Website irctc.in की सुरुवात हुई थी.

इंटरनेट के फायदे और नुकसान (Advantages and Disadvantages of Internet in Hindi)


जैसे सिक्के के दो पहलु रहते हैं वैसे ही हर चीज़ के लाभ और हानि होते हैं वैसे ही Internet के भी फायदे और नुन्सन होते हैं चलोये जानते हैं क्या है Internet के फायदे और नुकसान इसके बारे में थोडा विस्तार में जानते हैं.

इंटरनेट के फायदे (Advantages of Internet in Hindi)

अगर आप Internet के सही से उपयोग करोगे तो आप बोहत कुछ कर सकते हो, इसलिए निचे दिए गए net के फायदे अछे से पढ़ें और अपनी जिंदिगी को Digital बनायें

  • इसको  ज्यादा तोर पर Social Networking, Education, मनोरजन, Online जानकारी देने में ज्यदा मददगार होता है.
  • इसे आपकी  time की बचत तो  होगी और आप चाहो तो बोहत कुछ सिख सकते हो.
  • इसके इस्तेमाल से  हम कोई भी Information को बड़ी आसानी से ढूंड सकते है.जैसे हम Google में करते है.
    किसीको भी बड़ी आसानी से Message, audio, video, Document Internet में हम भेज सकते है जैसे की Whatsapp, Facebook, Twitter में हर कोई करता है.
  • अगर पढाई की बात की जाये आजकल हर कोई ऑनलाइन पढाई कर सकता है और research कर सकता है.
  • और सबसे अच्छा फायदा- Online services जैसे online Shopping, Online Recharge, Movie Ticket Boking, Internet Banking, Online Transaction ये सब Internet की वजह से ही हो पाया है.
  • इसके के जरिये आप किसी के साथ आमने सामने मतलब Video कालिंग कर सकते है.
  • इसकी वजह से ही आजकल E-Commerce साईट बोहत ही तेजी से आगे बढ़ रही हैं.
  • इसमें में आप Information Share कर सकते हैं, E-Mail जैसे सुविधा आपको Internet की वजह से हो पाया है.
  • मनोरंजन के लिए भी आपको इसकी  की सक्त जरुरत है. जिससे आप गाने डाउनलोड कर सकते हो, Video देख सकते हो, दुःख को दूर करने के लिए Online game खेल सकते हो.
  • सबसे बड़ा फायदा यह है की आपको सारे सवालों के जवाब मिल जायंगे जैसे अभी आपको ये भी मिल जाये गा Internet क्या है(What is the Meaning of Internet in hindi).
  • आपको हर  पल की खबर आपको मिलती रहेंगी जब चाहो तब, इसके साथ Science,Technolgy,की भी जानकारी मिलती रहेगी Internet में.
  • आप अपना सारा डाटा स्टोर करके रख सकते हो इसमें  और जब चाहो तब वापस डाउनलोड कर सकते हो.
    ये Government के लिए भी काफी फायदे मंद है, Government अपने scheme Internet के जरिये आसानी से लोगों तक पोहांचा सकी है.

क्या हैं इंटरनेट के नुकसान (Disadvantages Of Internet in Hindi)

आपको अगर अपनी जिंदगी को सही तरीके चलाना है इस Digital दुनिया में तो इन बातों को जरुर ध्यान से पढ़ें, और दुसरो को बताएं

  • इसका का नुकसान इसकी लत है, अगर आपको लग गई तो अप इसके पीछे लगे रहो गे और होगा क्या इससे आपका वक्त बर्बाद होगा.
  • इसमें कोई भी कुछ भी लिख के share कर देता है चाहे वो सही हो या गलत, इससे गलत Information लोगों तक पहच ती है|
  •  इसके जरिये आपका सारा Data आपके Computer से कोई भी चुरा सकता है Hackers के जरिये.
  • कभी कभी कोई भी गलत Video(mms) बड़ी तेजी से नेट में फ़ैल जाता है ये भी एक  नुकसान है.
  • Computer Virus Internet से ही आपके Computer तक पोहंच सकता है जिससे आपके सारे डाटा गायब हो सकते हैं और आपके Computer को भी Slow कर देता है
  • बोहत सारे प्रोनोग्र्फी साईट net में होती हैं जिसमे अश्लील तस्वीर और Video रहते है और इनसे बचों के दिमाग पर बोहत ही बुरा असर पड़ता है.
  • इसमें में जो Social साईट जैसे Facebook,Instagram रहती है उनमे कुछ लोग किसी की भी तस्वीर छोड़ देते हैं ये भी Internet का नुकसान हैं
  • Internet पे कुछ ऐसे वेबसाइट होती हैं जिनमे लोग आपको कुछ सवाल पूछ कर सारी जानकारी ले लेते हैं और उसका वो गलत फ़ायदा उठाते है.
  • net के इस्तेमाल से जैसे आपका वक्त बचाता है वैसे ही आपका वक्त भी बर्बाद करता है.

मेरी अंतिम निर्णय

भाइयों और बहनों मेरी ये जानकारी आपको काफी अछि लगी होगी. जिसमे हमने आपको पहले बतया इंटरनेट क्या है (what is internet in Hindi), और उसके बाद पढ़े होंगे Internet History in Hindi जिसमे आप जाने Internet का इतिहास के बारे में, इसके बाद Internet का इतिहास भारत में, और इस लेख में काफी मायने रखता है ये सवाल क्या है Internet वो भी Hindi में Internet के फायदे और नुकसान हिंदी में. अगर आप चाहते हो की आगे भी Computer Technology की जानकारी आपको मिलती रहे तो हमारे ब्लॉग को Subscribe कर लीजिये. अगर अभी बी कोई संदेह है तो निचे comment box में लिखे आपका सवाल काफी मायने है मेरे लिए और कोई सुझाव भी दे सकते हैं आप. जय हिंद, जय भारत, बोहत बोहत धन्यबाद.

105 COMMENTS

  1. supar bro sari bare aapne bilkul ache se samgai hai me aaoka bohat aabhari hu aap aesi achi achi post dalte rahia kariye dhanyvad ye jankari dene ke liye

  2. very nice sir
    aap hame kya yeh bata sakte hai ki application kaise banaya jata hai ?
    haikars hamare compter ko hack kaise karte hai ?
    hack se kaise bacha jaye ?

  3. नमस्ते सर मेरा नाम खिलावन है आपने जो लिखा है उसके बारे में मेरे मन में एक प्रश्न है आपने लिखा है-
    इसमें में तो बोहत सारे Computer रहते है, लेकिन उनका पता जानने के लिए IP Address का इस्तमाल होता है, जो की हर Computer का एक हि रहता है.

    आपने लिखा है IP Address एक ही होता है मेरे को please बताये कैसे एक होता है।

    • Khilawan ji, ip address network ke hisab se badal jate hain. Agar aap apne ghar mein laptop ka istamal kar rahe hain tab aapki jo ip address hogi wo badal jayegi agar aap usi laptop ya computer ko kisi dusre jagah mein istamal karenge tab. kyunki us samay mein aap dusre interent service provider ki service ka istamal kar rahe hote hain.
      IP address hame ISP (Internet Servie Provider) pradan karte hain. Ise chahen to aap badal bhi sakte hain.

  4. सर आपने लिखा है कि हर कम्प्यूटर का IP Address एक ही होता है क्या ये सच है। अगर सच है तो IP Address कैसे देखूं मैं अपने कप्यूटर का ।

  5. हिंदी में इन्टरनेट की इतनी अच्छी जानकारी दी है आप ने इसके लिए धन्यवाद.”net के इस्तेमाल से जैसे आपका वक्त बचाता है वैसे ही आपका वक्त भी बर्बाद करता है” ये लाइन आप ने बिलकुल सही लिखा है.अगर हम सही तरह से इन्टरनेट का उपयोग नहीं करेंगें तो अपना बहुत सारा वक़्त बर्बाद कर देंगें.

  6. Sir मेरा एक question है इंटरनेट से पहले कौन कौन से net आये और किस सन मे आये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.