LiFi क्या है और कैसे काम करता है?

LiFi जिसका पूरा नाम है Light Fidelity. यह एक हाई स्पीड ऑप्टिकल वायरलेस तकनीक है. इस LiFi तकनीक में Visible Light (LED बल्ब से निकलने वाली रोशनी) का इस्तमाल डिजिटल सूचना प्रसारण में किया जाता है.

Lifi Kya Hai Hindi

जैसे की आपको पता होगा यह Technology WiFi से मिलती जुलती है वैसे तो दोनों WiFi और LiFi में काफी अंतर है. दोनों सामान इसीलिए हैं क्यूंकि दोनों Wireless तरीके से Information को Share करते हैं.

WiFi Radio Waves से data Transmission करता है, तो दूसरी तरफ LiFi Visible Light Communication का इस्तमाल करता है. Light bulb (LED) में जो रोशनी होती है उस रोशनी से यह technology कार्य करती है.

LiFi Visible Light Communication यह एक Optical Communication Technology है. जिनमे Visible Light Rays का use होता है. इन Rays की range है 400-800 Thz.

इस Technology में Light के माध्यम से data Transfer होने के कारण इसकी speed करीबन 224 GBps है. जो wifi से करीबन 1000 गुणा ज्यादा है. मतलब यह technology हर जगह उपलब्ध नहीं है वरना आप कुछ Seconds के अंदर, एक LED बल्ब के निचे खड़े हो कर Movies, Videos Download कर सकते हैं.

इसका फायदा यह भी है Internet की सेवा आपको मिलेने साथ, आपके कमरे में कभी भी अंधेरा होगा ही नहीं क्यूंकि जब आप LiFi बल्ब को on करोगे तब रोशनी भी निकलेगी और internet भी.

LiFi काम कैसे करता है

जैसे सारे Internet Devices काम करते हैं वैसे ही LiFi भी काम करता है. कैसे काम करता है यह जानने से पहले आपको यह जान लेना चाहिए इसमें कोन कोन से Components का इस्तमाल किया जा रहा है. मुख्य रूप से ये 3 component होते हैं.

1. Lamp Driver
2. LED Lamp
3. Photo Dectector

इन तीनो Components के साथ साथ आपको एक और Connection चाहिए जिसको हम और आप कहते हैं Internet. पहले से ही मैं आपको एक जानकारी दे चूका हूँ यह Lights के जरिए data Transmission करता है.

LED बल्ब के कुछ Characteristics हैं. LED बल्ब में Light Emitting Diode और Fluorescent Component के कारण LiFi के लिए यह सही Component है.

LiFi के लिए High-Speed data rate की आवस्यकता है और LED बल्ब में DATA Light की Speed से Transmit होते हैं. इन LED Bulb में Light Intensity काफी तेजी से बदलता रहता है. Light कभी On होता है तो कभी Off.

Human Eyes इन LIght On और Off को कभी देख ही नहीं सकते. किंतु Photo Detector को यह सब दिखाई देता है. इन सभी वजहों के कारण LED बल्ब सबसे सही है. LiFi की कार्य प्रणाली को समझने के लिए आपको LED को समझना जरुरी था.

कार्य प्रणाली

Internet Source Lamp Driver से जुड़ा रहता है और Lamp driver, internet cables से आने वाली Information Led Bulb के अंदर Transmit करता है. फिर LED बल्ब में जो Ligth आती है. वह निचे Photo Dectector से टकराते ही, Photo detector Light में होने वाल्रे बदलाव को आसानी से पहचान जाता है.

अब Photo detector Light Signals को Binary data Convert कर देता है. और Computer या फिर Smartphone पे Process होने के लिए भेज देता है. बाद में वह Audio, Video, Images में Convert हो जाता है. इसके बाद Application में हम डाटा को देख सकते हैं.

जैसे Lamp Driver से होते हुए Led Lamp और इसके बाद Photo Detector से data Mobile के पास आता है. वैसे ही इसके वीपरीत Mobile से डाटा वापस LED Lamp से होते हुए data वापस Receiver के पास जा सकता है. यह Bidirectional System पे भी काम करता है. Sender से Receiver और Receiver से Sender.

LiFi vs WiFi in Hindi

Feature LiFi WiFi
Full form Light Fidelity Wireless Fidelity
Operation LiFi में Data Transmission का माध्यम Light है WiFi में Data Transmission का माध्यम Radio Waves है
Devices LED bulb Wireless Router है
Interference इसमें कोई भी Interference Problem नहीं है Routers के साथ Interference Problem है
Technology Present IrDA compliant devices WLAN 802.11a/b/g/n/ac/ad standard compliant devices
Applications airlines undersea explorations hospitals के operation theaters में office और home में Internet Browsing के लिए इस्तमाल किया जाता है WiFi Hotspot के जरिए Internet Access किया जाता है
Advantages Interference कम है salty sea water में काम करता है घंच Area में भी काम करता है Interference ज्यादा है salty sea water में काम नहीं करता है घंच Area में भी काम कम करता है
Privacy Light दिवार के दूसरी तरफ ना जाने के कारण Transmission Secure रहता है इसमें Network Open रहने के कारण Data Transmission Secure नहीं रहता है
Data transfer speed 1 Gbps 150 Mbps+
Frequency of operation Radio Waves के Frequency से 10 गुणा अधिक इसमें 2.4GHz 4.9GHz और 5GHz
Coverage distance 10 meters 32 meters (WLAN 802.11b/11g) Transmission Power और Antenna पे निर्भर है
Components Lamp driver LED Photo Detector LED bulb Wireless Router

History of LiFi in Hindi

Prof. Harald Haas, वो UK के University of Edinburgh के थे. जिनको LiFi Technology का Founder भी बताया जाता है. अपने Invention को वो Tech Talk में Represent किये थे. Harald Haas Pure LiFi के Co-Founder हैं. जिनकी सोच से ही आज हम LiFi Technology को भविष्यत में इस्तमाल कर सकते हैं.

Harald Haas के मुताबिक अगर किसी भी Information को Visible Light Portion के माध्यम से भेजा जाए. तो उसे Visible light communication (VLC) कहा जाता है. Harald Haas ने एक D-Light Project को सुरु किया.

2010 से 2012 तक इस प्रोजेेेक्ट को  काफी समय दिये थे जब वो Edinburgh’s Institute में थे. काफी समय से इस project के  उपर बिताने के बाद.

2011 में TED Global Talk दौरान LiFi Technology को लोगों के सामने प्रदर्सन किए थेे. इसके बाद लोग इस Technology के बारे में लोग जानने लगे थे. उसी समय बिना समय गवाए एक Company की सुरुवात की गई थी जिसका नाम था PureLiFI जो अभी है.

PureLiFi का पहले एक  नाम था Pure VLC जो की एक original equipment manufacturer (OEM) Company थी. Purelifi के व्यवसाय को बढ़ाने के लिए यह Company मोजुदा LED Lighting पे काम करने लगी.

October 2011 में इस Company ने और Industries के  Groups मिलके LiFi Consortium का गठन किया था. दोनों का एक ही मकसद था High Speed Wireless System का गठन करना है .

Radio Waves में जो Limitation है उनको ख़तम करना. एसी बहुत सारी Companies थी जो Uni-Directional VLC Product बनाने लगी थी लेकिन वह Li-Fi से काफी भिन थी.

2012 में VLC Technology को LiFi के साथ प्रदर्सन किया गया था. August 2013 के एक प्रदर्सन में यह प्रमाणित हो चूका था. इसमें Single Color LED 1.6 Gbit/sec के साथ Data Transmission हो रहा था.

2013 September के एक Press में यह बोला गया की LiFi में Line Of Sight की कोई आवस्यकता नहीं है. October 2013 के एक Report में यह बतया गया था की Chinese Manufacturers ने LiFi kit को Development में लगे हुए हैं.

April 2014 में Russian company Stins Coman ने एक wireless Network को Develop किया जिसका नाम था BeamCaster. फ़िलहाल इस में data speed करीबन 1.25 gigabytes per second है.

आगे भविष्यत में LiFi की Speed 5 GB/sec होने वाली है. यही छोटा सा LiFi का इतिहास था. सायद पसंद आया हो आपको. चलिए अब बात करते हैं इसके फायदे और
नुकसान के बारे में.

फायदे और नुकसान (Advantages and Disadvantages of LiFi)

हर किसी के फायदे और नुकसान होते हैं वैसे ही इसके भी है. इसे आप यह पता लगा सकते हैं की क्या कुछ खास है या नहीं. चलिए सुरु करते हैं.

फायदे (Advantages)

  1. Efficiency:   आपको पता ही होगा यह Technology Visible Light Technology पे आधारित है. जैसे की आपको पता है Office और घर में पहले से ही LED बल्ब हैं. LED बल्ब Light के अच्छे Source होते हैं. इसी वजह से इनको data Transmission के लिए इस्तमाल किया जा सकता है. यह काफी सस्ता और अच्छा Energy का Source है.Data Transmission के दौरान LED बल्ब को On करना अनिवार्य है. अगर आपको Light से परेशानी हो रही है तो आप चाहो तो LED बल्ब की रोशनी को कम कर सकते हैं और फिर भी आप Internet को इस्तमाल कर सकते हैं.
  2. Availability :   जहाँ Light Source है वहां Internet है. आपको हर जगह Light Bulb देख  सकते हैं, जैसे की homes, offices, shops, malls और planes में भी हैं. आपको बोलने का एक ही  तत्वार्य है. जहां रोशनी की व्यवस्ता है वहां आप LiFi का Use कर सकते है.
  3. Security:  इस Technology का एक Advantage है Security. जैसे की आपको पता है Light दीवार के दुसरे पार नहीं जा सकता है. वैसे ही LiFi का Signalभी एक Room से दुसरे room तक Signal ना जाने के कारण LiFi Secure है. बहार का कोई भी User आपके Internet को Access नहीं कर सकता है.

नुकसान (Disadvantages)

  1. बिना Light Source के आप Internet Access नहीं कर सकते हैं. हर बार आपको Light को On करने की आवस्यकता है.
  2. एक Room के अंदर ही इसे इस्तमाल कर सकते हैं. Range Limited है.
  3. यह एक रौशनी होने के कारण दिवार को भेद नहीं सकती है. इसी वजह से Internet Limited Location पर उपलब्ध है.
  4. Sunlight की वजह से Internet Speed में बाधा होने की संभावना है.
  5. नए LiFi Connection के लिए अलग से Network बनाना पड़ता है.
  6. यह काफी महँगी technology है.

मेरी अंतिम राय इस लेख पे

हमेसा से मेरी यहि कोसिस रहती है की आपको सही और सठिक और पूर्ण Information आपको मिले. आज आप क्या सीखें LiFi क्या है और कैसे काम करता है. वैसे तो अबतक यह internet सेवा नही आया  है. आगे बहुत ज़्यादा Future है सायद आप Road में जो street light होती है वहाँ आपको INTERNET use कर सकते हैं.

आपसे यही उमीद है ये लेख आपको पसंद आया होगा, कैसा लगा आप जरुर निचे बताइए. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे. कोई सुझाव या सलाह देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जो हमारे लिए काफी उपयोगी हो.

हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें आपको हनारी जानकरी आपको सबसे पहले मिले. मस्त रहें और खुस रहें. चलो बनायें Digital India जय हिंद, जय भारत, धन्यबाद.

18 COMMENTS

  1. bhai blooger banne ke liye bhi bloge likho
    ki uska first step kya kare
    then second kya kare
    ek aachi lekh likho sir
    ummed karta hu aapse.

  2. यह लेख बहुत अच्छा लगा !सर क्या आप यह बता पायेंगे की लाइ-फ़ाई डिवाइस कब तक आ जायेगा.

  3. यह लेख हमे बहोत पसंद है।इस जानकारी के लिये बहोत-बहोत धन्यवाद।

  4. Thankyou for this Post,
    आज में कुछ नया जानने के लिए ढूंढ रहा था और मुझको आज lifi के बारे में जानने को मिला। शुक्रिया

    • Anuj Singh जी
      सुक्रिया
      अगर आप हमारे दुसरे Post पढेंगे तो आपको सायद आपको ओर भी Knowledge मिलेगा.

  5. The way you explain I just love it, I think you are a good teacher. I love to read your all article. Thank you so much keep it up sir.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here