WWW क्या है (Internet VS World Wide Web)

क्या आपको पता है WWW क्या है (What is World Wide Web in Hindi) और WWW कैसे काम करता है. आज के लेख में आपको इसकी जानकारी हिंदी में दी जाएगी. Internet के बारे में हर कोई कुछ ना कुछ जानता है लेकिन किसीको ये नहीं पता इसके पीछे किसका हात है. जब Internet की सुरुवात हुई थी तब से अब तक Internet के साथ एक सब्द हमेसा से बोहत ही ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है जिसको आप हर रोज इस्तेमाल करते हो WWW.

जब भी website, web server, webpage, hyperlink ये सब वर्ल्ड वाइड वेब के साथ जुड़े हैं. आपके मन और एक सवाल आता होगा की हर website के सामने WWW को क्यूँ लिखा जाता है. जैसे एक उदहारण लेलो www.hindime.net. इस web, Network, smartphone की दुनिया में in सभी के बारे में knowledge होना जरुरी है. तो चलिए जान लेते है के World Wide Web क्या है.

WWW क्या है (What is World Wide Web in Hindi)

www kya hai Hindi

WWW का full form है World Wide Web. जिसको W3 या Web भी बोला जाता है. ये एक information space है जहाँ पे HTML document और web resources को Uniform Resource Locators के जरिये Identify किया जाता है. जहाँ HTML document Hyper link के जरिए आपस में जुड़े रहते हैं. इन web Document को हम Internet के जरिए access करते हैं.

Information को Store करने का ये Central Hub है. WWW, एक primary tool है जिसके जरिये हम Internet को Access या communicate करते हैं. web document को HTML (Hyper Text MarkUP Language) के जरिए लिखा जाता है. HTML document के अंदर image, audio, Video या text को Formatted वे में रखा जाता है.

World Wide Web के कुछ Definitions Hindi में

  1. ये एक बोहत बड़ा network हैं जहाँ Hypertext file और web pages आपस में linked हैं. जहाँ billions of hypertext text document अलग अलग Servers और Computer में Store करके रखते हैं. जिनको web browser के जरिए Access किया जाता है.
  2. इसको हम एक system भी बोल सकते हैं जहाँ Hyper text document आपस में inter linked हैं, इनको access करने के लिए Internet का इस्तेमाल किया जाता है.
  3. इसको हम Virtual place बोल सकते हैं जहाँ दुनिया के सारे web pages, web server, Website को HTTP protocol के जरिए access किया जाता है.
  4. WWW में web pages, web servers, URL, HYPERLINKS और HTTP का collection भी बोल सकते हो. इनके बारे में निचे दिया गया है.
  5. ये resources और Users, जो HTTP के जरिए Internet से जुड़ते हैं उनका Medium है.
  6. दुनिया में जितने भी websites और web pages internet में हैं उनके combination को वर्ल्ड वाइड वेब बोला जाता है.
  7. जब कभी भी आप URL अपने Browser में लिखते हो तो समझ जाना आप WWW से जुड़ गए हो.

World Wide Web Technology

एक web page में बोहत सारे software और इनको चलाने के लिए protocols होते हैं. इन web pages को open करने के लिए web browser का इस्तेमाल किया जाता है. और browsers में images, text, Videos और दुसरे Media files रहते हैं और ये web pages Hyperlink के जरिए आपस में जुड़ते हैं. ये सब काम world wide web में होता है.

Berners-Lee (Inventor) ने 3 Technique, WWW के लिए 3 technique को develop किए थे. उनमे से एक है URL (Uniform Resource Locator) जहाँ पे website का Address रहता है. दूसरा HTML जिसके जरिये web document को बनाया जाता है. तीसरा है HTTP Hypertext Transfer Protocol. ये Rules हैं जो Internet को चलाने में मदद करते हैं.

इतिहास (History of WWW in Hindi)

Tim Berners-lee जिनको World Wide Web के Inventor बोला जाता है. जिनको web के inventor भी बताया जाता है. Berners-lee को W3C के Director थे. W3 के development को Berners Lee ही Monitor करते थे. इन्होने hypertext को भी develop किए थे. web के जरिए communication करने की technique को Develop किए थे. web page को आपस में link करने की technique को इन्होने Invent किए थे.

Hypertext के concept से, इन्होने Internet का नजरिया ही बदल डाला. 1989 Berners-lee ने world wide web server पे काम करना सुरु किया. इस server का नाम “httpd” दिया गया. सुरुवात में WWW कुछ इस तरह था WYSIWYG Hypertext Browser/editer जो की NextStep Environment में चलता है. world wide web 1991 तक दुनिया के जादातर हिसों तक पोहंच गया था.

WWW कैसे काम करता है

तो अब सवाल आता है की ये world wide web कैसे काम करता है. आपको इतना तो समझ ही गए होंगे की WWW क्या  होता है. ये webserver, website, browser, webpage, http, hypertext और आखिर में hyperlink को लेके काम करता है. इसमें सारे pages के address और pages को connect करने की ख्यामता है.

जब एक user एक web document को open करता है तो इसके लिए वो एक application का इस्तेमाल करता है जिसको हम और आप web browser बोलते हैं. आपको पता होगा एक web document को web programming language में लिखा जाता है जिसको HTML (Hyper Text Mark Up Language) बोलते है. जब कभी आप web browser में एक Domain का नाम लिखते हो जैसे www.hindime.net  इसको url भी बोला जाता है.

हर domain का address होता है. तो browser http के doamain को world wide web में धुंडने का request generate करता है. साथै साथ domain name को एक server ip address में convert करता है. जिसको वर्ल्ड वाइड वेब उस website address को server में search करता है. जब address उस domain को जिस server से host किया गया है अगर उसके page के साथ मैच होता तो वो page को वापस web browser के पास भेजा जाता है. जिसको आप अपने web browser में देख सकते हो. कुछ इस तरह से WWW काम करता है.

world wide web को चलाने के लिए आम तोर पर इन चार Technology का इस्तेमाल किया जाता है URL, Web Browser, HTTP और HTML का इस्तेमाल. इन सब के बिना world wide web exist ही नहीं करता.

Internet vs WWW

INTERNET के बारे में आप दुसरे लेख में पढ़ सकते हो लेकिन फिर भी ये internet, Network highway है. जहां users हर रोज बोहत सारा डाटा को आपस में net के जरिये exchange करते हैं. Internet को चलाने के लिए protocols की जरुरत पड़ती है जैसे HTTP, SMTP, FTP, TelNET. Protocols Rules होते है जो Network Govern करते हैं.

दूसरी तरफ जहाँ WORLD WIDE WEB Internet access करने का एक जरिया है. ये एक information sharing Model है जो internet से उपर है. ये कुछ Programs का इस्तेमाल करता है जिनका नाम है HTTP, Web Browser, HTML और WEB SERVER जिनके बारे में निचे बताया गया है. WWW और INTERNET में क्या अंतर है जान लेते हैं.

Internet vs WWW
 INTERNETWWW
1.internet की सुरुवात 1960 में हो गई थी1989 Tim Berners-lee इसको Invent किया था
2.Hardware से बना है .software.से बना है
3.Internet में server, Router, Bridge, tower, Satellite जैसे Hardware का इस्तेमाल करता हैWWW program, hypertext,protocol, webpage, text, Images का इस्तेमाल करता है
4.पहले internet का नाम ARPANET थासुरुवाती दिनों में WWW को NFSNET बोला जाता था
5.Internet IP Address का इस्तेमाल करता हैये HTTP का इस्तेमाल करता है.
6.Internet बिना WWW के भी चल सकता है.बिना internet के WWW exist ही नहीं है
7.Internet WWW का superset हैWWW  internet का subset है
8.internet में Computers को IP Address के जरिए खोजा जाता है.यहाँ Informtion को URL से Locare करता है

Web Server

web server एक  प्रोग्राम है. जब कभी भी user HTTP के जरिए एक वेबसाइट या एक Web page के लिए  request भेजता है. तो वह Server Request का Response भी HTTP के जरिए ही देता है. और वो Response कुछ और नहीं एक HTML का Page होता है. जैसे आप Google में कुछ Search किए तो google website का web server आपको बहुत सारे Result Show करता है. यही web server का काम है.  server का एक उदाहरण है एक computer जहां से एक वेबसाइट को host किया जाता है. हर वेबसाइट का web server रहता है

HTML

HTML का पूरा नाम है हा Hyper Text Markup Language. यह एक Language है जिसको इस्तेमाल करके एक website को design किया जाता है. हर एक webpage को HTML document भी बोला जाता है. इसी पेज को वर्ल्ड वाइड वेब में दिखाई देता है. जब एक web page  दूसरे web page के साथ link  होता है तो उसे hyperlink बोलते हैं. जितने भी web page आप इंटरनेट में देखते हो वह सब एक एक  HTML document है. HTML Document को run करने के लिए एक application की जरूरत पड़ती है जिसको web browser बोला जाता है. जिसके बारे में हम आगे बात करेंगे.

Webpage

यह भी एक पेज है. जिसको बनाने के लिए एक language का इस्तेमाल किया जाता है जिसको HTML मतलब Hyper Text Markup Language बोला जाता है. ये वेबसाइट का एक छोटा सा हिस्सा है. यह भी बोल सकते हो वेबसाइट webpages का collection है. इन webpages को access करने के लिए URL Address का इस्तेमाल किया जाता है. जिस page को आप अभी पढ़ रहे हो यह भी एक web page का उदाहरण है

Web Browser

Web browser के बिना तो World Wide Web कभी भी चल ही नहीं सकता. web ब्राउजर एक Software Program है या एक Application भी बोल सकते हो. जिसके जरिए हम वेब पेज या वेबसाइट को access करते हैं. आमतौर पर ब्राउज़र को वेबसाइट और वेब पेज को इंटरनेट में access करने के लिए ब्राउज़र का इस्तेमाल किया जाता है. Web Browser HTML Document को Human readable form में translate करता है. इसके कुछ उदहारण है Chrome, Mozila Firefox, Opera और Internet Explorer.

मेरी अंतिम राय इस लेख पे

तो दोस्तों आज की जानकारी काफी महत्वा पूर्ण है. हर किसीके मन में यही सवाल था ये  WWW क्या है (What is World Wide Web in Hindi) और कैसे काम करता है ये तो जान ही गए होंगे.इसके बिना Inernet अधुरा है. दुनिया के सारे web pages आपस में interlink रहते हैं. इन सभी के साथ साथ कुछ और सीखना है तो हमें बताए.

उमीद है ये लेख पसंद आया होगा, कैसा लगा आप जरुर निचे comment कर के बताइए. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे. और कोई सुझाव देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जिस्से हम आपके लिए कुछ नया कर सके. हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें. चलो बनायें Digital India जय हिंद, जय भारत, धन्यबाद.

23 COMMENTS

  1. हेलो सर,
    मैं आपसे पूछना चाहत हूँ की ब्लॉग के लिए कौन सा domain url अच्छा होता है।
    www.example.com या
    Example.com

  2. मेरे पास बहुत से प्रशन है जो मुंहे परेशान करते है।

    What is Individual selation, group and organization al relation, societal relation or global relation in new media ?in hindi

    I need help .

  3. sir मै जानना चाहता हु की digital marketing में career बनाने के लिए क्या seo की जरूत पड़ती है या नही ,और sir मै ये भी जानना चाहता हु की वेबसाइट design में career बनाना अच्छा है या seo में दोनों में से मै किस फील्ड को choose मै इस problems को solve नही कर पा रहा हु .

      • hi चन्दन sir नमस्कार जो आपने इतना अच्छा जानकारी career के बारे में दिया मै ये हमेसा देखता हु कि आपके blog के जितने भी ब्लॉगर है वो सभी जबाब बहुत ही बढ़िया देते है CM Sharma sir तो बहुत ही अच्छे है .

  4. बहुत ही उम्दा …. सुन्दर प्रस्तुति …. ऐसे ही लिखते रहिये और लोगों का मार्गदर्शन करते रहिये। 🙂 🙂

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.