Debit Card और Credit Card क्या है? इन दोनो में क्या अंतर है?

क्या आपके मन में Debit Card और Credit Card क्या है को ले कर confusion है? तो आज में वो confusion दूर करने वाली हूँ. साल नवम्बर में हुए नोट बंदी के बाद से लोगों के पास cash नहीं होने की समस्या सब ने देखी है. जरुरी सामान लेना होता था लेकिन उन्हें खरीदने के लिए हाथ में cash पैसे नहीं हुआ करते थे.

Cash के समस्या से बचने के लिए सरकार ने digital payment को जोर शोर से बढावा दिया और लोगों ने भी इस नयी तरकीब को अपनाना शुरू किया और हर जगह cashless payment का सिलसिला बढ़ने लगा. इसका फायेदा बहुत से लोगों को हुआ क्यूंकि अब pocket में cash लेने की समस्या दूर हुयी और कहीं भी कभी भी digital payment के जरिये हम आसानी से shopping कर सकते हैं.

Digital payment करने के लिए सबसे जरुरी चीज होती है bank में आपका खाता होना. अगर किसी व्यक्ति का bank में खाता नहीं है तो वो digital payment नहीं कर सकता क्यूंकि इस payment में पैसे bank में बने account से आते हैं. जब हम अपना account bank में खुलवाते हैं तो bank हमें एक plastic Card देता है जिसका इस्तेमाल हम किसी भी ATM machine में कर सकते हैं. इस ATM Card को Debit Card भी कहते हैं.

डेबिट कार्ड के जरिये हम online transactions कर पाते हैं. इस Card के अलावा एक और Card है जिसका इस्तेमाल भी हम ठीक Debit Card की तरह online payment करने के लिए कर सकते हैं, उसे हम क्रेडिट कार्ड कहते हैं.

इन दोनों Cards का इस्तेमाल हम एक ही काम करने के लिए करते हैं- digital payment, लेकिन यहाँ पर सवाल ये उठता है की आखिर इन दोनों Card के बिच में क्या अंतर है? अगर ये दोनों एक ही काम के लिए इस्तेमाल किया जाता है तो हम दोनों का इस्तेमाल क्यूँ करते हैं किसी एक को क्यूँ नहीं?

Debit Card - Credit Card Kya hai

Debit Card और Credit Card के बारे में तो आप सब जानते होंगे और आप इसका इसतेमाल भी करते होंगे. क्या आप सब Debit और Credit Card में क्या अंतर है इसके बारे में जानते हैं? अगर जानते हैं तो ये बहुत अच्छी बात है और अगर नहीं जानते हैं तो आज के इस लेख में हम Debit और Credit Card क्या होते हैं इन हिंदी और इन दोनों में क्या अंतर है इसके बारे में जान जायेंगे.

अनुक्रम दिखाएँ

डेबिट कार्ड क्या है (What is Debit Card in Hindi)

डेबिट कार्ड क्या होता है? Debit card एक ऐसा payment card होता है जिसका इस्तमाल अगर कोई user कुछ खरीदने के लिए करता है तब पैसे सीधे उस card से जुड़े हुए account से deduct या कट जाते हैं.

एक debit card basically एक card ही होता है जिसका इस्तमाल fund transactions करने के लिए किया जाता है. इसके बहुत से नाम होते हैं जैसे की plastic cash, bank card और ATM card, वहीँ इसके मदद से आप अपने savings account को आसानी से electronically access कर सकते हैं via ATMs.

वहीँ आप अपने convenience से इसमें पैसे deposit और withdraw कर सकते हैं, जहाँ पर आपको लम्बे lines में खड़े होने की कोई भी जरुरत नहीं होती है. वहीँ इसके इस्तमाल आप mobile banking और internet banking में भी कर सकते हैं.

जब हम bank में अपना account खुलवाते हैं तो bank से हमें Debit Card मिलता है जो हमारे account से जुडा हुआ रहता है. इस Card की मदद से हम ATM machine से पैसे निकाल सकते हैं. इसके साथ साथ online transactions और shopping कर सकते हैं, अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को पैसे transfer कर सकते हैं.

इसके अलावा जब आप बाहार किसी mall में या दुकानों में shopping करने जाते हैं तब भी आप वहां अपना Debit Card का इस्तेमाल भुगतान भरने के लिए कर सकते हैं. इसके लिए वहां पर आपको अपने Card का PIN नंबर देना होता है तभी जाकर आपका transaction complete होगा.

हम जब भी कुछ खरीदने के लिए या bank transactions करने के लिए अपने Debit Card का इस्तेमाल करते हैं तब पैसे हमारे account से कट जाते हैं और bank से आपके दिए गए नंबर पर उसी समय एक sms भी आ जाता है की आपके account में अब कितने पैसे बचे हैं. Debit Card का इस्तेमाल हम कहीं भी और कभी भी आसानी से कर सकते हैं.

डेबिट कार्ड कितने प्रकार का होता है?

Bank अपने customers को Debit Card की सुविधा देने के लिए Debit Card service provider कंपनियों के साथ जुड़ता है जो bank को Debit Card प्रदान करते हैं.

Debit Cards के प्रकार की बात की जाये तब वैसे Debit cards के कई अलग अलग प्रकार भारत में पाए जाते हैं. वहीँ उन्हें majorly classify किया जाता है technology के आधार में, payment platform के आधार में, और usage के आधार में.

I. Technology के आधार में

1. Contactless Debit Card– इन debit cards में जिस technology का इस्तमाल होता है उसे radio frequency identification (RFID) या near field communication (NFC) कहा जाता है. इसका इस्तमाल secure transactions करने के लिए किया जाता है. इसमें Cards के द्वारा Transactions बस एक tap में किया जाता है.

2. Magnetic Stripe Debit card–  इस technology में tiny iron based particles का इस्तमाल होता है एक magnetic band में. इसे swipe card भी कहा जाता है. वहीँ इसे आसानी से एक magnetic reading head के through स्वाइप किया जाता है किसी transaction के लिए.

3. Chip और Pin Debit card-  इस debit card में ज्यादा evolved version की technology का इस्तमाल किया जाता है. इसमें एक chip होती है जो की data को store करता है और transact करता है एक encrypted format में. वहीँ इसमें प्रत्येक transaction को पूर्ण करने के लिए PIN (Personal Identification Number) की जरुरत होती है.

II. Usage के आधार में

1. Prepaid Debit Card– ये card दुसरे debit cards के विपरीत किसी भी account के साथ link नहीं होती है. इस card को इस्तमाल करने के लिए आपको advance में ही इसमें पैसे load करने होते हैं.

फिर आप जब चाहें उस पैसों का इस्तमाल कर सकते हैं. सबसे common form का prepaid debit card होता है Forex (Foreign Exchange) Card जो की एक बहुत ही convenient तरीका होता है विदेश में पैसे खर्च करने के लिए.

2. International Debit Card– एक ऐसा debit card जिसका इस्तमाल आप विदेश में transactions करने के लिए करते हैं और साथ में पैसे निकालने के लिए भी वो भी international bank ATMs, ऐसे Debit Card को International prepaid Debit card कहा जाता है.

एक extra charge जिसे की Foreign Exchange Markup भी कहा जाता है उसे add किया जाता है total transaction value में. ये markup up to 3.5% तक हो सकता है transaction amount के. वहीँ Additional charges को pay करना ही पड़ता है जब आप अपने debit card का उपयोग कर foreign currency withdraw कर रहे होते हैं.

3. Virtual Debit Card– ये typical physical debit cards नहीं होते हैं बल्कि इन्हें आसानी से via phone और internet access किया जा सकता है online payments भरने के लिए, लेकिन वो भी केवल एक ही बार.

4. Business Debit Card – ये वो Cards होते हैं जिन्हें की केवल corporate people को ही issue किया जाता है वो भी केवल business वाले कामों के लिए.

III. Payment platform के आधार में

1. Visa Debit Card- ये एक ऐसा debit card होता है जिसे की Visa के द्वारा issue किया गया होता है. Visa एक payment platform है जो की based है North America से. ये cards offer करता है एक Verified by Visa (VbV) platform सभी online transactions के लिए.

2. Visa Electron Debit Card– इसे Visa debit card का बेहन भी कहा जाता है. इसकी जो थोड़ी अलग feature होती है वो ये की इसमें आपके account में funds available होना चाहिए जब आप इस card का इस्तमाल payement देने के लिए करते हैं, चूँकि इसमें कोई overdraft limit नहीं होती है.

3. Maestro Debit Card– इसे पुरे दुनिभर में master card का trademark के तोर पर जाना जाता है जिसमें की debit card PIN की जरुरत होती है किसी भी transaction को करने के लिए इसके इस्तमाल से.

4. Master Debit Card– ये एक ऐसा प्रकार का card होता है जो की प्रदान करता है secure और convenient access आपके funds तक.

ये दो प्रकार के होते हैं – Cirrus Debit card और Maestro Debit card.

5. RuPay Debit Card– एक ऐसा debit card जिसे की launch किया गया domestic card scheme of National Payments Corporation of India (NPCI) के अंतर्गत. ये support करता है online transactions और payments over the discover network.

इसके अलावा भी, debit cards को धातु (metal) के नाम से भी allot किया जाता है. उदाहरण के लिए, Gold debit cards, Titanium debit cards या Platinum Debit cards.

वैसे इन cards का उन धातुओं से कोई भी सम्बन्ध नहीं होता है बल्कि इन्हें इनकी benefits के हिसाब से नाम दिया गया होता है. वैसे इनकी benefits सभी banks के लिए अलग अलग होती है.

Debit Card काम कैसे करता है ?

Debits cards अक्सर customer के किसी particular bank account से linked होते हैं. Banks customers को प्रदान करते हैं debit cards, जब भी वो कोई नया savings, current या overseas accounts खोलते हैं.

एक debit card के मदद से कोई भी user बड़ी ही आसानी से चीज़े खरीद सकते हैं merchant outlets और online stores से. इसप्रकार के transactions को cashless transactions कहा जाता है क्यूंकि पुरे transaction के दौरान cash का बिलकुल भी उपयोग नहीं होता है.

जब एक debit card को swipe किया जाता है, तब पैसे directly ही customer के bank account से immediately transferred हो जाते हैं merchant के account में. आप कह सकते हैं की Instant payments वो भी instantly available cash से.

इसमें credit cards के विपरीत ही, आपको बाद में bill payments भरना नहीं पड़ता है बाद में बल्कि आप वहीँ उसी समय में ही पैसों का भुकतान कर देते हैं. वहीँ Debit card users को एक monthly statements प्राप्त होता है जिसमें की उनके द्वारा किये गए सभी transactions के विषय में लिखा हुआ होता है जिससे उन्हें उनके transaction को track करने में आसानी हो सके.

डेबिट कार्ड Apply कैसे करे?

ये सवाल की Debit Card Apply कैसे करें अक्सर बहुत से लोगों के द्वारा पूछा जाता है. ऐसा इसलिए क्यूंकि बहुत से लोगों को इस विषय में कोई भी जानकारी नहीं होती है. इसलिए चलिए आज इसी विषय में थोड़ी विस्तार से जानते हैं.

वैसे तो जब आप किसी Bank में कोई नया account बनाते हैं फिर चाहे तो Saving Account, Current Account हो या कोई और. तब ही आपको Passbook, check book के साथ साथ एक debit card भी प्रदान किया जाता है जिसे की आप ATM Card भी कह सकते हैं.

वहीँ अगर आपको Bank वालों ने ये Debit Card प्रदान नहीं किया है तब चिंता करने की कोई भी बात नहीं है क्यूंकि इसे आप आसानी से प्राप्त कर सकते हैं. चलिए जानते हैं कैसे.

Debit Card Apply करने के दो मुख्य तरीके होते हैं

1 ) Online Debit Card Apply करें
2 ) Offline Debit Card Apply करें

अब चलिए इन दोनों ही तरीकों के विषय में जानते हैं.

Online Debit Card Apply कैसे करे

Online Debit Card के लिए Apply करने के लिए आपको उस bank के official website पर जाना होगा, जिस bank की debit card आपके पास है. उदाहरण के लिए चलिए SBI Debit Card Online Apply कैसे करें के विषय में जानते हैं.

नया SBI Debit Card Online कैसे Apply करे?

Step 1 – SBI डेबिट कार्ड इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से अप्लाई करने के लिए आपको पहले SBI के इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल पर लॉग इन करना होता है. आप चाहें तो यहां क्लिक करके सीधा SBI के लोगिन पोर्टल पर पहुंच सकते हैं.

Step 2 – SBI इंटरनेट बैंकिंग पर लोगिन करने के बाद आपको एक DashBoard नजर आएगा जिसमें ऊपर की तरफ e-Services का बटन होगा. वहीँ आपको SBI Debit Card के लये अप्लाई करने के लिए आपको इस बटन पर क्लिक करना है.

Step 3 – e-Services के बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने जो डैशबोर्ड open होगा उसमें काफी सारे ऑप्शन होंगे. वहीं आपको ATM Card Services का ऑप्शन सेलेक्ट करना है.

Step 4 – ATM Card Services पर क्लिक करने के बाद आपके सामने 5 ऑप्शन मिलेगे जिनमें आपको नया डेबिट कार्ड अप्लाई करने के लिए Request ATM/ Debit Card ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.

Step 5 – Request ATM/ Debit Card पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक dashboard open हो जाएगा. यहां पर आपको अपना नाम और आप किस तरह का डेबिट कार्ड अप्लाई करना चाहते हो वह सिलेक्ट करना होता है.

यहां आपको कई प्रकार के डेबिट कार्ड सेलेक्ट करने का ऑप्शन मिलेगा लेकिन आपको अपनी जरूरत के अनुसार ही डेबिट कार्ड सिलेक्ट करना चाहिए. यदि आप अपने डेबिट कार्ड को केवल भारत में Online या offline उपयोग में लेना चाहते हो तो आपको Rupay Debit Card सिलेक्ट करना चाहिए.

और यदि आप अपने डेबिट कार्ड को विदेश में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने या फिर यूज में लेने के लिए अप्लाई करना चाहते हो तो आपको Global International Visa या फिर Master Card अप्लाई करना चाहिए.

SBI Debit Card का प्रकार सिलेक्ट करने के बाद आपको I Accept Terms & Conditions पर क्लिक करके सबमिट बटन पर क्लिक करना होता है.

Step 6 – अब आपके सामने आपका एड्रेस ओपन हो जाएगा यह एड्रेस वह एड्रेस है जिस पर आपका SBI Debit Card डिलीवर किया जाएगा.

Step 7 – अब आपको अपना Verification करना है इसके लिए आपके पास दो ऑप्शन होते हैं. पहला OTP की मदद से जो आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर (Registered Mobile Number) पर भेजा जाएगा. दूसरा आपका प्रोफाइल पासवर्ड. आप अपने अनुसार दोनों में से कोई भी ऑप्शन सेलेक्ट कर सकते हैं.

ये सभी प्रक्रिया को सही ढंग से कर लेने पर आपका डेबिट कार्ड अप्लाई हो जाएगा और अगले 10 से 15 दिनों में आपके रजिस्टर्ड एड्रेस पर आपको अपना Debit Card डिलीवर कर दिया जायेगा.

Charges की बात करें तब SBI नया Debit Card Apply करने के लिए बैंक आपसे Rs.350/- लेता है जो आपके अकाउंट से अपने आप ही कट जाते हैं.

Documents जिनकी जरुरत आपको Apply करने के दौरान पद सकती है ?

Proof of IdentityProof of Address
PassportTelephone Bill
PAN CardElectricity Bill
Ration CardAadhaar Card
Aadhaar CardRation Card
Voter’s ID CardRental Agreement
Driving License

Offline Debit Card Apply कैसे करे

यदि आपको Offline Debit Card Apply करना है तब इसके लिए आपको सीधे Bank को जाना होगा जहाँ पर आपका Account है.

वहां पर आपको सीधे Debit Card के Counter पर जाना होगा और उनसे Debit Card Apply करने का Form मांगना होगा.

Form के मिलते ही आपको वो सभी जरुरी details भर लेने होंगे की जिसकी जरुरत उस Form में होती है.

Form भरने के बाद आपको उसे Submit करना होता है. वहीँ एक बार Form submit हो जाये तब आपको 15 से 20 दिनों तक इंतजार करना होता है. Debit Card आपके द्वारा बताये गए Address में पहुंचा दी जाएगी.

बहुत से जगहों में आपको तुरंत ही Debit Card प्रदान कर दिया जाता है. वहीँ आपको Debit Card मिलने के बाद उसके भीतर में स्तिथ Pin Code के मदद से उसे activate करवाना होता है. इसकी सभी Steps वहां पर अच्छे ढंग से निर्देशित किया गया होता है.

एक चीज़ की आपको अपने Registered Mobile Number को अपने पास ही रखना होता है क्यूंकि Activation के दौरान आपके mobile पर OTP आ सकती है.

Debit Card लेने के फायेदे क्या हैं ?

अब चलिए Debit Card लेने के फायेदे के विषय में जानते हैं.

• Debit cards एक बहुत ही convenient विकल्प होता है cash का. इन्हें आसानी से पकड़ा जा सकता है और साथ ही आसानी से handle भी किया जा सकता है. चूँकि हमें हमेशा cash या cheque book अपने साथ लेने की जरुरत नहीं होती अगर हमारे पास एक debit card हो तब, वहीँ ये एक अभूत ही safe option होता है travelling करने के दौरान.

• Debit cards का इस्तमाल ATM से पैसा निकलने के लिए होता है और साथ में merchant transactions के लिए भी Point of Sale (PoS) terminals में. एक debit card ensure करता है instant transfer of funds और receipts of services का.

• जहाँ banks offer करती है exciting features जैसे की bonus points, cash back offers, free insurance coverage और एक बहुत से redeeming options सभी accumulated points के, ऐसे में debit cards आपके पुरे purchase experience को काफी rewarding भी बनाता है.

• वहीँ Debit cards हमारी खर्च करने की habit को सुधारता भी है क्यूंकि इसमें पैसे खर्च करने की account limits होती है. जो की हमें बेहतर budgeting और money management करने में मदद करता है चूँकि इसमें सभी transactions record किये जाते हैं.

• Debit card ज्यादा security प्रदान करता है और इसलिए ये fraud, theft और कोई भी misuse होने के chances को काफी कर देता है.

• इसमें आप अपने खर्चे को आसानी से track कर सकते हैं और साथ में SMS alerst का जरिये सभी transactions को जान सकते हैं.

क्रेडिट कार्ड क्या है (What is Credit Card in Hindi)

ये सवाल की क्रेडिट कार्ड क्या होता है अक्सर लोग नहीं जानते हैं. Credit कार्ड एक ऐसा Card होता है जिसके द्वारा धारक इस वादे के साथ वस्तुएं और सेवायें खरीद सकते हैं कि, बाद में वो इन वस्तुओं और सेवाओं का भुगतान करेगा.

आसान भाषा में कहें तब Debit Card की तरह Credit Card किसी bank account से जुड़ा हुआ नहीं रहता है. ये Card आपको किसी financial institution या bank से मिलता है जो लोगों को loan प्रदान करते हैं. यानि की पैसे उधार में देते हैं और इसके बदले में वो कुछ प्रतिशत interest rate भी उनसे भुगतान के वक़्त लेते हैं. वहीँ Credit Card लेने के फायेदे भी हैं.

हम online payment, shopping और fund transfer करने के लिए कर सकते हैं जैसा हम Debit Card का इस्तेमाल करते हैं लेकिन हम Credit Card का इस्तेमाल ATM machine से पैसे निकालने के लिए नहीं कर सकते हैं.

इसका कारण ये है की बिना किसी bank account के हमारे पास Credit Card in hindi होता है जिसके जरिये हम पैसे खर्च करते हैं और वो पैसे हमें bank या एक financial institution loan के रूप में पैसे प्रदान करता है.

Credit Card से पैसे इस्तेमाल करने की सीमा होती है यानि की जो bank आपको Credit Card प्रदान करता है उसने पहले से ही पैसे की limit set किया होता है जैसे की 1 महीने के लिए 100000 रुपये की सीमा हो सकती है.

कुछ कुछ Credit Cards में पैसे की सीमा कम भी होती है जैसे 15000, 20000 इत्यादि. Bank ये सीमा आपके कारोबार और आमदनी को देख कर उसी प्रकार से तय करती है जिससे की आप उनके loan चूका पाने की क्षमता रखते हों.

आप इस सीमा के अन्दर ही Credit Card से पैसे खर्च कर सकते हैं. महीने की आखिर में या फिर जब bank आपको तारीख देता है की हर महीने के इस तारीख को आपको वो सारे पैसे चुकाने हैं जितना आप ने Credit Card का इस्तेमाल कर खर्च किया है.

अगर अपने वो पैसे वक़्त पर नहीं चुकाए तो आपको खर्च किये हुए रक़म के साथ साथ जुरमाना भी भरना पद सकता है.

क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार का होता है?

सभी लोगों को एक समान credit card की जरुरत नहीं होती है. लोगों को उनके जरूरतों के अनुसार ही Credit Card लेना चाहिए. जहाँ कुछ को shopping करना पसदं है तो कुछ को travelling करना.

इसलिए आज के customer-centric market में banks और financial institution ने इसलिए एक बढ़िया ही solution निकाला है – एक credit card जो की आपकी सभी जरूरतों को पूर्ण करने में सक्षम होता है.

क्रेडिट कार्ड के प्रकार

वहीँ partnership दोनों card issuers और retailers के बीच में होने से इनकी categorization को और भी आसान बना दिया गया है. चलिए अब Credit Cards के प्रकार के विषय में जानते हैं.

Lifestyle Credit Cards

एक lifestyle credit card को आप “All-in-one” credit card भी कह सकते हैं जो की प्रदान करता है बहुत से privileges सभी categories में. फिर चाहे वो shopping हो या traveling, Rewards से cashback, entertainment से dining, आप सभी credit card में special offers और discounts enjoy कर सकते हैं.

वैसे ये Lifestyle Credit Cards की annual fee और joining fee high होती है, लेकिन इसके privileges जो की ये offer करती है उसके सामने ये कुछ भी नहीं होती है.

Shopping Credit Cards

जैसे की नाम से ही पता चलता है की – Shopping Credit Cards को design ही किया गया है shopaholics लोगों के लिए या यूँ कहे तो ज्यादा shopping करने वालों के लिए.

जहाँ कुछ cards आपको Online Shopping करने के लिए बढ़िया deals और discounts प्रदान करते हैं, वहीँ दुसरों को design किया गया है in-store shopping करने के लिए.

Travel Credit Cards

ये credit cards ज्यादातर air travel benefits ही प्रदान करते हैं, उसी लिए ये Airline Credit Cards सबसे ज्यादा उपयुक्त होते हैं frequent travelers के लिए.

ये features और benefits offered on the cards revolve around the air travel. Reward points से आप air mile conversion कर सकते हैं, free flight tickets, complimentary airport lounge access कर सकते हैं, और साथ में accelerated rewards भी प्राप्त कर सकते हैं air ticket booking में.

Reward Credit Cards

Rewards Credit Cards पर आपको rewards प्रदान की जाती है जब आप Credit Card का इस्तमाल करें किसी transaction में. इसमें Credit Card issuers आपको बहुत से ऐसे variety के redemption options प्रदान करता है जिससे की आप आसानी से उसका फायेदा उठा सकते हैं. इन options में gifts to air miles to cashback मुख्य है.

Reward Credit Card में आपको welcome rewards, bonus rewards, milestone rewards इत्यादि प्रदान किये जाते हैं वो भी reward points के हिसाब से. ज्यादातर cards में ये reward points की unlimited validity होती है.

Cashback Credit Cards

Cashback credit cards आपको cash back प्रदान करती हैं जब आप इन CashBack Credit Cards का इस्तमाल करें. ये सही नें एक बहुत बढ़िया money-saving benefit होती है.

जहाँ कुछ cards आपको cashback points के आकार में प्रदान करते हैं वहीँ कुछ ये cashback directly आपके account में ही credit का देते हैं.

Fuel Credit Cards

ऐसे बहुत से Credit Card Agency हैं जो की major fuel companies के साथ tie-up करी हुई हैं जैसे की Hindustan Petroleum (HP), Bharat Petroleum (BPCL), Indian Oil, etc., और ये credit card issuers आपको Fuel credit cards offer करते हैं जिसमें की कुछ partner-specific benefits होते हैं.

Fuel credit cards के इस्तमाल से आपको reward points मिलते हैं जब आप इन credit cards का इस्तमाल करें. वहीँ आपको fuel surcharge waiver facility, reward points redemption against fuel purchases में, और दुसरे value back benefits भी प्राप्त होते हैं, इससे आपकी fuel में काफी saving होती है.

क्रेडिट कार्ड Apply कैसे करे?

अब जब आप ये समझ ही चुके हैं की Credit Card क्या होते हैं अब चलिए जानते हैं की Credit Card Apply कैसे करें.

जैसे जैसे Credit Card की demand धीरे धीरे market में बढ़ रही है. ऐसे में banks और financial institutions ने credit card application को काफी आसान बना दिया है सभी customers के लिए. वैसे आप चाहें तो Credit Card apply कर सकते हैं वो भी मुख्य रूप से दो तरीकों से online और offline.

Credit Card Online Apply कैसे करें ?

आज के समय में आप आसानी से एक credit card प्राप्त कर सकते हैं अगर आप सभी criteria के लिए eligible हुए तब. आपको किसी bank के branch तक जाने की जरुरत ही नहीं है क्यूंकि आप credit card application को online ही apply कर सकते हैं.

आपको बस internet पर bank के web portal को जाना होता है और फिर apply करना होता है credit card के लिए जिसमें आपको कुछ basic details भरना होता है जैसे की name, email ID, contact number, income, address, इत्यादि.

अब आपको एक call आएगा credit card representative से bank के जो की आपको आगे की process में guide करने वाला होता है. वहीँ वो representative documents collect करने के लिए आपके घर तक भी आ सकता है यदि आप चाहें तब.

Credit Card Offline Apply कैसे करें ?

यदि आप Online Apply से इतने ज्यादा परिचित नहीं है तब आप directly bank तक भी जा सकते हैं और वहां पर अपने लिए Credit Card Offline Apply कर कर सकते हैं.

यहाँ पर आपको Bank जाकर Credit Card Representative से बात करना होता है. वहीँ वो representative आपको सभी credit cards के विषय में बताएगा जिसकी आपको जरुरत होती है.

फिर आपको credit card application form को भरना होता है और साथ में कुछ KYC documents भी प्रदान करने होते हैं जैसे की identity proof, address proof, इत्यादि. वहीँ आपको proof of income भी माँगा जा सकता है और साथ में दो passport sized photographs भी.

Credit Card बनाने के लिए किन Documents की जरुरत होती है ?

Credit Card बनवाने के लिए आपको कुछ Documents की आवश्यकता होती है. तो जान लेते है Credit Card बनवाने के लिए कौन से Documents ज़रुरी है.
•  Pan Card

•  Photos

•  Identity Proof (Aadhar Card, Voter Id)

•  Income Tax Return Receipt Or Fix Deposit In Your Account

•  Address Proof (Telephone Or Electricity Bill)

•  Age Certificate (Birth Certificate Or Voter Id Card)

Applicants चाहें तो किसी भी एक ID proof, address proof और income proof को submit कर सकते हैं. यहाँ नीचे मैंने सभी documents की एक list तैयार कर दी है.

Proof of IdentityProof of AddressProof of Income (For Self-Employed)Proof of Income (For Salaried)
PassportTelephone BillCertified FinancialsSalary Certificate
PAN CardElectricity BillRecent ITR StatementRecent Salary slip/s
Ration CardAadhaar CardPassportEmployment Letter
Aadhaar CardRation CardProof of business continuity
Voter’s ID CardRental Agreement
Driving License

Credit Card इतना महत्वपूर्ण क्यूँ होता है ?

अब चलिए जानते हैं की असल में Credit Card इतना ज्यादा महत्वपूर्ण क्यूँ होता है.
•  आपके short-term financial needs को manage करने के लिए – क्यूंकि बहुत समय में आपकी salary उतनी ज्यादा sufficient नहीं होती है.

•  Interest-free credit को enjoy करने के लिए – आप केवल interest तभी pay करते हैं एक credit card में जब आप due amount को ठीक समय में repay नहीं कर देते हैं.

•  Ease of use होता है – इसमें आपको Ready cash प्राप्त होता है sudden expenses करने के लिए.

•  वहीँ दुसरे perks भी आपको इसमें मिलते हैं – जैसे की Reward points, discounts , cash-backs, वहीँ कुछ air miles भी offer करते हैं और बहुत कुछ.

Credit Card के Features क्या हैं ?

Banks बहुत ही बेहतरीन features प्रदान करते हैं उनके credit cards में. ये features vary करते हैं की card holder के पास किस प्रकार का card हैं और उसने किससे वो card ली हुई है. वहीँ चलिए Credit Card के features के विषय में जानते हैं.

Reward Points Program का होना :
ज्यादातर credit cards में आपको reward points program देखने को मिल सकता है, जिससे की cardholders आसानी से reward points earn कर सकते हैं अपने प्रत्येक transaction में जिसे उन्होंने credit cards से किया हो.

वहीँ इन जमा हुई reward points को आप redeem कर सकते हैं बहुत से जगहों में. इनमें जो discounts और rewards आपको प्राप्त होता है उसे बैंक ही निर्धारित करती है. Card Members को कुछ minimum reward points earn करना होता है redemption से पहले.

Airport Lounge Access का होना :
ज्यादातर Credit Card में आपको Complimentary airport lounge access और Priority Pass Program की membership प्राप्त हो सकती है.

भले ही ये features आपको एक basic credit card, लेकिन basic credit card के ऊपर प्राय सभी cards में ये offers आप प्राप्त कर सकते हैं. लेकिन इस offer की एक समय सीमा होती है जिसके भीतर ही आपको इन्हें redeem करना होता है.

ऐसे feature से, members आसानी से free lounge visits का मज़ा उठा सकते हैं वो भी दोनों domestic और international airports में.

Fuel Surcharge Waiver प्राप्त कर सकते हैं :
ज्यादातर credit cards में आपको fuel surcharge waiver की facility प्राप्त होती है. इससे ये करीब 1% surcharge की छूट आपको प्रदान करता है जो की आपको typically सभी card transactions में pay करना होता है petrol stations में.

Insurance Coverage मिलता है :
कुछ premier cards में आपको comprehensive insurance policy प्रदान किया जाता है जैसे की air accident, life, lost baggage, lost card. वहीँ दुसरे cards में, ये insurance cover काफी limited होता है कुछ aspects के लिए ही सिर्फ.

Global Acceptance का होना :
आज के समय में ज्यादातर credit cards जिन्हें की भारत में issue किया जाता है वो सभी international cards होते हैं और इन्हें दुनिभर के प्राय सभी merchants के द्वारा accept किया जाता है.

Balance Transfer कर सकते हैं :
Credit cardholders अपने outstanding balance को दुसरे bank के credit card पर transfer कर सकते हैं. इससे आप आसानी से पैसे save कर सकते हैं वो भी बहुत ही कम rate of interest में. Banks बहुत से balance transfer options प्रदान करते हैं अपने cardholders को जिससे की वो amount को repay कर सकें एक monthly basis में.

EMI Conversion:
ये feature allow करता है credit card members को उनके credit card transaction को easy monthly instalments (EMI) में. जिससे की उन्हें पैसों का भुक्तान करने में बड़ी ही आसानी होती है.

ज्यादातर समय में ये plans काफी attractive interest rates के होते हैं और वहीँ different repayment tenures के साथ. वहीँ ये EMI conversion करने के लिए कोई दूसरा documentation करने की जरुरत ही नहीं होती है और ये बहुत ही instant भी होते हैं.

Lifestyle Benefits प्राप्त कर सकते हैं :
चूँकि ये बहुत से अलग अलग merchants के साथ जुड़े हुए होते हैं, credit card issuers अपने customers को attractive discounts प्रदान करते हैं और वहीँ offer करते हैं बहुत से lifestyle categories जिसमें की dining, shopping, travel, wellness, entertainment, इत्यादि.

Travel Benefits प्राप्त कर सकते हैं :
जिन लोगों को traveling करना पसंद है उनके लिए travel credit cards बहुत ही फायेदेमंद होती है क्यूंकि ये उन्हें travel सम्बंधित benefits प्रदान करती है.

ऐसी ही कुछ benefits जो की इन travel credit card offer करती है वो हैं air miles accrual और redemption करना उन्हें air tickets में, free travel insurance, discount offer करती है domestic और international flights में, complimentary lounge आप visit कर सकते हैं, वहीँ आपको hotel booking में भी discount प्रदान करती है.

Credit Card के Benefits क्या हैं ?

अब चलिए Credit Card के benefits के विषय में अधिक जानकारी प्राप्त करते हैं.

Welcome Gift का होना
ज्यादातर banks आपको नए credit card के साथ एक welcome gift प्रदान करती है जो की आपको उस card के साथ प्राप्त होता है. ये gift किसी भी प्रकार से हो सकती ही जैसे की bonus points के हिसाब से, gift vouchers, discounts, इत्यादि. वहीँ welcome gift भी differ करती है card और bank के हिसाब से.

Rewards Program
सभी credit cards में generally एक reward program होता है, जो की उन्हें allow करती है reward points earn करने में प्रत्येक transaction के दौरान उनके cards से.

वहीँ प्रत्येक transaction में जो आपको points प्राप्त होता है वो fixed होता है और ये differ करता है एक card से दुसरे में. इन points को आप redeem कर सकते हैं gifts के तोर पर जो की rewards catalogue में लिखे होते हैं. ये gifts कुछ भी हो सकते हैं जैसे की discounts, product, services, cashback offers, इत्यादि.

Fuel Surcharge Waiver
बहुत से banks आपको fuel surcharge waiver भी प्रदान करते हैं यदि आप उन्हें credit cards का इस्तमाल कर रहे हों. ये offer आपको तब available होते हैं जब आप fuel transactions करें.

Cashback Benefits का होना
कुछ ऐसे credit cards भी होते हैं जो की आपको cashback benefits प्रदान करते हैं. आपको कितना cashback प्रदान किया जाये ये निर्भर करता है की आपका provider आपको कितना प्रदान करता है.

Lifestyle Benefits
Cardholders आसानी से enjoy कर सकते हैं बहुत से lifestyle benefits के उनके credit cards पर. Lifestyle benefits में आते हैं dining, shopping, golf, wellness, entertainment, इत्यादि के privileges.

Travel Benefits
ये एक बहुत ही बड़ा कारण है की credit cards लोगों के बीच में इतने ज्यादा popular हैं. कुछ credit cards बहुत ही शानदार travel benefits प्रदान करते हैं अपने customers को. Travel benefits में आता है air miles, airport lounge access, travel insurance, airline offers, hotel offers, इत्यादि.

Airport Lounge Access
कुछ credit cards offer करते हैं complimentary airport lounge access अपने cardholders को. ये offer vary करता है एक bank से दुसरे में.

Add-on Cards
कुछ banks allow करते हैं उनके credit cardholders को add-on cards apply करने के लिए उनके immediate family members के लिए. वैसे ज्यादातर card issuers offer करते हैं add-on cards मुफ्त में, लेकिन कुछ इन add-on cards के amount के ऊपर limit लगते हैं.

Cardholders आसानी से सभी privileges का फायेदा उठा सकते हैं उन add-on cards में जो benefits की आपको आपके primary cards में प्राप्त होता है.

डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में क्या अंतर है?

अब आपको Debit Card और Credit Card क्या है ये समझ में आ गया होगा और आपको थोडा बहुत ये भी पता चल गया होगा की इन दोनों में क्या क्या अंतर हैं. अगर नहीं पता चला तो कोई बात नहीं मै आपको बता देती हूँ की इनमे क्या क्या अंतर हैं.

1 सबसे पहला अंतर तो ये है की Debit Card आपके bank के checking या savings account से जुडा हुआ रहता है और Credit Card किसी भी account से जुडा हुआ नहीं रहता.

2 Debit Card से आप जितने चाहे उतने पैसे खर्च कर सकते हैं जब तक आपका bank balance zero ना हो जाये और Credit Card से आप बस उतने पैसे खर्च कर सकते हैं जितना आपको bank के द्वारा cash limit दिया जाता है.

3 आप ने एक चीज जरुर mark किया होगा की सबके पास Debit Card मौजूद रहता है लेकिन Credit Card हर किसी के पास नहीं होता. ऐसा इसलिए है की Debit Card तो सबको bank में खता खोलने से मिल जाया करता है लेकिन Credit Card के लिए अलग से bank में apply करना होता है. Bank आपका monthly salary या व्यापार देख कर और बाकि सभी details को check करने के बाद ही Credit Card देने के लिए approved करता है.

4 Debit Card के मदद से हम ATM machine से जब चाहें तब पैसे निकाल सकते हैं लेकिन Credit Card का इस्तेमाल हम पैसे निकालने के लिए नहीं कर सकते हैं क्यूंकि इस Card का इस्तेमाल सिर्फ cashless payment करने के लिए किया जाता है.

5 Credit Card का इस्तेमाल payment करने के बाद आपको एक महीने के बाद उस पैसे को भरने के लिए हर महीने monthly bills आता है जिसमे आपके द्वारा किये गए सभी transactions का details मौजूद रहता है और आपको bank को कितने पैसे चुकाने हैं वो भी लिखा हुआ रहता है लेकिन Debit Card में ऐसा कुछ भी नहीं होता.
जब भी आप Debit Card के जरिये payment कर रहे होते हैं पैसे आपके account से तभी कट जाया करते हैं.

Credit Card के apply करने के बाद भी नहीं मिला हो तब क्या करें ?

अगर आपके Credit Card Apply करने के 7 से 15 दिनों के भीतर आपको नया Credit Card नहीं मिला है, तब ऐसे में आपको अपने Bank से संपर्क करना चाहिए.

वहीँ यदि आपको यदि एक notification प्राप्त हो की आपका credit card approve हो गया है तब भी आपको credit card प्राप्त नहीं हुआ है तब भी आपको एक बार अपने bank से जरुर संपर्क करना चहिये.

Credit Card Application Status Check कैसे करें ?

अलग अलग banks के अलग अलग तरीके होते हैं credit card application के, लेकिन उनमें से ज्यादातर के पास online facility जरुर होती है, जिससे की आप चाहें तो online credit card apply भी कर सकते हैं.

इस process में आपको सभी required documents और information bank को प्रदान करनी होती है. वहीँ एक बार application process complete हो जाये, तब आप अपनी application status को track भी कर सकते हैं ये check करने के लिए की उसे कितने दूर तक process किया गया है bank के द्वारा, जिससे आप उसे उस हिसाब से follow up कर सकें.

वैसे तो तीन सप्ताहों के भीतर ही प्राय सभी banks से credit card प्राप्त हो जाता है. वहीँ यदि उससे भी ज्यादा समय लगता है तब आपको अपने credit card की status जरुर चेक करनी चाहिए.

वैसे नीचे कुछ information दी गयी है जिसका इस्तमाल कर आप online credit card status check कर सकते हैं bank की official site पर :

• Application Number

• PAN Card number

• Form number

• Date of birth

Online Credit Card Application की status check कैसे करें ?

चलिए जानते हैं की Online Credit Card Application Status कैसे चेक करें.
• सबसे पहले bank की official website को visit करें.

• वहां पर आप एक tab नज़र आएगा जिसपर लिखा होगा ‘Track application’ या वैसे ही कुछ.

• उस application status पर click करने पर, आपके सामने एक window display होगा जिसमें आपको कुछ details भरने के लिए माँगा जायेगा जैसे की application form, PAN number इत्यादि.

• एक बार आपने सभी details भर दिया है, तब आपको click करना होगा status या enter tab पर.

• अब website आपको आपके Credit Card की Status को display कर देगी.

• वहीँ यदि आप चाहें तो अपने bank branch को call भी कर सकते हैं या bank branch को खुद भी जा सकते हैं अपने credit card application form की status को check करने के लिए.

वैसे customer care को call करने से पहले या Bank को जाने से पहले कुछ चीज़ों को पहले ही इक्कठा कर लें, ये आपके बहुत काम आ सकती है :
• आपकी application number या reference number जो की आपको प्रदान किया गया था application भरने के दौरान.

• आपकी mobile number जिसे आपने application में mention किया था.

• PAN card details.

• Date of birth.

Debit Card और Credit Card को Safe कैसे रखें ?

यदि आप भी दूसरों के तरह ही अपने Debit Card और Credit Card को online scammers से safe रखना चाहते हैं तब आपको कुछ ऐसे नियमों का पालन करना होगा जो की आपको इन scammers से रक्षा प्रदान करेगा.

अपने Bank Statements को बीच बीच में check करें
ऐसा इसलिए क्यूंकि कई बार ये देखा गया है की transaction की messages बहुत बार registered mobile पर नहीं आती है कुछ technical issues के कारण.

इसलिए बेहतर इसी में है की अपनी bank account को सप्ताह में एक बार review अवस्य करें. हो सके तो इसे एक आदत बना लें.

अपने PIN Number को protect करें
अपने PIN Number को कहीं पर लिखकर न रखें. या किसी के मांगने पर उसे किसी को न दें. इससे Cards का गलत इस्तमाल हो सकता है.

वहीँ cards का इस्तमाल उन्ही जगहों में करें जहाँ की आपके द्वारा enter किये गए PIN को कोई न देख रहा हो.

सही और popular online sites पर ही transaction करें
इन्टरनेट पर ऐसे बहुत सी sites हैं जो की fraud हैं और ये हुबहू original sites के तरह दिखती भी हैं. इसलिए जितना हो सके सही और popular websites पर ही अपने card द्वारा transaction करें.

Websites में https:// जो जरुर देखें. जहाँ पर “s” न हो वहां पर transaction न करें. क्यूंकि S का होना एक higher level की security प्रदान करती है.

अपने ATMs का इस्तमाल Bank के निकट ही करें
आजकल तो ATMs हर कहीं देखने को मिल जाते हैं. फिर चाहे वो subway stations, airports इत्यादि. इन जगहों में ऐसे बहुत से ओर लोग भी होते हैं जिनके पास ऐसे devices होते हैं जो की आपके cards के details को आसानी से intercept का store भी कर सकते हैं.

वहीँ ऐसे जगहों में surveillance cameras भी अक्सर कम ही होते हैं. इसलिए यहाँ पर चोरियों ज्यादा होती हैं. इसलिए सही जगह में ही अपने cards का इस्तमाल करें.

Financial Transactions के लिए Public Wireless Access का इस्तमाल न करें
कोई भी financial सम्बंधित काम के लिए आप हमेशा password protected wireless signal का ही इस्तमाल करें. क्यूंकि public wi-fi में अक्सर data theft होने के cases report हुए हैं.

यहाँ पर आपको बहुत से hackers मिल भी जायेंगे जो की बस नए victims के तलाश में होते हैं.

Cards चोरी होने पर Report तुरंत करें
अगर आपको पता चल जाये की आपका wallet चोरी हो चूका है जिसमें आपके सभी cards मेह्जुद थे. तब तुरंत ही अपने सभी cards को cancel करवाएं.

वहीँ किसी भी unauthorized transactions की तुरंत report करें.
ऐसे में आप अपने पैसों को चोरी होने से बचा सकते हैं. वहीँ हो सके तो एक police complaint भी कर लें, साथ में उस receipt को अपने पास रखें.

अपनी एक Security Profile बना लें
जब आप अपने security question तय कर रहे हों, तब उन्हें थोडा uncommon रखें क्यूंकि common questions को कोई भी guess कर सकता है. वहीँ Passwords में भी special characters और numbers का इस्तमाल करें.

Credit और Debit Card तो हमें बहुत सी advantages प्रदान करते हैं, वहीँ इन्हें इस्तमाल करने का risk भी उतना ही होता है. यदि सही ढंग से इन्हें इस्तमाल न किया जाये तब हमारे पैसों का नुकशान भी हो सकता है.

Conclusion

ये थी डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड क्या है से जुडी बातें, मुझे उम्मीद है की आपको समझ में आ गया होगा की Debit और Credit Card क्या है और इन दोनों में क्या अंतर हैं. साथ ही ये भी जानने को मिला की Credit Card in Hindi के फायेदे क्या हैं.

आज के time में हम सबके पास Debit या फिर Credit Card का होना बहुत ही जरुरी है जिससे हम digital payments आसानी से कर सकते हैं जब हमारे पास cash मौजूद ना हो. यदि आपको Debit Card क्या होता है सही ढंग से समझ आया होगा तब अपने दोस्तों को इसे जरुर share करें.

आशा करती हूँ की आपको ये लेख Debit Card in Hindi पसंद आएगा, इस लेख से जुड़े कोई भी सवाल आप पूछना कहते हैं तो निचे comment कर पूछ सकते हैं.

187 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here