JPEG क्या है और क्यों इस्तिमाल करना चाहिए?

जब बात Image की File Format की आती है तब हम JPEG को कैसे भूल सकते हैं. ये File format बहुत ही standard होती हैं. लेकिन बहुत से लोगों को ये नहीं पता है की JPEG क्या है? भले ही वो इस image format का बहुत बार इस्तमाल कर भी चुके होंगे लेकिन फिर भी उन्हें इसके विषय में कोई भी जानकारी नहीं होती है.

जहाँ Image File Formats में अभी बहुत से प्रकार आ चुके हैं, जिन्हें के images के storing और use के हिसाब से चुना जाता है. जैसे की अगर हमें images की detailed picture चाहिए तब हम raw formats का ही इस्तमाल कर सकते हैं, लेकिन ये बहुत ही बड़ी size की image होती है. ऐसे में JPEG के इस्तमाल से Images को compress किया जा सकता है बहुत ही कम जगह में store किया जा सकता है.

ऐसे बहुत से जगह होते हैं जहाँ की हमें images को चाहिए लेकिन उसके लिए space बहुत ही कम होती है, साथ में कुछ resolution भी चाहिए जिससे की image की main content visible हो. ऐसे ही स्थान में JPEG हमारे बहुत काम आता है.

इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को JPEG क्या है और इन्हें कहाँ इस्तमाल किया जाता है जैसे जानकारी के विषय में अपने article के जरिये आप तक पहुँचाया जाये. इससे आपको इस image की format में बारे में पूर्ण जानकारी प्राप्त हो. तो फिर बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की आखिर ये JPG क्या होता है.

अनुक्रम

जेपीईजी क्या है (What is JPG in Hindi)

JPG Kya Hai Hindi
जेपीईजी

JPEG का Full Form होता है Joint Photographic Experts Group. यह एक ऐसा group होता है जिसने की JPEG compression standard को create किया.

ये JPEG एक common type की image होती है जिसे आप Internet में आसानी से पा सकते हैं. इस term में एक type की compression को refer किया जाता है जो की image files को बहुत smaller बना देते हैं ‘RAW’ files की तुलना में जिसे की high-end digital cameras से खिंचा जाता है. इस type के image format में image को compress किया जाता है बिना उसके resolution को कम किये.

JPEG एक most commonly used format होता है photographs का. ये specifically अच्छा होता है color photographs के लिए या उन images के लिए जिसमें blends या gradients. लेकिन ये sharp edges के साथ ठीक नहीं है क्यूंकि इसमें थोड़ी बहुत blurring भी हो सकती है. ऐसा शायद इसलिए क्यूंकि JPEG एक lossy compression होता है digital photography के लिए.

इसका मतलब है की जब आप एक image को save करते हैं JPEG format में, तब compression के कारण image में slight loss of quality होती है. इसलिए, JPEG सबसे greatest format नहीं होती है image को बार बार edits या re-save करने के लिए. क्यूंकि प्रत्येक re-save से image की quality में slight loss जरुर दिखाई पड़ती है compression के कारण.

इसलिए अगर आप image में कम ही edit करते हैं तब JPEG Format आपके लिए बहुत बढ़िया होती है.

JPEG format में compression के कारण Image File की size बहुत ही कम होती है. साथ ही इसकी popularity के कारण इसे प्राय सभी programs में accept किया जाता है. ये JPEG बहुत ही ज्यादा popular होते हैं web hosting of images में, नए और average photographers के लिए, digital cameras के लिए. ऐसा इसलिए क्यूंकि high quality images को कम space में save किया जा सकता है.

क्यों JPEG एक RAW file से बेहतर होता है?

JPEGs बहुत ही smaller size के होते हैं RAW files की तुलना में, जिसका मतलब है की इन्हें आप आसानी से अपने दोस्तों को या रिश्तेदारों को email कर सकते हैं, साथ में इन्हें आप websites में या social media sites में upload भी कर सकते हैं.

RAW files केवल तभी useful होते हैं जब हमें photos को एक large size में print करना होता है, क्यूंकि इसमें picture की पूरी detail होती है जो की lost हो जाती है जब हम उस picture को computer screen में देखते हैं या छोटे size के image में print करते हैं.

कौन से Programmes से JPEG files को Open किया जा सकता है?

ज्यादातर image programmes आसानी से JPEG files को open कर सकते हैं. इसमें से जो सबसे commonly used होता है वो है Microsoft Windows Photos, ये एक default programme होता है जो की preinstalled ही Microsoft PCs में आते हैं.

आप चाहें तो दुसरे paid graphics programmes जैसे की Adobe Photoshop का भी इस्तमाल कर सकते हैं JPEG Photos को खोलने के लिए. या फिर Free Softwares का भी इस्तमाल कर सकते उन्हें open करने के लिए. प्राय सभी web browsers भी JPEGs को open कर सकते हैं.

कब JPEG को पहली बार create किया गया था?

इस Format को बनाने वाले group को सन 1986 में Form किया गया था. इस group ने इस format को submit किया और उसे approved किया गया सन 1992 में, तो हम कह सकते हैं की ये Internet के शुरुवाती दौर की बात थी.

कब हमें JPEG Format का इस्तमाल नहीं करना चाहिए?

ज्यादातर digital cameras automatically ही save करते हैं आपके photos को JPEGs Format में, जैसे की बहुत से graphics programmes भी करते हैं. लेकिन, अगर आप एक एक line drawing करते हैं और दुसरे graphic जिसमें textual/iconic graphics का इस्तमाल होता है, तब आपको इन्हें दुसरे Format में save करनी चाहिए जैसे की TIFF, GIF, PNG या RAW. ऐसा इसलिए क्यूंकि graphics जिसमें typically sharp contrast होते हैं pixels के बीच, और इन्हें अगर JPEG Format में save किया जाये तब image में graininess दिखाई पड़ सकती हैं. इन्हें आप avoid कर सकते हैं एक ‘lossless’ file format से, जैसे की मैंने आपको ऊपर बताये हैं.

कैसे एक JPEG Format को Identify करें?

JPEG Format की filename extension होती है .jpg या .jpeg. अगर आपके पास कोई photo है और उसका नाम है scenery तब आपको वो sceney.jpeg ही दिखाई पड़ेगा. JPEGs के दुसरे भी filename extensions होते हैं जैसे की .jpe and .jfif, वैसे इनका ज्यादा इस्तमाल नहीं किया जाता है.

JPED का Full Form क्या होता है?

JPEG का Full Form होता है Joint Photographic Experts Group.

JPEG या PNG – कौन सी Image Format बेहतर quality की Picture प्रदान करती है?

वैसे देखा जाये तो Images की बहुत सी type की File Format होती है जैसे की PNG, JPEG, GIF इत्यादि. ये सभी file formats बहुत ही बेहतर image quality प्रदान करती है. लेकिन अब सवाल आता है की कैसे पता करें की कौन सी File Form बेहतर है?

आप किसी File Format का कब चुनाव करें?

GIF format

GIF File Format में ये limited होती हैं 256 colors तक ही और ये एक lossless compression file format होती है, एक बहुत ही common choice Web में इस्तमाल करने के लिए. GIF एक बहुत ही बढ़िया choice होती है line drawings, text, और iconic graphics को छोटे file size में store करने के लिए.

PNG format

यह एक lossless compression file format होता है, जो की इसे एक बहुत ही common choice बनाता है Web में इस्तमाल करने के लिए. GIF के तरह ही PNG भी एक बहुत ही बढ़िया choice होती है line drawings, text, और iconic graphics को छोटे file size में store करने के लिए.

JPG format

यह एक lossy compressed file format होता है. जो की इसे एक बेहतर option बनाता है photographs को छोटे size में store करने के लिए BMP format की तुलना में. JPG एक बेहतर choice उन लोगों के लिए हैं जो की picture को compress करके रखना पसंद करते हैं कम size में. Line drawings, text, और iconic graphics को छोटे file size में store करने के लिए, GIF या PNG ज्यादा बेहतर choices हैं क्यूंकि ये lossless होते हैं.

JPEGs जहाँ photographs और realistic images के लिए बेहतर हैं. वहीँ PNGs line art, text-heavy images, और images जिनमें कम colours होते हैं, उसके लिए सही हैं.

JPEG के Advantages क्या हैं?

चलिए JPEG के advantages के विषय में जानते हैं.

1. इसमें high controlled degree of compression होती है. इसमें user independently ही select कर सकती हैं ratio quality/file size.

2. इसमें small file size बनाया जा सकता है image को compress कर.

3. इसकी format बहुत ही compatible होती है और इसे किसी भी browsers में correctly display किया जा सकता है, या किसी text और graphics programs में, या computers, tablets और mobile devices में भी.

4. ये बहुत ही suitable होता है full-colour realistic images के लिए जहाँ की बहुत सारा colour और contrast transitions होता है.

5. इसमें picture quality बहुत ही high होती है small degree of compression के साथ.

JPEG के disadvantages क्या हैं?

चलिए JPEG के disadvantages के विषय में जानते हैं.

1. इसमें image “fall apart” भी हो सकते हैं individual squares में – 8×8 pixel blocks में जब उन्हें squeeze किया जाता है तब. ये इसलिए होता है क्यूंकि compression algorithm में neighbouring pixels की analysis भी होती है, इसमें उनकी smooth colour होने के कारण – transitions बहुत ही harsh बन सकता है या just disappear भी हो सकता है.

2. JPEG बहुत ही कम suitable होती है text या monochrome graphics के साथ काम करने के दौरान जिसमें clear boundaries होती हैं.

3. इसमें format transparency को support नहीं करता है और templates, logos, buttons के दौरान ये बहुत ही जरुरी होते हैं.

4. Images को जितनी compress की जाती है उतनी ही Image की quality ख़राब होती जाती है.

JPEG को कहाँ पर सबसे ज्यादा इस्तमाल में लाया जाता है?

JPEG को अक्सर apply किया जाता है Full-Color images की processing और storage में जिसमें की realistic elements होते हैं जैसे की brightness और colour transitions. साथ में इस format का उपयोग Graphical Digital Content (photos, scanned copies of digitized pictures) की storing और transmitting के लिए किया जाता है.

ये बहुत ही convenient होता है Compressed Images की transmission के लिए Internet पर, क्यूंकि ये बहुत ही कम space लेता है बाकि formats की तुलना में. वहीँ JPEG एक ideal format होता है home photo storage, photo transmission में Internet के माध्यम से या उनके एक site में post करने के लिए.

JPG और JPEG में क्या अंतर हैं?

दोनों JPG और JPEG एक ही चीज़ होते हैं. ये एक प्रकार के file format होते हैं digital images को store करने के लिए. JPG, को originally JPEG कहा जाता है जिसका full form है Joint Photographic Expert Group. JPEG image के file name को .jpg या .jpeg कहते हैं. वैसे इन दोनों में कोई ख़ास difference नहीं है लेकिन बस इनमें इस्तमाल हुआ characters में ही अंतर है.

Conclusion

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख जेपीजी क्या है (What is JPG in Hindi) जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को JPG क्या होता है के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. यदि आपको यह लेख JPG का फुल फॉर्म क्या है पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

3 COMMENTS

  1. mujhe iss format ke bare me pahle se pata to tha pr apki post padhne se aisa laga ki vo jankari kam thi. apne kafi detail me bataya hai

  2. Jpej क्या है कैसे काम करता है आप ने बहुत अच्छे से बताया है इसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद लेकिन मेरे को थोड़ी सी हेल्प चाहिए भाई उम्मीद करता हु आप जरूर हेल्प करोगे।
    भाई जी मेरे को एडसेंस की ओर से 14 बार से भी ज्यादा बार डिसएप्रूवल का मैसेज आया जिसमे site down or unavailable का मैसेज आ रहा मैंने url भी सही दिया है please आप मेरे साइट को देखो मैं 3 मंथ से परेशान हु

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.