Online Marketing क्या है और कैसे करे?

आखिर ये ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है (Online Marketing in Hindi), इस विषय में सभी को जानना बहुत जरुरी है खासकर उन लोगों को जो की Online field में अपना career बनाना चाहते हैं या जो की अपना business को Online में और ज्यादा बढ़ाना चाहते हैं. तो अब बात उठता है की ये Online Marketing, normal या Offline marketing से किस प्रकार भिन्न है. देखा जाये तो ये भी एक प्रकार का Marketing है जो बस Offline के बदले Online में काम करता है.

यहाँ Avertisers को अपने advertisements को घर घर जाकर दिखाने की जरुरत नहीं होती बल्कि यहाँ इस काम के लिए Internet को इस्तमाल में लाया जाता है. जैसे की हम जानते हैं की Internet की reach कितनी ज्यादा है और ऐसे में दोनों Brands और Advitisers को इससे बहुत फायेदे होते हैं. तो आज में आप लोगों को Online Marketing क्या है, इसके प्रकार क्या है, इन सभी चीज़ों के विषय में पूरी जानकारी देने की कोशिश करूँगा, उम्मीद है की मेरी ये कोशिश पसंद आएगी. तो फिर बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की ये Online Marketing क्या होता है.

ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है (Online Marketing in Hindi)

Online Marketing Kya Hai Hindi

ये doubt बहुतों का है की सही माईने में Online Marketing क्या है. तो में आपको बता दूँ की Online Advertisement एक ऐसी Marketing Strategy है जहाँ की Internet का इस्तमाल एक मध्यम के तोर पर किया जाता है website traffic पाने के लिए और Marketing Messages को सही customers के पास पहुँचाने के लिए target किया जाता है. Online Advertising के इस्तमाल से Advitisers सही तरीके से अपने Targeted Customers तक पहुँच सकते हैं.

जैसे की हम जानते हैं की अब का दोर Online का दोर है और ऐसे में अगर किसी ब्रांड को अपने product को लोगों तक पहुँचाना है तब सबसे अच्छा तरीका है Online Promotion. लेकिन भारत में ज्यादातर लोग Online चीज़ों पर विस्वास नहीं करते इसलिए Online Marketing के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी है. चूँकि चीज़ों को online में display करने से ये ज्यादा लोगों तक आसानी से पहुँच सकता है और जिनको उन चीज़ों की जरुरत होगी वो इसके बारे में Online search कर भी पहुँच सकते हैं. इसलिए Online Marketing का महत्व अभी के समय में काफी बढ़ गया है.

सन 1990s से Internet को इस्तमाल करने वालों की संख्या बहुत मात्रा में बढ़ गयी है, जिसके कारण online advertising की exponential increase हुई है. धीरे धीरे ये छोटे बड़े organization में भी अपना विस्तार बढ़ा रही है. Online Marketing को Internet Marketing या Advertising के नाम से भी जाना जाता है.

Online Advertisement को कैसे ख़रीदा जाता है :

Online advertisement को खरीदने के मुख्य तिन tools हैं जिनके विषय में हम अभी जानेंगे.

  • Cost per Thousand (CPM):
    Advertisers को पैसों का भुकतान करना पड़ता है जब उनके messages को specific audiences के सामने expose किया जाता है.
  • Cost per Click (CPC):
    Advertisers को पैसों का भुकतान करना पड़ता है जब कोई user उनके ads पर click करते हैं.
  • Cost per Action (CPA):
    Advertisers को पैसों का भुकतान करना पड़ता है जब कोई specific action किसी customer के द्वारा लिया जाता है, जैसे की अगर कोई purchase हुई तो.

Online Advertisement के कुछ उदहारण है की जैसे Banner ads, search engine result pages, social networking ads, email spam, online classified ads, pop-ups, contextual ads और spyware.

Online Advertising के प्रकार

Online Advertising अपने उत्पत्ति से अभी तक काफी हद तक बढ़ गयी है, जहाँ पहले अगर हम advertisement की बात करें तो केवल static images ही हुआ करती थी जो की किसी website के top पर pops up किया करती थी. वहीँ अगर हम आज की बात करें तब हमें Online Advertise की एक wide variety देखने को मिल सकती है जिसे की हम इस्तमाल कर सकते हैं हमारी जरुरत के हिसाब से. यहाँ निचे मैंने इसी के विषय में पूरी जानकारी प्रदान करी है जिससे की आपको Online Advertising के types के बारे में जानकारी मिल सके.

1. Display Ads
ये Online advertising के original form हैं, ये वही visual ads हैं जो की third party websites पर appear होते हैं (usually वही जो की आपके contents से किसी न किसी तरह से link होते हैं) Display ads अपने basic form से काफी evolve हो गए हैं, अभी वो कुछ इसप्रकार से आ रहे हैं जैसे की :

  • Static images – ये वही basic banner और square ads होते हैं जो की आपके content के around दिखाई देते हैं.
  • Text – ये text ads होते हैं जिन्हें की algorithms के मदद से बनाया गया होता है और जिसे surrounding contents के सम्बंधित ही तैयार किया जाता है.
  • Floating banners – ये ads regular website’s content के ऊपर से float कर सकते हैं और screen के चारों तरफ भी move कर सकते हैं.
  • Wallpaper – ये मुख्यतः website के background में दिखाई देते हैं जो की पुरे page को cover कर लेते हैं.
  • Popup ads – ये नए windows के जैसे website content के सामने appear होते हैं और अगर कोई visitor इन्हें click करे तो ये main screen के सामने ही display हो जाते हैं.
  • Flash – ये moving ads के तरह होते हैं जिन्हें “flash” कहा जाता है और ये viewer को अलग अलग content दिखाते हैं.
  • Video – ये छोटे videads होते हैं जो की कई बार autplay हो जाते हैं और कई बार इन्हें play करना पड़ता है User के द्वारा अगर वो इसे देखना चाहे तो.

Display ads ज्यादातर affordable होते हैं. अगर आप किसी third-party site को directly contact करें तब वो आपको मेह्जुदा rates बता सकते हैं. ये rates sites tsite अलग अलग होते हैं. कुछ third-party site जैसे की Google Display Network, आपको allow करते हैं की जिससे आप demographic, geographic, contextual and/or behavioral targeting ads अपने site पर दिखा सकते हैं वो भी आपके audience के हिसाब से, मतलब की आपके audience को target कर जो की आपके products को देखना या खरीदना चाहते हैं.

2. Social Media Ads
अगर हम 2017 की बात करें तो एक survey से ये बात सामने आई है की Social Media commerce से करीब $190 billion की trade हुई है पुरे दुनिया में. ये एक ऐसा marketing arena है जो की केवल efficient ही नहीं बल्कि उतनी effective भी है. ये Display Ads से बहुत similarity रखता है, जहाँ से simple banner or image से लेकर auto-play videतक कुछ भी हो सकता है.

Social Media advertising बहुत ही अच्छा advertising है क्यूंकि यहाँ पर आप अपने audience को अच्छे तरीके से target कर सकते हैं. उदहारण के लिए Facebook में आपके पास बहुत से options हैं जैसे की age, region, interests, educational background इत्यादि.

यहाँ मुख्य रूप से दो प्रकार के Social Media advertisements मेह्जुद हैं:

  • Organic – जो की loyalty बनाती है और आपको अपने target audience से feedback प्रदान करती है, जिसे की हम word-of-mouth का एक नया version भी कह सकते हैं.
  • Paid – ये promoted posts से leverage प्रदान करती है और specific people तक पहुँचने में मदद करती है.
    यहाँ Target के लिए जी best platforms वो हैं:
  • LinkedIn B2B sales के लिए
  • Facebook display के लिए और and funnel marketing के लिए
  • StumbleUpon amazing और attention-grabbing content के लिए
    और अगर आपके पास अच्छा budget मेह्जुद है तब आप निचे दिए गए platform को भी चुन सकते हैं : –
  • Twitter
  • Google+
  • Pinterest
  • Instagram
  • Tumblr
  • Reddit

यहाँ पर आप खुद भी अपने Social Media campaigns तैयार कर सकते हैं या फिर आप किसी marketing agency के साथ काम कर अपने campaign बनवा सकते हैं.

3. Search Engine Marketing (SEM)
ये online paid advertising का सबसे भरोसेमंद marketing है. SEM काम करता है keywords के base पर – आप या दुसरे businesses आपके जैसे. यहाँ पर आप अपने keywords पर bid करते हैं search engines के मदद से ताकि आप अपने website को SERP (Search Engine Results Page) पर बेहतर rank कर सकें. सभी SEM ads जो की appear होते हैं Google, Bing और दुसरे search engines पर वो सारे text ads होते हैं. वो हमेशा से SERP के top और sides पर listed होते हैं. Paid ads या तो Pay Per Click (PPC) होते हैं या फिर Cost Per Thousand (CPM).

PPC

  • आपके bid जो की keywords और आपके results पर होते हैं वो अपने bid value के हिसाब से SERP के top पर appear होते हैं.
  • ये बहुत ही बेहतर best value package है क्यूंकि यहाँ पर आपको तभी charge किया जाता है जब लोग आपके ads पर click करते हैं.
  • इसके साथ इन्हें Campaign के दोरान track करना भी आसान रहता है.

CPM

  • यहाँ पर आपको एक flat rate charge किया जाता है प्रत्येक 1,000 impressions के.
  • इसीकारण ये आपके budget को आसान कर देता है और आपको एक number तो guranteed रहता ही है की जी की आखिर में show करेगा SERP पर.
  • यहाँ पर आपको loss भी हो सकता है अगर किसी ने भी आपके ads पर अगर click नहीं किया तब.
  • इसके साथ आप campaign को track या access नहीं कर सकते जब तक की आपका campaign ख़त्म नहीं हो जाता है.

आप SEM का इस्तमाल unpaid form में भी कर सकते हैं अपने website के keywords को optimize कर (इसे SEभी कहा जाता है). यहाँ Search engines आपके unpaid results को list करती है उसके relevance को base कर, तो अगर आप अपने site के SEको improve कर देते हो तब आपको कुछ hits Free में भी मिलती है अपने site के SEको सुधारने के लिए.

SEM के लिए जो best platform है वो है Google AdWords, ये आपको highly targeted campaigns बनाने में मदद करता है ताकि आप अपने Google AdWords campaigns से बहुत कुछ प्राप्त कर सकें. दूसरा जो अच्छा platform है वो है Bing, जो की AdWords की तुलना में कम अच्छा है.

4. Native Advertising
Native advertising वो sponsored listings होते हैं जिसे की आप अपने blog posts के आखिर में देख सकते हैं, आप Facebook feeds पर भी इन्हें देख सकते हैं और इनके दुसरे Social Media पर भी पाया जा सकता है.
इन pieces of content को उस platform के साथ integrate और camouflage किया जाता है जहाँ ये appear होते हैं. आप अपने Native Advertising को promote और post कर सकते हैं दुसरे networks जैसे की Adblade, Adsonar, Outbrain और Taboola पर.
Native Advertising के बहुत सारे प्रकार होते हैं जैसे :

  • In-feed
  • Search ads
  • Recommendation widgets
  • Promoted listings

5. Remarketing/Retargeting
एक बहुत अच्छा तरीका है अपने prouct को market करने के लिए उनके सामने जो की पहले से आपके prouct के विषय में बहुत कुछ जानते हैं की आप उन products को remarket करें. या फिर उसे retarget करें. ये Depends करता है की आप किन के साथ बात कर रहे हैं.

जब भी कोई लोग आपके website को visit करता है तब आप उनके ऊपर एक cookie डाल देते हैं जिससे की वो अगर internet पर जहाँ भी जाएँ तो उन्हें आपके ads ही देखने को मिलेंगे जो की उसे आपके products या service के विषय में याद दिलाते रहेंगे.

ये advertising का form काफी सस्ता है और अगर सही तरीके से किया जाये तब ये PPC के तुलना में काफी effective भी बन सकता है. ये automatically conversions को बढ़ा देता है क्यूंकि ये हमेशा लोगों को आपके products के बारे में याद दिलाता है जिन्हें की आपके विषय में पहले से ही जानकारी हो.

6. VideAds
ये तो हम सभी जानते ही हैं की YouTube ads सबसे ज्यादा popular होते हैं और well-known videos हैं, actually देखा जाये तो इसमें बहुत से प्रकार के formats, types और content options मेह्जुद हैं.

जैसे की आप यहाँ कुछ informational या educational content बना सकते हैं, वहीँ आप यहाँ How-tभी post कर सकते हैं. या तो आप अपने viewers के emotional strings को खींचने के लिए एक visual story भी बना सकते हैं. ये आपके branding के लिए सबसे उपयुक्त है अगर आपके पास ऐसे product या service मेह्जुद हैं जिसे की visually best demonstrate किया जा सकता है.

आप किसे भी चुनें लेकिन एक बात तो तय है की VideAds सबसे ज्यादा popularity gain कर रही है क्यूंकि वो फालतू के advertising को avoid करती है और इसके साथ बहुत सारे बहुत सारे youtubers का limited attention भी अपने और खींचती हैं.

एक बार आपने एक videतैयार कर लिए तो बस आप उसे यहाँ निचे दिए गए कुछ platform में post कर सकते हैं

  • YouTube/Google
  • Facebook
  • Twitter
  • Vimeo
  • Brightroll
  • YuMe
  • Hulu
  • Live Rail
  • Specific Media
  • Tube Mogul
  • Tremor Video
  • AOL
  • Auditude

7. Email Marketing
Email Marketing बाकि marketing की तुलना में cheaper, faster और effective form of advertising हैं.

ये एक बहुत ही अच्छा तरीका है customer loyalty को तैयार करने का और अपने sales को boost करने के लिए; जब भी आप कोई email campaign manager का इस्तमाल करते हैं उन्हें तैयार और भेजने के लिए तब वहां आप आसानी से उन्हें track कर सकते हैं और उन्हें monitor भी कर सकते हैं अपने ROI को देखने के लिए.

Email Campaign Managers:

  • MailChimp
  • Constant Contact
  • AWeber
  • ConvertKit
  • GetResponse
  • Campaign Monitor
  • Active Campaign

अगर आपको सही में email marketing में succeed करना है तब आपको पहले email address की list तैयार करनी होगी. इसके लिए आप quizzes का इस्तमाल कर सकते हैं, या फिर आप एक simple सा Newsletter sign-up तैयार कर सकते हैं अपने site में.

उसके बाद आप email campaigns send कर सकते हैं जो की केवल focus होगा promotions, discounts, features और content पर जिन्हें आपके अपने Blog पर post किया है. प्राय सभी emails short, sweet और tthe point होना आवश्यक है. एक concise message आसान बनता है अपने point को दूसरों तक पहुँचाने के लिए और conversions को बढ़ाने के लिए.

यहाँ एक चीज़ न भूलें की किसी भी region/country के spam rules को पहले से पढ़ लें और उसी हिसाब से आगे काम करें.

Online Marketing के Advantages

वैसे देखा जाये तो online marketing के कई advantages मेह्जुद हैं लेकिन यहाँ में आप लोगों को कुछ मुख्य advantages के बारे में बताऊंगा.

1.  Extensive Coverage का होना
यदि हम traditional marketing के साथ Online Marketing की तुलना करें तब इसमें हम बहुत ही ज्यादा Coverage पा सकते हैं. इससे हमारे पास Offline के तुलना में ज्यादा consumers मेह्जुद रहेंगे. चूँकि Online की coverage बहुत ही ज्यादा है तो ये बिना किसी geographical boundary के बहुत से लोगों तक आसानी से पहुँच सकता है. जो की Traditional Marketing नहीं कर सकता.

2.  Large Capacity Information का होना
ज्यादातर internet companies में Information को लेकर कोई भी restriction नहीं है, यहाँ आप जितनी चाहें उतनी pages की information consumers तक पहुंचा सकते हैं. जहाँ traditional marketing पर इसके ऊपर बहुत ही restriction होता है वहीँ यहाँ इसके ऊपर कोई भी restriction नहीं है.

3.  Sensory का सही इस्तमाल करना
यहाँ जैसे चाहें हम consumers के हिसाब से हमरे ads को बना सकते हैं, उदहारण के तोर पर अगर हम बच्चों के products पर कोई ad बनाना है तब हम Videads का इस्तमाल कर सकते हैं जो की targeted consumers को ज्यादा पसंद आएगा, ये चीज़ हम traditional marketing पर नहीं कर सकते हैं. क्यूंकि वहां हमारे पास ज्यादा option नहीं होते हैं.

4.  Real Time और Long lasting unity का होना
यहाँ पर manufactures और advertisers अपने products के मूल्य और उनके related information को कभी भी और कहीं भी बदल सकते हैं जो की Traditional Marketing में कर पाना बहुत ही मुस्किल है. इसके साथ यहाँ पर companies अपने consumers को लम्बे समय तक अच्छा support भी प्रदान कर सकती है.

5.  Accurate delivery का होना
Accurate delivery का मतलब है की Companies को promotional campaign शुरू करने से पहले ही ये अनुमान लग जाता है की कितने लोग इस product को खरीदने वाले हैं या कितना conversion rate रहेगा. जो की traditional marketing में अनुमान लगा पाना बहुत है मुस्किल बात है.

इसके साथ एक जो महत्वपूर्ण advantage है वो ये की ये quick promotion के लिए एक बहुत ही अच्छी जरिया है जहाँ की बिना की boundries के आसानी से चीज़ों को promote किया जा सकता है.

Online Marketing के Disadvantages

जहाँ इतने advantages मेह्जुद हैं वहां disadvantages का होना थोडा अजीब लग सकता है लेकिन इसे इनकारा नाह इजा सकता है. तो चलिए इनके बारे में और अधिक जानते हैं.

1.  सही consumers का चुनाव कठिन होना
ये तो बता पाना बहुत ही मुस्किल है की कोन से group के consumers का चुनाव करने से ज्यादा conversion मिलेगा. इसलिए marketers के लिए targeted consumers को ढूंड पाना बहुत ही कठिन काम है.

2.  Network Technology से ads को filter कर देना
आजकल ऐसे बहुत सारे software मिल जा रहे हैं जिसका इस्तमाल Consumers कर रहे हैं जो की ads को filter कर दे रहा है जिससे ये advertisers के पक्ष में कठिनाई पैदा कर रहा है और उन्हें उनके सही customers नहीं मिल पा रहे हैं.

3.  Marketing Skill का न होना
Network marketing के इस्तमाल से advertisers के भीतर से creativity कम होने में लग रही है क्यूंकि पहले लोग ज्यादा creative बनकर ज्यादा consumers को अपनी और आकर्षित कर रहे थे लेकिन अभी सभी आसान तरीका का इस्तमाल करना चाहता है और किसी को भी नए और creative ideas के बारे में सोचने में कोई दिलचस्पी नहीं है.

4.  Marketing Job का कम होना
चूँकि online marketing से products का promotion करना बहुत ही आसान हो गया है इसलिए इस काम के लिए अब ज्यादा लोगों की जरुरत नहीं रह गयी है. अब तो लोग खुद ही अपने products के campaign कर ले रहे हैं जिससे बहुत से लोगों के jobs पर आंच आ रही है और वो unemployed हो जा रहे हैं. ये उनके ऊपर ख़राब impression जमा रही है.

इसके साथ जो एक मुख्य disadvantage है वो ये की धीरे धीरे interactive advertising का field बढ़ रहा है इसलिए ये online advertisers के सामने नयी नयी challenges ला रहा है. जिन्हें की उन्हें पार करना है इसमें सफल होने के लिए.

Online Advertising का भविष्य

एक research से ये बात सामने आई है की विगत कुछ वर्षों में करीब करीब 92% users ने कहा है की Ads ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं किसी भी Brand के product या Service के promotion के लिए. तो उस हिसाब से ये पूरा clear है की अगर सही तरीके से promotion किया जाये Targeted audience के साथ तब बड़ी ही आसानी से conversion rate को बढाया जा सकता है. इससे consumers का experience भी ख़राब नहीं होगा और लोग उनके जरुरत के हिसाब से ads देखने को पाएंगे. इससे सभी लोगों जैसे की Brand Manufactures, Advertisers और Consumers के लिए फायेदेमंद है. और भविष्य में हमें Online Advertising के अलग अलग प्रकार भी देखने को मिल सकते हैं.

मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है (Online Marketing in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी दी और मैं आशा करता हूँ आप लोगों को Online Marketing के बारे में समझ आ गया होगा. मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है की मैं हमेशा अपने readers या पाठकों का हर तरफ से हेल्प करूँ, यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन Doubts का हल निकलने की कोशिश करूँगा. आपको यह लेख Online Marketing क्या है और कैसे करे कैसा लगा हमें comment लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले.

“ मेरा देश बदल रहा है आगे बढ़ रहा है ”

आइये आप भी इस मुहीम में हमारा साथ दें और देश को बदलने में अपना योगदान दें.

23 COMMENTS

  1. आपने marketing के बारे में काफी detail में और अच्छे से बताया. Nice

  2. Hello sir mera naam sheetal rastogi hai main aapse ye janna chahti hu ki kya mujhe apne blog youngestadda.com ke liye kisi company se traffic buy karna chahiye ya nahin kyunki mere blog par traffic bahaut kam hai meri daily sirf 30 se 40 dollars ki hi income ho rahi hai lekin website ke liye traffic purchase karne se kahin mera adsense block toh nahin hoga please help kijiye

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.