C Language क्या है और कैसे सीखे?

C Language क्या है और C Language कैसे सीखे को ले कर बहुत के मन में बहुत सारे प्रश्न है. यदि आपको एक बढ़िया Software Engineer बनना चाहते हैं तब उसके लिए जो सबसे important बात होती है वो होते है coding. क्यूंकि technical Interviews में आपको उनके experts theory question के साथ साथ Code लिखने के लिए भी पूछ सकते हैं. ऐसे में अगर आपके पास Programming की ठीक knowledge नहीं होगी तब आप इन interviews में आगे बढ़ नहीं करते हैं. वैसे प्राय तोर से इन interviews में basic programming language जैसे की C, C++ के सन्धर्व में questions पूछे जाते हैं. अब सवाल उठता है की क्या आपको मालूम है की ये C Language क्या है? किसी भी Language सीखने से पहले क्यूँ C programming को सीखने की सलाह दी जाते हैं? इसे कैसे सीखा जाता है? यदि आपके मन में भी ये सभी सवाल उत्पन्न होते हैं तब आपके लिए आज का ये लेख C Programming Language कैसे सीखे बहुत ही informative होने वाला है.

क्यूँ बहुत से लोगों ने खासकर छात्रों ने हमें programming languages के विषय में लिखने के लिए बोला जिसके फलस्वरूप आज मैंने सोचा की क्यूँ न इसकी शुरुवात C Language in Hindi से ही कर दी जाये क्यूंकि सभी Programming Languages का इसे जनक माना जाता है. यदि आपको भी नहीं पता इसके विषय में और साथ में आप ये भी जानना चाहते हैं की दुसरे modern programming languages के होते हुए भी हमें क्यूँ C language में program कैसे बनाये सीखना चाहिए, तब इस article को अंत तक जरुर पढ़ें. तो फिर आपके धैर्य की और परीक्षा न लेते हुए चलिए इसकी शुरुवात करते हैं और C programming की basics के विषय में जानते हैं.

सी लैंग्वेज क्या है (What is C Programming Language in Hindi)

C Language Kya Hai Hindi

C एक procedural programming language होता है. इसे initially develop किया गया था Dennis Ritchie के द्वारा सन 1969 से 1973 के बीच. इस मुख्य रूप से एक system programming language के तोर पर develop किया गया था, operating system के programs को लिखने के लिए. C language की main features हैं :- low-level access to memory का होना, simple set of keywords का इस्तमाल होना, इसकी clean style का होना, ये features C language को suitable बनाते हैं system programming जैसे की operating system या compiler development के लिए.

बहुत से बाद के languages ने direct तरीके से हो या indirect तरीके से हो C language से कई syntax/features लिया हैं. जैसे की Java, PHP, JavaScript और दुसरे languages के syntax सभी C language के ऊपर ही आधारित होते हैं. C++ को आप C Language का एक superset कह सकते हैं. ऐसे कुछ programs हैं जो की C में compile होते हैं लेकिन C++ में नहीं.

क्या कारण हैं की C Language एक professional language के हिसाब से इस्तमाल किया जाता है

चलिए उन कारणों के विषय में जानते हैं जिसके कारण की C Language को एक Professional Language के हिसाब से इस्तमाल किया जाता है.

  • ये बहुत ही Basic Language होने के कारण ही इसे सीखना बहुत ही आसान होता है.
  • ये Language बहुत ही Structured होता है.
  • इसके इस्तमाल से बहुत ही efficient programs लिखा जा सकता है.
  • ये आसानी से बहुत ही low-level activities को handle कर सकता है.
  • साथ ही इसे बहुत से computer platforms में compile किया जा सकता है.

C Programming के ऊपर आधारित पहली Book क्या है?

सन 1978 में, C Programming की सबसे पहली book “The C Programming Language”, को publish किया गया. Book की पहली edition में programmers को Landuage की informal specification के विषय में जानकारी प्रदान की गयी थी. इसे लिखा है Brian Kernighan और Dennis Ritchie ने, यह book बहुत ही popular बनी C programmers के बीच “K&R” के नाम से.

C Programming Language के Features क्या हैं?

वैसे तो C Programming Language के बहुत सारे Features हैं लेकिन यहाँ पर हम कुछ महत्वपूर्ण features के विषय में discuss करने वाले हैं.

यह एक Procedural Language होती है

C जैसे procedural languages में, predefined instructions की एक list को step by step follow किया जाता है. एक typical C program में एक या एक से ज्यादा procedures (जिन्हें की functions कहा जाता है) का इस्तमाल किया जाता है एक task को perform करने के लिए.

अगर आप programming में नए हैं, तब आप जरुर सोच रहे होंगे की यही एक तरीका है जैसे सभी programming language काम करते हैं. लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है क्यूंकि दुसरे programming paradigms भी होते हैं. एक ऐसा ही commonly इस्तमाल किया जाने वाला paradigm होता है Object-oriented programming (OOP) जो की allow करता है developers को objects create करने के लिए जिससे वो एक given task को solve कर सकें.

C Programs बहुत ही Fast होता है

नए languages जैसे की Python और Java ज्यादा features offer करते हैं (जैसे की garbage collection, dynamic typing) C programming की तुलना में. लेकिन इसमें performance low हो जाती है additional processing के कारण.

C language programmers को allow करती हैं Computer Hardware में direct manipulation करने के लिए. ये ज्यादातर high-level programming languages में मुमकिन नहीं होता है. इसलिए C को एक बेहतर choice माना जाता है programming सीखने के लिए.

Standard C Programs बहुत ही Portable होते हैं

इनकी एक tag line है जो की होती है “Write once, compile everywhere”. Standard C programs बहुत ही portable होते हैं, इसका मतलब यह है की programs जिन्हें की एक system (उधाहरण के लिए Windows 7) में लिखा गया होता है उसे किसी दुसरे system (Mac OS) में भी compile किया जा सकता है बिना कोई बदलाव किये.

Modularity का इस्तमाल

आप चाहे तो C Code के sections को libraries के form में store कर सकते हैं future use के लिए. इस concept को modularity कहा जाता है.

C अपने आप में ही बहुत कम काम कर सकता है. कहने का तात्पर्य यह है की C language की असली power इसकी stored libraries से आती है. C language में बहुत से standard libraries होते हैं common problems को solve करने के लिए. Suppose की, आपको कुछ display करना है screen में, तब इसके लिए आप अपने program में include कर सकते हैं “stdio.h” library जो की आपको allow करता है printf() function का इस्तमाल करने के लिए.

Statically Typed Language होती है

C एक statically typed language होती है. इसका अर्थ यह हैं की variable की type Compile time में check होती है, न की Run Time में. इससे जो सबसे बड़ा फायेदा होता है वो ये की error detection software development cycle दौरान ही हो जाती है. साथ में statically typed languages बहुत ही faster होती है dynamically typed language की तुलना में in general अगर हम बात करें तब.

बहुत से General purpose में

माना की C बहुत ही पुरानी language है लेकिन C का इस्तमाल बहुत से applications में होता है चाहे वो system programming हो या photo editing software. चलिए कुछ applications के बारे में जानते हैं जहाँ की C programming का इस्तमाल होता है :

  • Embedded Systems
  • Operating SystemWindows, Linux, OSX, Android, iOS
  • Databases – PostgreSQL, Oracle, MySQL, MS SQL Server
  • Other Uses – Network drivers में, Compilers, Print spoolers

C Language के बारे में कुछ Interesting Facts

1.  C को invent किया गया था एक operating system जिसका नाम है UNIX को लिखने के लिए.

2.  C language successor है B language का जिसे की introduce किया गया था early 1970s में.

3.  इस language को formalized किया गया सन 1988 में American National Standard Institute (ANSI) जे द्वारा.

4.  UNIX OS को totally C में लिखा गया है.

5.  अभी की समय में C सबसे ज्यादा popular और ज्यादा इस्तमाल किया जाने वाला System Programming Language है.

6.  ज्यादातर सभी state-of-the-art software को C में ही implement किया गया है.

7.  अभी के सबसे popular Linux OS और RDBMS MySQL भी C में लिखे गए हैं.

C Language कैसे सीखे (Basics of C Programming in Hindi)

केवल C Language ही क्यूँ यदि आपको कोई भी Language सीखना है तब उसके लिए पहले उस Language को समझना होगा जिसके लिए आप Online Sources जैसे की Websites, Blogs या Onlines Courses की मदद ले सकते हो वहीँ आप Offline Sources में आप Books या Tuturial Classes की मदद ले सकते हैं. निचे आपको YouTube का एक playlist मिलेगा, यहाँ आपको C language से software कैसे बनाये के बारे में पूरी जानकारी है.

चाहे आप कहीं से भी पढ़ लोग लेकिन याद रखें की जब तक आप खुद उन programms को अपने systems में run नहीं करते हैं और बार बार नए नए programms नहीं लिखते हैं तब तक आपके पढने का कोई फायेदा ही नहीं रह जाता है. इसके लिए आपको बार बार उन programms को लिखना होगा और practice करना होगा तब जाकर आप C language सही ढंग से सीख सकते हैं.

C Language का क्यूँ इस्तमाल किया जाता है?

कई बार आपके मन में भी आया होगा की क्यूँ C language का अभी तक भी इस्तमाल किया जाता है जब की market में बही हजारों प्रकार के Languages मेह्जुद हैं. आपका ये सोचना बिलकुल ही जायज है लेकिन इसके पीछे भी कुछ कारण है जिसके चलते C Language का अभी तक भी इस्तमाल किया जाता है.

C को initially system development काम के लिए इस्तमाल किया गया, मुख्य रूप से इन्हें Operating System Programs लिखने के लिए इस्तमाल किया जाता है. ऐसा इसलिए क्यूंकि C programming बहुत ही ज्यादा efficient होते हैं बाकिओं की तुलना में. यही वो कारण है की 40 साल से भी ज्यादा पुराना language को अभी तक भी इस्तमाल में लाया जाता है.

दूसरा कारण है Standard C programs बहुत ज्यादा portable होते हैं. ये source code जिसे की किसी एक Operating system में लिखा गया ही उसे दुसरे operating system में भी compile या run किया जा सकता है बिना किसी बदलाव किये.

एक और भी कारण यह भी है की ये एक बहुत ही बढ़िया language होता है programming सीखने के लिए. ऐसा इसलिए क्यूंकि अगर आपको C programming पता हो तब आपको ये समझ में आ जायेगा की ये programs कैसे काम करते हैं, साथ में आपके मन में आप एक mental picture भी बना सकते हैं की कैसे एक Computer काम करता है.

C को system development language के हिसाब से ज्यादा इस्तमाल किया जाता है क्यूंकि ये ऐसे code produce करता है जो की इतने ज्यादा fast run करते हैं जितनी की fast assembly language run करते हैं. इसलिए C को बहुत से जगहों में इस्तमाल किया जाता है जैसे की −

  • Operating Systems
  • Language Compilers
  • Assemblers
  • Text Editors
  • Print Spoolers
  • Network Drivers
  • Modern Programs
  • Databases
  • Language Interpreters
  • Utilities

Conclusion

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख C language क्या है और C language कैसे सीखे जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को C Language in Hindi के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. यदि आपको यह लेख C Programming Language क्या है हिंदी में पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

7 COMMENTS

  1. Mujhe C language sikhna hai, meine sirf 12 pass kee hai, ek company me job karta hu.
    per interested hu c language aur PHP sikhne k liye.

  2. Bahut hi shaandaar post!
    C- language ke bare me mujhe pata hi nahi tha mujhe sirf Javascript, HTML, CSS, Python etc. Ke bare me pata tha.
    Thanks

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.