Fuchsia OS क्या है और Android से कैसे अलग है?

क्या आप जानते हैं की Google की नयी Fuchsia OS क्या है (What is Fuchsia OS in Hindi) और क्यों ये Operating System इतनी ज्यादा सुर्ख़ियों में हैं? क्या सच में यह Android को replace कर सकता है? वैसे तो Google को नए नए OS बनाने में और साथ में उनके साथ experiment करने में बड़ा मज़ा आता है. शायद इसलिए उन्होंने अभी एक नए Operating System को बनाने में अपनी पूरी focus डाल दी है, और ये कोई नहीं बल्कि यह Fuchsia OS ही हैं. फिलहाल Google की दो OS, Android और Chrome OS बहुत ही ज्यादा popular हैं और successful भी. लेकिन फिर भी गूगल अपने नए project में अपना ज्यादा समय लगा रखा है. वैसे इस नए OS के विषय में बहुत से users को ज्यादा पता नहीं होगा इसलिए आज हमने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को Fuchsia OS क्या होता है के विषय में समझाया जाये. इससे आपको इस नए Os के बारे में पहले से ही पता चल जाये.

यह नयी OS दिखने में और सुनने में भी बहुत ही भिन्न लगता है यदि हम इसकी तुलना करें बाकि के mobile operating system से तब. लेकिन अभी भी इस नए operating system को लेकर बहुत सी चीज़ें साफ नहीं हैं. और इसलिए हमें इसे Official release होने तक इंतजार करना होगा. लेकिन मैं आपकी उत्सुकता को समझ सकता हूँ इसलिए मैंने Fuchsia OS के विषय में जो भी जानकारी उपलब्ध थी Internet में उसे आपके सामने प्रस्तुत करने के बारे में सोचा. तो बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की गूगल फ्यूशिया ओएस के बारे में.

गूगल फ्यूशिया क्या है (What is Google Fuchsia in Hindi)

Fuchsia OS Kya Hai Hindi

Fuchsia OS एक नया Operating System हैं जिसे की अभी पूरी तरह से बनाया तो नहीं गया है लेकिन ये अभी developing phase में हैं. इसे थोडा अलग बनाया गया है जिस कारण से ये थोडा भिन्न है Google के दुसरे Operating System जैसे की Android और Chrome OS से, और ये बिलकुल भी Linux based नहीं है. बल्कि ये Google के द्वारा बनाये गए एक नए kernel जिसे की “Magenta” कहा जाता है उसके ऊपर आधारित है. Google के अनुसार Magenta को मुख्य रूप से “modern phones और modern personal computers” को ध्यान में रखकर बनाया गया है, इसलिए ये कोई आश्चर्य बात नहीं होगी की आगे चलकर एक दिन हमारे smartphones में इस Fuchsia Os का इस्तमाल हो.

चूँकि Fuchsia को लिखा गया होता है Flutter SDK के इस्तमाल से, जो की run करता है Android में, Fuchsia की कुछ chunks को आसानी से Android device में run किया जा सकता है. Fuchsia के इस नए version को जो appear होता है उसे Armadillo कहा जाता है, और इसलिए इसमें home screen को पूरी तरह से reimagine किया गया है. सुत्रों के अनुसार ये जानने को मिला है की इस Os की screen, को basically present किया गया है एक बड़े scrolling list में, जिसमें एक profile picture होती है, साथ में date, आपकी city, और एक battery icon, इन सभी चीज़ों को center में place किया जा सकता है. वहीँ इसमें हमें “Story” cards देखने को मिल सकता है, या एक list सभी recent apps के. साथ में निचे आपको एक list of suggestions भी दिखाई पड़ सकती है, जो की Google Now के जैसे दिखाई पड़ती है.

इसके साथ आप चाहें तो इसमें recent apps को drag कर सकते हैं और उन्हें drop भी कर सकते हैं जहाँ आप चाहें उन्हें organize और personalize करने के लिए home screen में.

Fuchsia OS बनाने के पीछे Google का क्या मकसद है?

Google करीब कुछ वर्षों से अपने एक नए operating system के ऊपर काम कर रहा है, जिसमें उन्होंने वर्तमान के दो operating systems (जिन्हें अभी Mobile और Desktop Platforms में इस्तमाल किया जाता है) को इस नए Operating System से replace करने के विषय में चिंता कर रहा है. ये replacement जिसे की Fuchsia कहा जाता है, इसमें वो सभी potential है जो की आने वाले समय में आपके सभी devices जैसे की mobile, laptop, और desktop devices को एक दुसरे के साथ interact करने में सुविधा प्रदान करने वाला है.

अभी की बात करें तब company मुख्य रूप से दो operating systems, Android — जिसे की smartphones और tablets के लिए — और Chrome OS को, इन्हें Desktops और laptops में इस्तमाल किया जाता है. जहाँ इन दोनों products को अलग से market किया जाता है और उनके अलग से चलाया जाता है. इसीकारणवस Google एक जगह में ठीक से concentrate नहीं कर पता है, इसलिए उन्होंने सोचा की क्यूँ न दोनों ही Operating Systems को एक साथ incorporate कर दिया जाये, जिससे की आसानी से Android apps को Chrome OS में चलाया जा सके. इसी के लिए उन्होंने एक नए Os “Fuchsia OS” को create करने के लिए सोचा.

इससे Google आसानी से अपने दोनों system को बेहतर रूप से integrate कर सकता है. Fuchsia के आने से ये developers को enable करेगा दुसरे apps, programs, और tools को code करने के लिए जो की Google के सभी platforms में चल सकते हैं, बिना कोई Optimization के ही जो की अक्सर बहुत ही time-consuming process होता है. इसका ये भी मतलब होता है की, उदहारण के लिए coders अगर चाहें तो ऐसे messaging app को create कर सकते हैं जो की platform independent बन जाये और किसी भी smartphones, tablets, laptops, desktops, और यहाँ तक की smart home devices में भी आसानी से कार्य कर सकें.

Fuchsia किस प्रकार से Android और Chrome OS से भिन्न हैं?

Fuchsia में, Google एक पूरा ही नया Operating System बना रहा है. ये न तो Android जैसे होगा और न ही ये Chrome Os के समान. वैसे में आपको ये बता दूँ की ये कोई एंड्राइड या क्रोम ओस का update भी नहीं होने वाला है. Fuchsia को पूरी तरह से start से बनाया गया है जिसमें Google ने अपने top software enginners को काम में लगाया है, और जिससे Google चाहता है की इसकी पूरी software architecture को बदल दें.

जहाँ Android और Chrome OS दोनों Linux पर based हैं, वहीँ Fuchsia को एक नए microkernel बार based कर develop किया गया हैं और इस microkernel को भी Google ने खुद बनाया है. ये microkernel जिसके ऊपर Fuchsia की code based है उसे “Zircon” कहा जाता है और इसे पहले “Magenta” कहा जाता था.

जैसे की मैंने पहले ही ये बता दिया है की Fuchsia को “Android update” नहीं है, बल्कि Google ऐसे OS को बनाने में लगा है जो की Android Operating System से बहुत ही बेहतर हो और इसलिए उन्होंने इसकी security updates और voice interactions को काफी improve करने का सोचा है. Fuchsia की जो एक बहुत बेहतरीन advantage हैं Android OS के ऊपर वो ये की इसमें भी Apple के ही तरह, अब Google अपने OS updates और दुसरे security updates को directly भेज सकता है उन devices में जिसमें यह Fuchsia OS run कर रहा हो. इसके लिए उन्हें अब और OEMs और network operators के ऊपर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा.

जहाँ ज्यादातर ihone users के पास उनके phones में जल्द ही वो सभी update मिल जाते हैं जिन्हें की Apple अपने Operatins System के नए version में release करता है, जहाँ पहले केवल 10% Android Users से भी कम users को ही ये updates मिल पाता था. लेकिन अब इस नए OS के आने से Google को किसी के ऊपर और निर्भर करने की जरुरत ही नहीं, जिन्हें पहले device manufacturers और telecom carriers ही control करते थे.

FUCHSIA असल में किन Devices के लिए है?

वैसे सच कहूँ तो अभी तो ये किसी को भी नहीं पता है की Fuchsia को किन उपकरणों में इस्तमाल किया जाने वाला है. सूत्रों के अनुसार ये जानने को मिला है की Fuchsia एक नया प्रयास है Google के द्वारा जिससे वो अपने पुरे ecosystem को एक single operating system के तहत लाना चाहता है, जिसमें Fuchsia को वो अपने सभी devices जैसे की smartphones, smart speakers, laptops इत्यादि में run करना चाहते हैं — साथ में उस सभी जगहों में जो की Google के अंतर्गत आता है. कुछ सूत्रों के अनुसार ये भी जानने को मिला है की अगले 3 वर्षों के Fuchsia बहुत से smart speakers और दुसरे smart home devices में run करने वाला है, वहीँ बाद में ये बड़े devices जैसे laptops, computers में भी देखने को मिल सक्त है. बाद में ये Andorid को पूरी तरह से पछाड़ भी सकता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की Android को पहले Digital Cameras में Operating System के हिसाब से इस्तमाल करने के लिए बनाया गया था. वहीँ iPhones के launch होने के बाद, Android को बाद में Phones के लिए re-purposed किया गया. लेकिन Google Android के इस्तमाल को लेकर जो भी वादा किया उसे उन्होंने बखूबी निभाया. वहीँ Google को बहुत से परेशानियों का सामना करना पड़ा Android के लिए — उदहारण के लिए, Os के updates को roll out करते वक़्त सभी devices तक उसे पहुँचाने में काफी दिक्कत होती थी. लकिन Fuchsia से बहुत हद तक इन issues को solve किया जा सकता है.

अगर Fuchsia को Google सही रूप से implement कर दें तब smartphone की दुनिया में एक बदलाव देखने को मिल सकता है. Flutter SDK का इस्तमाल Fuchsia को code करने के लिए किया जाता है, इससे आसानी से Android और iOS apps के लिए coding की जा सकती है, इसलिए developers Flutter का इस्तमाल कर apps build कर सकते हैं जिन्हें की सभी smartphone operating systems में उपयोग में लाया जा सकता है.

FUCHSIA के RUMORED FEATURES क्या है?

Android को पहले Digital Cameras के OS के हिसाब से बनाया गया था. लेकिन बाद में इन्हें smartphones में भी इस्तमाल में लाया गया. ऐसे में Google ये देख सकता है की आने वाले समय में बहुत से smart devices में Android का इस्तमाल नहीं होने वाला है, क्यूंकि ज्यादातर चीजों में voice interaction का इस्तमाल होने वाला है. ऐसे में Fuchsia ऐसे बहुत से issues को solve करने में सक्षम हैं और ये Google को और भी बहुत opportunities आगे प्रदान करने वाला है.

Fuchsia में इसके अलावा बहुत से robust set of security features मेह्जुद हैं जो की Android में नहीं थे, साथ में इसमें encrypted user keys को भी software में in built कर दिया गया है जिससे की इसकी security को और भी tighten किया जा सके. Fuchsia बहुत ही बेहतर साबित होने वाला है Android की तुलना में जब बात बहुत से अलग अलग Screen Size को adapt करने की आती है, तब Fuchsia बहुत ही उम्दा है. इसके साथ ये future में सभी smart gadgets के साथ interlinked होने वाला है, वो चाहे doorbell हो या आपका स्मार्ट car. Google इस Fuchsia Os में Linux kernel को पूरी तरह से छोड़ दिया है जो की Android की जान हैं.

Fuchsia एक बड़ा ही tech unifier बनने वाला है. जहाँ iOS और MacOS केवल कुछ compatible devices में ही operate होते हैं, वहीँ सभी device Fuchsia के साथ compatible होंगे. इस आप एक hybrid के समान सोच सकते हैं जो की mobile-designed views के साथ साथ traditional desktop interfaces भी offer करती है.

इस बात से आप जरा भी परेशान मत हों की इस OS में दुसरे features को लाया गया है क्यूंकि Fuchsia अभी अपने early development में हैं, और ऐसे में समय के साथ इसमें काफी features add भी होने वाले हैं. आप बस हमारे इस article को save या bookmark कर लीजिये क्यूंकि यदि कोई भी नया update आया तब आपको इस article में ये देखने को मिल सकता है.

Google Fuchsia कैसे दिखने वाला है?

Fuchsia की actual design अभी development के phase में हैं. लेकिन इसे Pink + Purple की रंग में दिखाया गया है. इसकी development अभी जोरों सोरों से हैं. इसलिए final product अभी तक सही रूप से तय नहीं की है क्यूंकि अभी भी बहुत काम बाकि हैं. वैसे कुछ website ने इसके कुछ glimpses को अपने websites में दिखाया है. लेकिन इसे officially अभी तक release नहीं किया गया है. इन glimpses में user कैसे navigate करेंगे उसके ऊपर बताया गया है. इन्हें हम first look भी कह सकते हैं pre- release के पहले. इसकी home screen एक tab menu के तरह दृश्यमान होता है, वहीँ users इसे mobile view और desktop view के भीतर toggle कर सकते हैं button के click में.

Google Fuchsia कैसे काम करता है?

प्रत्येक Operating System के center में एक computer program होता है, जिसे की kernel कहते हैं. ये program उन सभी परिस्थितिओं को control करता है जिससे की OS run करता है इसके लिए वो CPU को instruct करता है की कैसे data को process किया जाये. जहाँ दोनों Android और Chrome OS Linux kernels के ऊपर based होते हैं, वहीँ Fuchsia एक नए microkernel जिसे की Zircon कहा जाता है उसके ऊपर based होता है.

इससे एक advantage ये है की अब apps को समय के साथ upgrad किया जा सकता है, जिससे कुछ programs पूरी तरह से obsolete नहीं होंगे जब whole OS को update किया जाये.

Google Fuchsia को कब Release किया जायेगा?

वैसे Google Fuchsia की कोई release date अभी तक तय नहीं की गयी है. अब तक हमने जो भी समझा है उससे ये मालूम पड़ता है की ये OS अभी अपने developing phase में स्तिथ है. इसे पुरे तरीके से full fledged release करने में अभी कुछ समय लग सकता है. सुत्रों के अनुसार इसे phase by phase release किया जायेगा, जहाँ पहले smart hearing devices के लिए इन्हें release किया जायेगा वहीँ बाद में दुसरे devices जैसे की Laptops और smartphones के लिए भी किया जायेगा. फिर में इसे आने में अभी 2 से 3 वर्ष बाकि हैं.

क्या Fuchsia सच में Android को Replace कर देगा?

Statistics ये show करती हैं Android अभी पूरी दुनिया में करीब 70% से भी ज्यादा SmartPhones में इस्तमाल किया जाता है. इसलिए इससे आप खुद ये अनुमान लगा सकते हैं की Android की चाहत कितनी ज्यादा हैं और साथ में Android कितनी अच्छी तरीके से User Friendly बन गया है. ऐसे में किसी भी company के लिए इसे जड़ से उखाड़ फेकना आम बात नहीं है, फिर वो चाहे Google ही क्यूँ न हो. वैसे ऐसा होगा भी या नहीं इस बात की भी कोई official proof नहीं है.

Google बस अब इस नए Operating System को develop करने में अपना ज्यादा समय व्यतीत कर रहा है. अभी की सोचें तो ये बिलकुल भी नहीं प्रतीत हो रहा है की Fuchsia Andorid को replace करने वाला है. चाहे कुछ भी बात हो जब तक एक Official declaration न हो जाये Google के तरफ से तब तक हम इसके विषय में कुछ भी कहना गलत होगा.

FUSCHIA की LATEST UPDATES

Fuschia ने इस बात की confirmation प्रदान करी है की ये Android apps को support करने वाला है.
शुत्रों से ये बात भी सामने आई है की Fuschia Android apps को Support करेगा. अब सवाल उठता है की कैसे यह Android Apps को Support करेगा. सुनने में आया है की एक नयी file को add किया गया है Android Open Source Project में. इस file में एक special version की ART को इसमें में add किया गया है. ART — या Android Runtime — ये essentially इस नए OS को allow करता है Android apps को run करने के लिए, और उसे compatible होने में मदद करता है.

Conclusion

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख गूगल फ्यूशिया क्या है (What is Fuchsia OS in Hindi) जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को Fuchsia OS की जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. यदि आपको यह लेखS क्या होता है हिंदी में सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

8 COMMENTS

  1. well done. nice information. Bhai meri site blogger par hai aur uski speed check krne par desktop ke liye to 98 show krta hai but phone ke liye 30 ke aas pass rhta hai jo ki bahut kam hai.. Speed kaise badhayen chrome devloper ka use karke. plz help

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here