EY ने लड़कियों के लिए STEM लर्निंग के लिए दिल्ली NCR के स्कूलों में टेक्नोलॉजी प्लेटफार्म किया लॉन्च

भारत ऐसा पहला देश बनने वाला है जो की launch करने वाला है एक global initiative, जो की प्रदान करेगा एक entertaining और gamified STEM learning experience, वहीँ ये exposure करीब 6,000 से ज्यादा लड़कियों को दिया जायेगा Delhi NCR में.

EY launches technology platform in Delhi NCR schools for STEM learning for girls

शुक्रवार को कंसल्टिंग फर्म EY ने EY STEM ट्राइब के डेवलपमेंट की घोषणा की है। जो 13-18 वर्ष की आयु की लड़कियों को STEM (विज्ञान, टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग और मैथमेटिक्स) करिकुलम में लगे रहने और उच्च ग्रोथ कैरियर्स को आगे बढ़ाने के लिए ट्राइबल प्लेनेट के साथ मिलकर एक मोबाइल प्लेटफॉर्म है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे, भारत वैश्विक इनिशिएटिव लेना वाला पहला देश है जो की दिल्ली NCR में 6,000 से अधिक लड़कियों को एक एंटरटेनिंग और गैमीफइड STEM लर्निंग का अनुभव प्रदान करेगा।

एक सिलिकॉन वैली पर बेस्ड कंपनी, ट्राइबल प्लेनेट के साथ कोलैबोरेशन से डेवलप्ड, जो इनोवेटिव प्लेटफार्मों और एसोसिस्टम्स को सोशल इम्पैक्ट प्रिऑरिटीज़ के आसपास वैश्विक सिटीजन्स को संलग्न करने के लिए डेवलप करती है। EY STEM ट्राइब प्लेटफार्म लड़कियों को उनके रूचि के आधार पर टॉपिक्स को चुनने में सक्षम बनाता है।

आपको बता दे, EY STEM ट्राइब डिजिटल प्लेटफॉर्म, EY की ग्लोबल महिलाओं के टेक्नोलॉजी मूवमेंट का एक हिस्सा है। जिसका उद्देश्य टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में जेंडर पैरिटी को तेज़ करना और एक बेहतर वर्किंग वर्ल्ड को बनाने के आर्गेनाइजेशन के उद्देश्य को मजबूती प्रदान करना है।

ये भी खबर है कि, भारत के दिल्ली NCR में लॉन्च के बाद, EY इसे यूनाइटेड स्टेट्स के स्कूलों में भी लॉन्च करने वाली है। जिसकी शुरुआत सिएटल और अटलांटा से होगी।

जानकारी के लिए बता दे, EY STEM ट्राइब मोबाइल ऐप एंड्रॉइड और iOS प्लेटफार्मों पर फ्री में उपलब्ध है। इस ऐप में क्लाइमेट परिवर्तन, स्पेस एक्सप्लोरेशन; टेक्नोलॉजी जैसे कि आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, 3D प्रिंटिंग और ब्लॉकचैन; भविष्य के लिए आवश्यक कार्य और स्किल्स; और STEM में महिलाओं की इंस्पिरेशनल स्टोरीज आदि शामिल है।

प्लेटफार्म पर STEM करिकुलम विश्व के प्रमुख एजुकेशनल इंस्टीटूशन्स के साथ विकसित किया गया है। पेरेंट्स और टीचर्स को भी इस प्लेटफार्म का एक्सेस होगा ताकि एसटीईएम को कैरियर चॉइस बनाने के रूप में एक्स्प्लोर करने के लिए लड़कियों को प्रोत्साहित किया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here