PM WANI योजना की जानकारी हिंदी में

भारत सरकार ने देश में wireless internet connectivity को बढ़ाने के लिए एक नए स्कीम PM WANI (Prime Minister Wi-Fi Access Network Interface) Scheme को लॉन्च किया है. PM WANI के द्वारा सरकार सभी लोगों तक इन्टरनेट की सेवा प्रदान करना चाहते हैं.

हाल ही में हमारे कम्युनिकेशन मिनिस्टर ने एक बहुत ही बढ़िया स्कीम PM WANI (Prime Minister Wi-Fi Access Network Interface) Scheme को लॉन्च किया है. इससे आने वाले समय में सभी लोग बहुत ही आसानी से इन्टरनेट की सेवा प्राप्त कर सकते हैं.

पिछले रविवार को इस framework को मंजूरी दी है जिससे की PM Wi-Fi Access Network Interface or PM WANI योजना के जरिये बड़ी ही आसानी से लोग public Wi-Fi networks का इस्तेमाल कर पाएंगे. वहीँ इसमें PDOs को किसी भी प्रकार की licence, registration, और fee देना नहीं पड़ेगा. वहीँ PDOs कोई भी हो सकता है फिर चाहे वो छोटे दुकान हो या कोई Common Service Centres.

pm wani scheme kya hai

यदि आप भी ये जानना चाहते हैं की PM WANI स्कीम क्या है और कैसे काम करता है तब आपको आज का यह आर्टिकल बड़े ध्यान से पढ़ना होगा. क्योंकि इसमें हमने पूरी तरह से सभी जरुरी जानकारी प्रदान करने की कोशिश करी है. तो बिना देरी के चलिए शूरू करते हैं.

पीएम वाणी योजना क्या है – What is PM WANI in Hindi

PM WANI स्कीम एक कोशिश है सरकार की जिसके द्वारा वो पुरे देश में wireless internet connectivity को बढ़ाना चाहते है जिससे की ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इन्टरनेट सेवा पहुँच सके. यदि आप PM WANI को अलग अलग करके देखें तो आपको मिलेगा की PM WANI असल में है Prime Minister Wi-Fi Access Network Interface (PM-WANI).

तो जाहिर सी बात है की इसका मूल उद्देश्य ही पुरे देश में इन्टरनेट की सेवा को और बढ़ाना है. PM WANI स्कीम की फ़्रेमवर्क में कुछ एलिमेंट्स शामिल है जिसमें आते हैं Public Data Office (PDO), Public Data Office Aggregators और App Providers.

PM WANI स्कीम का फुल फॉर्म क्या है?

PM WANI स्कीम का फुल फॉर्म है Prime Minister Wi-Fi Access Network Interface (PM-WANI).

PM WANI के फायदे

अब चलिए PM WANI Scheme के Key Features के बारे में जानते हैं.

Public Data Offices (PDOs): इन Public Data Offices को आप एक PCO या एक cybercafe के साथ तुलना कर सकते हैं — जिनका मूल उद्देश्य ही है की वो WANI compliant Wi-Fi access points को ठीक से establish, maintain, और operate करें जिससे की subscribers को सठीक रूप से broadband services (इन्टरनेट सेवा) प्रदान की जा सके.

ये PDOs या तो खुद internet प्रदान करेंगे या फिर वो कुछ लीज में भी ले सकते हैं दूसरे Internet Service Provider (ISP) से.

PDO Aggregators: PDO Aggregators (PDOAs) को भी set up किया जायेगा. इन PDO Aggregators का काम है की वो सठीक रूप से इतने सारे PDOs की authorisation और accounting को संभालेंगे.

App Provider: अब ये app provider ऐसे app develop करेंगे जिससे की वो register कर पाएंगे users और साथ में वो discover या खोज भी पाएंगे पास के PM-WANI compliant WiFi hotspots को आसानी से.

Central Registry: एक central registry भी set-up की जाएगी जो की maintain करेगी details सभी app providers, PDOAs और PDOs की. इस registry को handle किया जायेगा Centre for Development of Telematics (C-DoT) के द्वारा.

एक ग्राहक या customer को जो की access करना चाहें network को वो भी किसी एक PDO’s premise से, तब उन्हें केवल एक eKYC authentication के जरिये ही ऐसा करने की अनुमति मिलेगी.

PM WANI Scheme पर Narendra Modi जी का क्या राय है?

Prime Minister Narendra Modi जी ने इस PM-WANI scheme को ऐतिहासिक बताया. वहीँ उन्होंने ये भी कहा की ये आने वाले समय में पूरी He tech sphere को बदल के रख देगा और साथ में ये पुरे देश में wireless connectivity को भी काफ़ी बढ़ा देगा. अपने ट्वीट में उन्होंने कहा की PM-WANI से business में “ease of doing” और “ease of living” में काफ़ी बढ़ोतरी होगी.

ये scheme सभी दुकानदारों को सक्षम बनाएगी Wi-Fi service प्रदान करने के लिए. वहीँ इससे उनकी income को काफ़ी बढ़ोतरी मिलेगी और आज के नोजवान को आसानी से internet connectivity मिल पायेगी. ये हमारे Digital India mission को मजबूत करने में काफ़ी सहायक होने वाला है.

PM WANI Wi-Fi स्कीम कैसे काम करेगी ?

Public data office aggregators (PDOAs) के द्वारा public network set up की जाएगी जो की प्रदान करेंगे Wi-Fi service वो भी public data offices (PDOs) के माध्यम से पुरे देशभर में.

इससे broadband internet services को public Wi-Fi network के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुँचने में आसनी होगी. सरकार एक ऐसी app भी डेवेलोप करेगी जिससे की यूज़र्स को register किया जा सके और साथ में वो users आसानी से discover कर पाएं पास के WANI-compliant Wi-Fi hotspots को जो की internet service प्रदान कर रहे हैं.

किसी प्रकार की license fee प्रदान नहीं की जाएगी broadband internet services प्रदान करने के लिए. इससे इन public Wi-Fi hotspots का इस्तमाल ज्यादा से ज्यादा लोग करेंगे और इन्टरनेट ज्यादा लोगों को पहुँच पायेगी. एक ग्राहक बस eKYC authentication के होने के बाद ही नेटवर्क को access कर सकता है एक PDO के premise से.

आज आपने क्या सीखा?

सच में अगर ये यदि PM WANI स्कीम को ठीक रूप से इम्पलीमेंट किया गया तो इससे आने वाले समय में हमारे सभी नागरिकों को काफी मदद मिलने वाली है. वो लोग जिनके पास इन्टरनेट की सुविधा नहीं है वो आसानी से इसके जरिये इन्टरनेट प्राप्त कर सकते हैं.

मुझे आशा है की मैंने आप लोगों को पीएम वाणी योजना क्या है के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को PM WANI Scheme in Hindi के बारे में जानकारी मिल गया होगा.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. आपके इन्ही विचारों से हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिलेगा.

यदि आपको मेरी यह लेख PM WANI Wi-Fi scheme कैसे काम करेगी अच्छा लगा हो या इससे आपको कुछ सिखने को मिला हो तब अपनी प्रसन्नता और उत्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

6 COMMENTS

  1. hello sir

    mujhe yeh post achha laga but sir main apse dil se ek baat kaha chahta hu
    please reply

    sir jio ne apna ek naya hosting lauch jo bilkul free me 1/mon hostjio

    Aur yaha par kisi dost ko pata h toh batao

    check karo na ese

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here